News Nation Logo

जल्दी सोना भी होता है नुकसानदेह, बढ़ सकता है हार्ट अटैक का खतरा, शोध में चौंकाने वाला खुलासा

जल्दी सोना आपके लिए कितना सही है, कितना नुकसानदेह, एक शोध में इस पर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. अध्ययन में पता चला है कि जल्दी सोने की वजह से आपके सेहत पर खतरनाक असर पड़ सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 26 Feb 2021, 09:18:16 AM
sleeping

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कहा जाता है कि जल्दी से सोना और जल्दी से जागना, मनुष्य को स्वस्थ धनवान और बुद्धिमान बनाता है. इस बात को आपने अपने बचपन से लेकर अब तक कई सुना होगा. जल्दी सोने और जल्दी जागने के लिए हमारे माता-पिता ही नहीं, डॉक्टर्स भी अमल करने के लिए कहते हैं. हालांकि यह आपके लिए कितना सही है, कितना नुकसानदेह, एक शोध में इस पर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. अध्ययन में पता चला है कि जल्दी सोने की वजह से आपके सेहत पर खतरनाक असर पड़ सकता है. यहां तक की जल्दी सोने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बहुत अधिक होता है.

यह भी पढ़ें : बदलते मौसम में अटैक करता है सर्दी-जुकाम, इन घरेलू नुस्खों से पाएं तुरंत राहत

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेडिकल जर्नल स्लीप मेडिसिन में इस शोध को प्रकाशित किया गया है. इस शोध में पता चला है कि रात 10 बजे से पहले सोना स्वास्थ के लिए खतरनाक है. इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा भी काफी होता है, जो मृत्यु को आमंत्रित करता है. अध्ययन में यह भी पाया गया है कि देर से सोने से भी आपकी सेहत बिगड़ सकती है. इससे मेटबॉलिज्म से जुड़ी बीमारियां और जीवन शैली संबंधी विकार होने का खतरा रहता है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जल्दी सोने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक से मौत का खतरा तकरीबन 9 प्रतिशत तक बढ़ सकता है. स्लीप मेडिसिन में शोधकर्ताओं ने लिखा कि 21 से ज्यादा देशों में मरने वाले 5,633 लोगों की मौत के बाद इसकी जांच की गई, जिसमें सामने आया कि इनमें से 4,346 मौतों की वजह हार्ट अटैक और स्ट्रोक थी.

यह भी पढ़ें : ब्लड प्रेशर और वजन को रखना है कंट्रोल, करें लाल केले का सेवन, मिलेंगे और भी लाभ

रिपोर्ट्स के अनुसार, इस स्टडी का हिस्सा रहे एक डॉक्टर ने बताया कि हमने सोने और घटनाओं के जोखिम के बीच यू शेप का तालमेल देखा. जिसमें पाया गया कि जिन लोगों के सोने का समय रात 10 बजे से मध्य रात्रि के बीच का था, उनके लिए हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा काफी कम था. डॉक्टर ने बताया कि ये खतरा उन लोगों के लिए भी था, जो रात 9 बजे से रात 1 बजे के बीच सोते हैं. उन्होंने बताया कि ये बात भी सामने आई कि मृत्यु को आमंत्रित करने वाले हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा सबसे ज्यादा उन लोगों को होता है, जो शाम को या शाम 7 बजे से पहले सोते हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Feb 2021, 09:18:16 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.