News Nation Logo

दो अलग-अलग कोविड वैक्सीन लगवाने पर क्या होगा? यहां जानिए सब कुछ

Covid-19 Vaccine Latest News: ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में इस साल की शुरूआत में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन और फाइजर वैक्सीन की वैकल्पिक खुराक के प्रभाव की जांच शुरू हुई.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 15 May 2021, 09:05:58 AM
Covid-19 Vaccine Latest News

Covid-19 Vaccine Latest News (Photo Credit: IANS )

highlights

  • टीम ने 50 से अधिक आयु वर्ग के 800 से अधिक वयस्कों की जांच की
  • इन्हें चार सप्ताह के अंतराल पर मिश्रित वैक्सीन की खुराक मिली थी 

लंदन :

Covid-19 Vaccine Latest News: कोविड-19 के टीके की खुराक (पहले की तुलना में किसी अन्य ब्रांड की दूसरी खुराक) को मिश्रित करना सुरक्षित है, लेकिन लगातार सिरदर्द, ठंड लगना या बुखार जैसे हल्के दुष्प्रभाव हो सकते हैं. इस संबंध में लांसेट (Lancet) में प्रकाशित प्रारंभिक अध्ययन से यह जानकारी मिली. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में इस साल की शुरूआत में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (Oxford University-AstraZeneca) और फाइजर वैक्सीन (Pfizer-BioNTech) की वैकल्पिक खुराक के प्रभाव की जांच शुरू हुई. टीम ने 50 से अधिक आयु वर्ग के 800 से अधिक वयस्कों की जांच की और जिन्हें चार सप्ताह के अंतराल पर मिश्रित वैक्सीन की खुराक मिली थी.

यह भी पढ़ें: हैदराबाद की भारत बायोटेक पुणे में भी टीके का उत्पादन शुरू करेगी

जब चार-सप्ताह के अंतराल पर दिया गया, तो दोनों मिश्रित शिड्यूल (फाइजर-बायोएनटेक के बाद ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के बाद फाइजर-बायोएनटेक) ने दूसरी, 'बूस्ट' खुराक के बाद अधिक लगातार रिएक्शन देखा गया, जबकि गैर-मिश्रित शिड्यूल में इस तरह के रिएक्शन कम देखे गए. शोधकर्ताओं ने कहा, हालांकि, प्रतिकूल प्रतिक्रियाएं अल्पकालिक थीं और कोई अन्य सुरक्षा चिंता नहीं थी. विश्वविद्यालय के पीडियाट्रिक्स और वैक्सीनोलॉजी के एसोसिएट प्रोफेसर मैथ्यु स्नैप ने कहा कि इस अध्ययन के परिणामों से पता चलता है कि मिश्रित खुराक कार्यक्रम के परिणामस्वरूप टीकाकरण के बाद वर्क अबसेंस में वृद्धि हो सकती है, और स्वास्थ्य देखभाल श्रमिकों के टीकाकरण की योजना बनाते समय यह विचार करना महत्वपूर्ण है.

उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण रूप से, कोई सुरक्षा चिंता या संकेत नहीं हैं, और यह हमें नहीं बताता है कि क्या प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया प्रभावित होगी. हम आने वाले महीनों में इन आंकड़ों की रिपोर्ट करने की उम्मीद करते हैं. इस तरह से प्रशासित होने पर टीकों की प्रभावशीलता पर डेटा जून में प्रकाशित होने की उम्मीद है. चल रहे अध्ययन में यह भी आकलन किया जाएगा कि क्या पेरासिटामोल के शुरूआती और नियमित उपयोग से रिएक्शन कम होता है कि नहीं. उन्होंने यह भी नोट किया कि चूंकि अध्ययन डेटा 50 वर्ष और उससे अधिक आयु के प्रतिभागियों में दर्ज किया गया था, इसलिए संभावना है कि कम आयु समूहों में ऐसी प्रतिक्रियाएं अधिक प्रचलित हो सकती हैं. -इनपुट आईएएनएस

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 May 2021, 09:05:58 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.