News Nation Logo

कोरोना के बाद ये कैसी बला आई? कई राज्‍यों में अचानक मरने लगी पक्षी

कोरोना वायरस का कोहराम अभी खत्‍म भी नहीं हुआ है कि देश के अलग-अलग राज्‍यों से पक्षियों के मरने की खबरें आने लगी हैं. इससे हर कोई चिंता में पड़ गया है. ऐसी खबरें आने के बाद अब पक्षियों को बचाने की कवायद तेज कर दी गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 05 Jan 2021, 06:19:01 AM
bird flu

कोरोना के बाद ये कैसी बला आई? कई राज्‍यों में अचानक मरने लगी पक्षी (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस का कोहराम अभी खत्‍म भी नहीं हुआ है कि देश के अलग-अलग राज्‍यों से पक्षियों के मरने की खबरें आने लगी हैं. इससे हर कोई चिंता में पड़ गया है. ऐसी खबरें आने के बाद अब पक्षियों को बचाने की कवायद तेज कर दी गई है. कई राज्‍यों में प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है. हर साल ठंड में पशु-पक्षियों की मुसीबत बढ़ जाती है, लेकिन इस तादाद में मरने की खबर पहली बार सामने आई है. 

हिमाचल प्रदेश के पोंग डैम इलाके में 1400 से अधिक प्रवासी पक्षियों की रहस्यमयी तरीके से मौत की खबर है. इसके बाद कांगड़ा के जिला प्रशासन ने बांध के जलाशय में किसी भी तरह की गतिविधि पर रोक लगा दी है. भोपाल की हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज लैब को पक्षियों के सैंपल भी भेजे गए हैं.

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक कॉलेज में कौओं की मौत से सनसनी फैल गई है. इनमें से दो कौओं में 'एच-5 एन-8' वायरस का पता चला है. इसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम (आईडीएसपी) के अतिरिक्त संचालक डॉ. शैलेष साकल्ले इंदौर पहुंचे और पूरे मामले की समीक्षा की. 

उधर, गुजरात के जूनागढ़ के बांटला गांव में 53 पक्षियों की एक साथ मौत हो गई. हालांकि अभी तक इन पक्षियों की मौत के कारणों का पता नहीं चला है, लेकिन आशंका है कि बर्ड फ्लू के कारण इन पक्षियों की मौत हुई है. 

दूसरी ओर, राजस्थान के जयपुर समेत 7 जिलों में सैकड़ों कौओं की मौत की सूचना है. राज्‍य सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कंट्रोल रूम बनाया है और चार संभागों में विशेषज्ञों की टीम भी भेजी है.

First Published : 04 Jan 2021, 05:50:37 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.