News Nation Logo
Banner

कोरोना वायरस : भारत के ऊपर निर्भर है इस महामारी का भविष्य- WHO

डब्ल्यूएचओ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर माइकल जे. रयान ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस महामारी का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत और चीन जैसे घनी आबादी वाले देश इस अभूतपूर्व स्वास्थ्य संकट से निपटने के लिए क्या करते हैं

IANS | Updated on: 24 Mar 2020, 01:16:11 PM
corona virus

भारत के ऊपर निर्भर है इस महामारी का भविष्य (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने उम्मीद जताई है कि भारत दो साइलेंट किलर चेचक और पोलियो जैसी बीमारियों को खत्म करने वाली अपनी भूमिका को दोहराते हुए वैश्विक महामारी कोविड-19 के खिलाफ आक्रमक कार्रवाई करेगा. कोरोनावायरस संक्रमण के चलते दुनिया भर में अब तक 16 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.डब्ल्यूएचओ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर माइकल जे. रयान ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस महामारी का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत और चीन जैसे घनी आबादी वाले देश इस अभूतपूर्व स्वास्थ्य संकट से निपटने के लिए क्या करते हैं.

यह भी पढ़ेंं: पीएम मोदी की ‘ताली बजाओ’ अपील के चलते लोग नहीं समझ पा रहे लॉकडाउन की गंभीरता : शिवसेना

रयान ने कहा, 'भारत बेहद आबादी वाला देश है। इस महामारी का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि घनी आबादी वाले देशों में क्या होता है. यह वास्तव में महत्वपूर्ण है कि भारत सार्वजनिक स्वास्थ्य स्तर पर आक्रामक कार्रवाई करे, और समाज के स्तर पर इस बीमारी को नियंत्रित कर लोगों की जान बचाए.'

उन्होंने आगे कहा, 'भारत ने दो साइलेंट किलर चेचक और पोलियो जैसी बीमारियों को खत्म करने के लिए विश्व का नेतृत्व किया था. भारत ने अच्छा काम करके बीमारियों को खत्म कर दुनिया को एक बेहतरीन उपहार दिया था। भारत में जबरदस्त क्षमता है.'

यह भी पढ़ेंं: मध्‍य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फिर लगाई विपक्ष में सेंध, 112 विधायकों के साथ साबित किया बहुमत

गौरतलब है कि रयान की यह टिप्पणी इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि वर्तमान में भारत ने कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरे देशभर में सख्त लॉकडाउन किया है.

First Published : 24 Mar 2020, 01:11:08 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×