News Nation Logo

अमेरिका में फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत, बीते 24 घंटों में 3 हजार मरे

अमेरिका में बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण से 3 हजार मौतों के बीच फाइजर कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत मिल गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 12 Dec 2020, 10:19:23 AM
America Pfizer Vaccine

तकनीकी रूप से इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत अंतरिम ही है. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

वॉशिंगटन:

अमेरिका में बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण से 3 हजार मौतों के बीच अमेरिकी कंपनी फाइजर और जर्मन फार्मा कंपनी बायोएनटेक द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत मिल गई है. गौरतलब है कि अमेरिका में कोरोना का कहर दुनिया भर में सबसे ज्यादा है. आंकड़ों के अनुसार अमेरिका 15.5 मिलियन लोग कोरोना की चपेट में आए हैं और यहां इस बीमारी से लगभग 2 लाख 92 हजार लोगों ने जान गंवाई है. 

फाइजर के इमरजेंसी में इस्तेमाल के साथ ही ट्रंप सरकार ने वैक्सीन बनाने वाली एक अन्य कंपनी मॉर्डना से कोरोना के 100 मिलियन कोरोना वैक्सीन खरीदने का फैसला किया है. शुक्रवार को अमेरिकी सरकार की एक सलाहकार समिति ने फाइजर के वैक्सीन की इमरजेंसी इस्तेमाल इजाजत की अनुमति दे दी. इस मुद्दे पर अमेरिका में आठ घंटे तक लंबी बहस चली. इस दौरान सलाहकार समिति के सदस्यों ने 4 के मुकाबले 17 वोटों से वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत दी. 

हालांकि तकनीकी रूप से देखें तो फाइजर के वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मिली इजाजत अंतरिम है. कंपनी को अमेरिका में वैक्सीन को नियमित रूप से बेचने के लिए एक बार और आवेदन करना होगा. एक एक्सपर्ट ने कहा कि अभी इस वैक्सीन से जितने लाभ हैं, वो इससे अभी होने वाले संभावित खतरों से ज्यादा हैं, इसलिए वैक्सीन को इस्तेमाल की इजाजत दे दी गई है. 

बता दें कि फाइजर के इस वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए पहले ही ब्रिटेन, कनाडा, बहरीन और सऊदी अरब में इजाजत मिल चुकी है. भारत में भी वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत मांगी गई है. हालांकि अमेरिका में फाइजर के वैक्सीन की इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत तब मिली है, जब यहां पिछले 24 घंटे में 3000 लोगों की कोरोना से मौत हुई है. ये आंकड़ा दुनिया भर में सबसे ज्यादा है. 

फाइजर के वैक्सीन को इस्तेमाल की इजाजत मिलने के बाद अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि ये घटनाक्रम अंधेरे वक्त में एक रोशनी की तरह है. हम वैज्ञानिकों, रिसर्चरों के आभारी हैं.  अमेरिका के सामने अब वैक्सीन के निर्माण और इसके वितरण की चुनौती है. माना जा रहा है कि अमेरिका ने अपना वैक्सीन स्टॉक बढ़ाने के लिए मॉडर्ना से 100 मिलियन वैक्सीन डोज खरीदने का फैसला किया है.

First Published : 12 Dec 2020, 10:19:23 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.