News Nation Logo

कोविड-19 पर 79 प्रतिशत तक असरदार है टीका, एस्ट्राजेनेका के शोध में दावा

पिछले दिनों कई देशों से वैक्सीन लगवाने वाले लोगों में कथित तौर पर खून के थक्के जमने का अधिक खतरे को लेकर संभावना के बीच एस्ट्राजेनेका ने दावा किया है कि उसका टीका कोविड-19 संक्रमण पर 79 प्रतिशत तक प्रभावी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 23 Mar 2021, 09:55:47 AM
AstraZeneca vaccine

कोविड पर 79 प्रतिशत तक असरदार है टीका, एस्ट्राजेनेका के शोध में दावा (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • ब्रिटिश-स्वीडिश कंपनी एस्ट्राजेनेका का दावा
  • 'कोविड-19 पर 79 प्रतिशत तक टीका असरदार'
  • अमेरिका में 30 हजार लोगों पर अध्ययन हुआ

लंदन:

पिछले दिनों कई देशों से वैक्सीन (Vaccine) लगवाने वाले लोगों में कथित तौर पर खून के थक्के जमने का अधिक खतरे को लेकर संभावना के बीच एस्ट्राजेनेका ने दावा किया है कि उसका टीका कोविड-19 संक्रमण पर 79 प्रतिशत तक प्रभावी है. ब्रिटिश-स्वीडिश औषधि निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) ने कहा है कि उसके द्वारा बनाए गए कोविड-19 के टीके पर अमेरिका (America) में एक अध्ययन किया गया, जिससे प्राप्त आंकड़ों के अनुसार यह टीका 79 प्रतिशत तक असरदार है. आपको बता दें कि विश्वभर में एस्ट्राजेनेका टीके के प्रयोग को 50 से अधिक देशों ने मान्यता दी है. हालांकि अमेरिका में अभी इस टीके के उपयोग की अनुमति नहीं है.

यह भी पढ़ें : नई खोज: आईआईटी प्रोफेसर ने रोग में लिपिड्स की भूमिका पर किया अध्ययन

एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) की ओर से कहा गया कि अमेरिका में 30 हजार लोगों पर अध्ययन किया गया, जिनमें से 20 हजार को टीका लगाया गया, जबकि बाकी को टीके की 'डमी' खुराक दी गई. अध्ययन (Study) के नतीजे बीते दिन यानी सोमवार को घोषित किए गए. एस्ट्राजेनेका के बयान में कहा है कि उसका टीका कोविड-19 (Covid-19) को रोकने में 79 प्रतिशत तक प्रभावी है. जबकि इस रोग को गंभीर होने से रोकने में 100 फीसदी तक असरदार है.

यह भी पढ़ें : हल्का तनाव मस्तिष्क के लिए अच्छा है, गुजरता है बेहतर जीवन

वहीं शोधकर्ताओं ने कहा कि टीका सभी उम्र के लोगों पर असरदार है, जो कि इससे पहले अन्य देशों में हुए अध्ययन में साबित नहीं हो पाया था. इस अध्ययन के प्रारंभिक नतीजे, उन आंकड़ों में से एक हैं, जिन्हें एस्ट्राजेनेका द्वारा खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) को सौंपना है.

यह भी पढ़ें : कोविड मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने के दौरान स्ट्रोक लगने का खतरा ज्यादा : शोध 

इसके बाद एफडीए की सलाहकार समिति, टीके के आपातकालीन उपयोग की अनुमति देने से पहले सार्वजनिक तौर पर साक्ष्यों पर चर्चा करेगी. हालांकि वैज्ञानिक, अमेरिका में हुए अध्ययन के पूरे नतीजे आने का इंतजार कर रहे हैं ताकि यह पता चल सके कि यह टीका कितना प्रभावी है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Mar 2021, 09:55:47 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.