News Nation Logo

Coronavirus Symptoms: Corona के ये सिम्पटम्स हैं बेहद खतरनाक, बिल्कुल भी न करें नजरअंदाज

जैसे-जैसे कोरोना के नए-नए वैरिएंट्स सामने आते गए वैसे-वैसे कोरोना के सिम्पटम्स भी अलग-अलग दिखने लगे. लेकिन, कोरोना के ये तीन सिम्पटम्स काफी सीरियस हैं. तो जानते हैं कि रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus Symptoms) के सिम्पटम्स क्या है.

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 23 Jan 2022, 05:52:46 PM
Coronavirus Symptoms

Coronavirus Symptoms (Photo Credit: Unsplash)

नई दिल्ली:  

देश में पिछले दो सालों से कोरोना तेजी से फैलता जा रहा है. अब तक ना जाने कोरोना वायरस के कितने ही वैरिएंट मिल चुके हैं. जैसे-जैसे कोरना के वैरिएंट बदलते रहे. वैसे-वैसे उसके सिम्पटम्स (covid symptoms) में भी तेजी से बदलाव देखने को मिले. लेकिन, ज्यादातर आपने सुना होगा कि कोरोना के सबसे पहला और मेन सिम्पटम सर्दी-जुकाम था. जिसकी वजह से लोग ये सोच-सोचकर कन्फ्यूज हो रहे थे कि उन्हें कोरोना है या आम सर्दी-बुखार. इन्हीं सिम्पटम्स की प्रोपर तरीके से जांच न होने पर कोरोना वायरस तेजी से फैलता चला गया. कोरोना के वैरिएंट्स की बात करें तो इसमें डेल्टा, अल्फा, बीटा, गामा और अब ओमिक्रॉन (symptoms of Coronavirus disease) भी शामिल है. इन सभी वैरिएंट्स के पेशेंट्स में अलग-अलग सिम्पटम्स (corona symptoms) देखने को मिल रहे है. जिससे डॉक्टर्स भी कन्फ्यूज है. 

                                                     

एक्सपर्ट्स की मानें तो सर्दी-बुखार होने के साथ अगर कुछ अलग सिम्पटम्स (corona virus symptoms) दिखते हैं तो तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए. वैसे कोरोना के डिफरेंट सिम्टम्स को लेकर रिसर्च जारी है. वहीं सोशल मीडिया पर भी इसके डिफरेंट सिम्पटम्स आए दिन सुनने और देखने को मिलते हैं. तो चलिए आज इसके ऑफिशिअल सिम्पटम्स (corona serious symptoms) के बारे में जान लेते हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोरोना के सिम्पटम्स को लेकर WHO, CDC और NHS ने आफिशिअल कोविड सिम्पटम्स की लिस्ट जारी की है. इसके मुताबिक, तीनों ही ऑर्गेनाइजेशन से कुल 32 सिम्पटम्स सामने आए हैं. इन 32 सिम्पटम्स को कम से ज्यादा सीरियस की कैटेगरी में रखा गया है. कोरोना के तीन सिम्पटम्स काफी सीरियस हैं. तो, जानिए  WHO, CDC, NHS की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के सिम्पटम्स क्या है.

                                                     

NHS के कोरोना सिम्पटम्स की लिस्ट

रिपोर्ट्स के मुताबिक, NHS ने कोरोना के तीन सिम्पटम्स बताएं हैं. जिसमें पहला- बुखार है. इसके लिए आपको अपना टेम्परेचर चेक करनी की जरूरत नहीं है. चेस्ट या बैक को छूकर गर्म महसूस करने पर बुखार की पहचान की जा सकती है. वहीं दूसरे नंबर पर खांसी है. अगर पूरे दिन में एक घंटे से ज्यादा खांसी हो रही है. या फिर तीन या उससे ज्यादा खांसी के एपिसोड हों तो आपकी खांसी नॉर्मल से कई ज्यादा सीरियस है. वहीं इसमें तीसरा सिम्पटम स्मेल या टेस्ट का कम होना है या जिन पेशेंट्स को स्मेल महसूस नहीं हो रही या किसी भी चीज का टेस्ट नहीं आ रहा. कोविड का ये सिम्पटम (corona virus symptoms) बच्चों में भी मिल सकता है.

                                                   

CDS ने बताए कोरोना के सिम्पटम्स 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इनके बताए गए सिम्पटम्स में पेशेंट को बुखार हो सकता है. ठंड लग सकती है. सांस लेने में दिक्कत हो सकती है. इसके अलावा थकान, सिर दर्द, टेस्ट या स्मेल की कमी,  गले में खराश, मतली-उल्टी या दस्त, कंजेशन व बहती नाक, मसल्स पेन या बॉडी पेन जैसे सिम्पटम्स शामिल हैं. इसके साथ ही कोरोना के सीरियस सिम्पटम्स में सांस लेने में तकलीफ, सीने में लगातार दर्द, भ्रम, काफी नींद आना, स्किन और नाखून का रंग पीला या नीला होना शामिल है. इस कंडीशन में पेशएंट को जल्दी ही मेडिकल मदद लेने की वॉर्निंग दी गई है. 

                                                     

WHO के कोरोना सिम्पटम्स की लिस्ट
रिपोर्ट्स के मुताबिक, WHO ने वायरस के सिम्पटम्स की जो लिस्ट जारी की है. उसमें बुखार, खांसी, टेस्ट या स्मेल न आने और थकान जैसे कॉमन सिम्पटम्स शामिल है. इनके कम कॉमन सिम्पटम्स की लिस्ट में गले में खराश, सिर दर्द, बॉडी पेन, दस्त, स्किन पर दाने, आंखें लाल होना और हाथ-पैर की उंगलियों का रंग बदलना शामिल है. वहीं सीरियस कोविड सिम्पटम्स की लिस्ट में सांस की तकलीफ, चेस्ट में पेन और बोलने में दिक्कत या भ्रम महसूस होना शामिल है. 

WHO ने एडवाइस दी है कि जिन भी पेशेंट्स में इस तरह के सिम्पटम्स देखे जा रहे हैं वे तुरंत ही डॉक्टर के पास जाकर इमरजेंसी मेडिकल हेल्प लें. 

First Published : 23 Jan 2022, 05:50:01 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.