News Nation Logo

हिमालयी क्षेत्रों में पाई जाने वाली शतावरी के फायदे जानते हैं आप?

हिमालय के क्षेत्रों में पाई जाने वाली जड़ी बूटी शतावरी (Shatavari) का आपके दैनिक जीवन (Daily Routine) में बहुत ही महत्व है. भारत के पहाड़ी इलाकों में वसंत ऋतु (Spring Session) के दौरान पाई जाने वाली सब्जी (Vesitable) के तौर पर जानी जाती है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 09 Mar 2021, 03:04:49 PM
shatavari

शतावरी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • शतावरी देती है माइग्रेन से राहत
  • बढ़ती उम्र में भी त्वचा को जवां रखती है
  • शतावरी के सेवन से बढ़ते वजन से छुटकारा

नई दिल्ली:

हिमालय के क्षेत्रों में पाई जाने वाली जड़ी बूटी शतावरी (Shatavari) का आपके दैनिक जीवन (Daily Routine) में बहुत ही महत्व है. भारत के पहाड़ी इलाकों में वसंत ऋतु (Spring Session) के दौरान पाई जाने वाली सब्जी (Vesitable) के तौर पर जानी जाती है. आपको बता दें कि शतावरी बहुत ही लो कैलोरी वाला आहार है. ये पोषक तत्वों से भरपूर होती है. यह एक से दो मीटर लंबी होती है जिसमें स्वास्थ्य का खजाना छिपा होता है. आपको बता दें कि शतावरी के उपयोग से आपको बहुत से फायदे मिलते हैं. शतावरी आपके शरीर का वजन नियंत्रित करती है.

शतावरी आपके शरीर का वजन तेजी से घटाती है अगर आप मोटापे के शिकार हैं तो फिर शतावरी आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है. शतावरी आपके स्वास्थ्य को लाभ देेने के साथ-साथ आपकी त्वचा (Skin) का भी खयाल रखती है ये आपकी त्वचा में निखार लाती है और आपकी बढ़ती हुई उम्र को चेहरे की झुर्रियों में तब्दील होने से रोकती है. कुल मिलाकर शतावरी आपकी त्वचा पर आपकी बढ़ती हुई उम्र को हावी नहीं होने देती. आइए आपको बताते हैं शतावरी के गुणकारी फायदों के बारे में

जानिए शतावरी के फायदे
शतावरी एक बहुत ही उपयोगी जड़ी बूटी है इसका सेवन आपको बहुत से फायदे देता है. शतावरी का सेवन उन लोगों के लिए भी रामबाण साबि‍त होती है, जो अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं.  इसमें घुलनशील और अघुलनशील फाइबर होते हैं, जो वजन को कम करने में मददगार हैं. इसके अलावा शतावरी एंटीऑक्सिडेंट तत्‍व से भरपूर होती हैं, जो दि‍ल की बीमारियों से बचाए रखने में फायदेमंद है. इसके इस्‍तेमाल से स्किन चमकदार बनती है. यह झुर्रियों को दूर करती है. इसमें एंटीऑक्सिडेंट ग्लूटाथियोन होता है जो मुंहासे से भी बचाव रखता है.

माइग्रेन और अनिद्रा से देती है राहत
शतावरी माइग्रेन से होने वाले दर्द से भी छुटकारा दिलाने में अहम भूमिका निभाती है. जिन लोगों को नींद नहीं आती उनके लिए फायदेमंद होती है. यह तनाव को दूर करती है और अनिंद्रा से मुक्ति दिलाती है. शतावरी में भरपूर मात्रा में फोलेट होता है. ऐसे में इसके इस्‍तेमाल से बच्‍चे में रीढ़ की हड्डी संबंधी समस्‍या नहीं होती और वह मानसिक समस्‍याओं से भी बचा रहता है.

ये सावधानियां भी हैं जरूरी
शतावरी वैसे तो औषधीय गुणों से भरपूर होती है, मगर यह कुछ लोगों को नुक्‍सान भी पहुंचा सकती है. इसके साइड इफेक्‍ट भी हो सकते हैं. इसलिए बहुत एहतियात से इसका सेवन करना चाहिए. इसे स्किन पर सीधे लगा लेने से एलर्जी की समस्‍या हो सकती है. जिन लोगों को प्‍याज से एलर्जी है, उन्‍हें इसके इस्‍तेमाल से एलर्जी हो सकती है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. News Nation इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञों से संपर्क करें.)

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 Mar 2021, 03:02:47 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.