News Nation Logo

देश के इन बड़े डॉक्टर्स ने बताया, कोरोना को कैसे दें शिकस्त, पढ़ें पूरी खबर

ये तीन दिग्गज डॉक्टर मेदांता के चेयरमैन नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan of Medanta), एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया (AIIMS Director Dr Randeep Guleria), और नारायणा हेल्थ के चेयरमैन डॉ. देवी शेट्टी (Dr Devi Shetty, Chairman, Narayana Health) हैं

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 21 Apr 2021, 07:59:43 PM
indian doctors tells how to cure corona

इन बड़े डॉक्टर्स ने बताया कोरोना को हराने का मंत्र (Photo Credit: एएनआई ट्विटर)

highlights

  • देश के इन दिग्गजों ने बताया कोरोना को हराने का मंत्र
  • रणदीप गुलेरिया, नरेश त्रेहान और डॉ. देवी शेट्टी के मंत्र
  • देश के दिग्गज डॉक्टरों ने बताए कोरोना को हराने के मंत्र 

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) का तांडव सिर चढ़कर बोल रहा है. रोजाना कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. इस देश के तीन बड़े डॉक्टर्स ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत कर कोरोना वायरस को हराने के मंत्र बताए हैं. देश के तीन दिग्गज डॉक्टरों ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए देशवासियों को सलाह दी है. आपको बता दें कि देश के ये तीन दिग्गज डॉक्टर मेदांता के चेयरमैन नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan of Medanta), एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया (AIIMS Director Dr Randeep Guleria), और नारायणा हेल्थ के चेयरमैन डॉ. देवी शेट्टी (Dr Devi Shetty, Chairman, Narayana Health) हैं.

इन तीनों डॉक्टरों ने न्यूज एजेंसी एएनआई पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर देश वासियों को कोरोना से बचने के उपाय साझा किए हैं. इन दिग्गज डॉक्टर्स ने आम लोगों को बताया है कि कोरोना का इलाज कैसे करें. अगर आपको कोरोना डिटेक्ट होता है तो क्या कदम उठाएं. इसके अलावा इन्होंने रेमडेसिविर सहित अन्य दवाओं के प्रभाव पर भी इस दौरान बातचीत की. आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के बीच पूरे देश में रेमडेसिविर दवा को लेकर अफरातफरी मची हुई है. रेमडेसिविर दवा के बारे में बताते हुए डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि ये कोई जादुई दवा नहीं है. वहीं मेदांता के चेयरमैन नरेश त्रेहान ने कहा कि ये कोई 'रामबाण' नहीं है. ये दवा सिर्फ जरूरतमंद बीमार लोगों में वायरल लोड को कम करती है.

अगर मरीज का ऑक्सीजन लेवल कम हो तो ध्यान दें
नारायणा हेल्थ के चेयरमैन डॉ. देवी शेट्टी ने कहा है कि अगर किसी के शरीर में ऑक्सीजन लेवल 94 प्रतिशत से ऊपर है तो फिर आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. उन्होंने आगे बताया कि अगर ऑक्सीजन का ये लेवल 94 प्रतिशत से नीचे आ रहा हो तो फिर चिंताजनक बात है. तब आपको डॉक्टर की जरूरत है. ऐसे समय में ये बहुत जरूरी है कि आपको सही समय पर सही इलाज मिले.  उन्होंने आगे बताया कि अगर आपमें कोरोना संक्रमण का कोई लक्षण नहीं है तो डॉक्टर आपको घर पर रहने की ही सलाह देंगे. और हर 6 घंटे पर ऑक्सीजन लेवल चेक करने को कहा जाएगा.  उन्होंने ये भी बताया कि अगर किसी व्यक्ति के शरीर में दर्द, सर्दी, खांसी, जुकाम, अपच, उल्टियों के लक्षण हैं तो उन्हें भी कोरोना संक्रमण का टेस्ट करवाना चाहिए. 

ऑक्सीजन का सही तरीके से इस्तेमाल
इस दौरान मेदांता के चेयरमैन नरेश त्रेहान ने बताया कि आज हमारे पास पर्याप्त ऑक्सीजन है बस शर्त ये है कि इसका इस्तेमाल हम सही तरीके से करें. उन्होंने आगे कहा कि मैं लोगों से अपील करना चाहता हूं कि अगर आपको ऑक्सीजन की आवश्यकता नहीं है तो इसे सिर्फ सुरक्षा के लिहाज से न इस्तेमाल करें. क्योंकि ये ऑक्सीजन की बर्बादी होगी और बर्बादी की वजह से जरूरतमंद लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिल पाएगी.

रेमडेसिविर पर रणदीप गुलेरिया की राय
इस बातचीत के दौरान एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने रेमडेसिविर दवा को लेकर कहा है कि इस दवा की आवश्यकता केवल कुछ प्रतिशत लोगों को ही होती है. उन्होंने आगे बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित करीब 85 फीसदी लोग बिना किसी विशेष इलाज के अपने आप अपनी इम्युनिटी के दम पर ही ठीक हो रहे हैं. कोविड हो जाने के बाद भी ज्यादातर लोगों में सामान्य लक्षण ही आ रहे हैं.

First Published : 21 Apr 2021, 07:44:19 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.