News Nation Logo

नीति आयोग ने बताया,  दो अलग-अलग वैक्सीन का क्या पड़ेगा असर

कई राज्यों में गलती से एक व्यक्ति को दो अलग-अलग वैक्सीन लग गई थी. इस पर नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (NITI Aayog DR vk Paul ) ने कहा कि विदेशों में ऐसी कई शोध कार्य हुए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 08 Jun 2021, 05:56:04 PM
NITI Aayog

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

कई राज्यों में गलती से एक व्यक्ति को दो अलग-अलग वैक्सीन लग गई थी. इस पर नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल (NITI Aayog DR vk Paul ) ने कहा कि विदेशों में ऐसी कई शोध कार्य हुए हैं. जिससे पता चलता है कि वैक्सीन कॉकटेल से फायदा होता है, लेकिन भारत में शोध कार्य नहीं हुआ है. इसलिए मैं यह नहीं कह सकता है कि गलती से अगर किसी व्यक्ति को दोनों अलग-अलग वैक्सीन लगाई गई है तो उस पर इसका सकारात्मक असर ही पड़ेगा. हालांकि, बहुत मामलों में सकारात्मक असर देखने को मिला है.

आपको बता दें कि इससे पहले नीति आयोग ने कहा था कि हमारा प्रोटोकॉल स्पष्ट है कि दिए गए दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए. अगर किसी को अलग-अलग वैक्सीन दी भी गई है तो यह चिंता का विषय नहीं होना चाहिए, यह सुरक्षित है. डॉक्टर वीके पॉल ने कहा था कि यह आश्वस्त करने वाला है कि कोरोना की दूसरी लहर में गिरावट आई है और यदि समय आने पर प्रतिबंध व्यवस्थित रूप से खोले जाते हैं तो यह आगे भी कायम रहेगा. उन्होंने कहा कि दूसरी लहर भी अब घट रही है. इस बीच वैक्सीनेशन की दर बढ़ रही है. इसे और तेज करना होगा तथा जल्दी ही रफ्तार पकड़ेगी.

वीके पॉल ने कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए. अगर ऐसा हुआ भी है तो यह चिंता का विषय नहीं होना चाहिए. दूसरी वैक्सीन लग भी जाए तो कोई दिक्कत नहीं है. कई और कंपनियों की वैक्सीन के बारे में वीके पॉल ने बताया कि सरकार विदेशी निर्माताओं के संपर्क में है. मेक इन इंडिया और मेड इन इंडिया हमारी प्राथमिकता है. फिलहाल कई वैक्सीन अभी पाइपलाइन में हैं.

कोरोना केस में 79% की कमी, रिकवरी रेट 81% से बढ़कर 94% : स्वास्थ्य मंत्रालय

पिछले कुछ दिनों में भारत में कोरोना के नए मामलों में लगातार गिरावट देखी गई है, जो देश के लिए बड़ी राहत है. यहां इस वक्त हर 24 घंटे में मामलों की संख्या एक लाख के आसपास बनी हुई है तो मौतें भी 3,000 की संख्या से नीचे हैं. कोरोना पर काबू पाए जाने के बाद देश एक बार फिर अनलॉक के दौर में चल पड़ा है, जिसका दूसरा चरण सोमवार को शुरू हुआ. देश के वर्तमान कोरोना परिस्थिति पर आज स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी. स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने कहा कि देश में कोरोना के मामले लगातार कम हो रहे हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry Press Conference) के प्रवक्ता लव अग्रवाल (Luv Agrawal) ने बताया कि देश में कोरोना के केस में 79% की कमी आई है. पिछले 7 मई को देश में कोरोना के कुल 4.14 लाख मामले थे और आज सिर्फ 86498 केस हैं. देश में एक्टिव केस की संख्या भी लगातार घट रही है. बीते एक महीने में 24 लाख  कोरोना के केस कम हुए हैं. देश में एक्टिव केस की संख्या 37.46 लाख से कम होकर 13.03 रह गए है. अभी देश के 209 जिलों में प्रतिदिन 100 केस आ रहे हैं, पहले कुल 531 ऐसे जिले थे. देश में रिकवरी रेट भी 81% से बढ़कर 94% हो चुका है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Jun 2021, 05:56:04 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.