News Nation Logo
Banner

Coronavirus की चौथी लहर! दिल्ली में बेकाबू, तो राजस्थान में 155% की उछाल

ताजे आंकड़ों के मुताबिक, मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी स्थिति चिंताजनक होती जा रही है. मध्य प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में ही कोरोना के मामलों में 132 फीसदी उछाल दर्ज की जा चुकी है.

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 06 May 2022, 11:08:59 AM
Coronavirus

Coronavirus (Photo Credit: फाइल)

highlights

  • कोरोना वायरस की चौथी लहर का डर
  • दिल्ली में बेकाबू होता दिख रहा है कोरोना
  • राजस्थान में एक सप्ताह में 155% फीसदी बढ़े मामले

नई दिल्ली:  

कोरोनावायरस (Coronavirus) फिर से कहर बरपाना शुरू कर चुका है. राजधानी दिल्ली में पूरे देश के औसतन आधे मामले सामने आ रहे हैं. इसके अलावा राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में कोरोना के नए मामलों में 100 से 155 फीसदी उछाल दर्ज की जा रही है. आंकड़ों के मुताबिक, राजस्थान में कोरोना के मामले 155 फीसदी तक बढ़े हैं. वहीं, दिल्ली कोरोना का हॉटस्पॉट (Covid Hotspot) बना हुआ है. 25 अप्रैल से 1 मई के बीच देश में 22 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले हैं. यह मामले इसके पहले हफ्ते में मिले 15 हजार केस से 41 फीसदी ज्यादा है. अगर सिर्फ पिछले 24 घंटों की बात करें तो पूरे देश में 3545 नए मामले दर्ज हुए हैं, तो 27 लोगों की मौत कोरोना के चलते हुई है.

मध्य प्रदेश में भी बेकाबू हो रहा कोरोना

ताजे आंकड़ों के मुताबिक, मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी स्थिति चिंताजनक होती जा रही है. मध्य प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में ही कोरोना के मामलों में 132 फीसदी उछाल दर्ज की जा चुकी है. सक्रिय मामलों को देखें तो पूरे देश में 4-10 अप्रैल के सप्ताह में 7054 सक्रिय मामले थे. अगले सप्ताह 11-17 अप्रैल तक सक्रिय मामलों की संख्या 8101 हो गई. 18 अप्रैल से 24 अप्रैल तक ये आंकड़ा 15800 तक पहुंच गया तो 25 अप्रैल से एक मई तक 22,200 सक्रिय मामले आ चुके थे. खबर लिखे जाने तक देश में 30 हजार से ज्यादा सक्रिय मामले हैं.

ये भी पढ़ें: दिल्ली में विधायकों की बल्ले-बल्ले, MHA की मंजूरी से करीब दोगुनी होगी सैलरी

दिल्ली में दु:खदाई स्थिति

दिल्ली में इस सप्ताह 9684 मामले मिले हैं. औसत हर दिन एक हजार से कहीं ज्यादा का है. एक सप्ताह में 30 लोगों ने कोरोना के चलते जान गंवाई है. इस सप्ताह पूरे देश के 22200 मामलों में से एक 9684 मामले अकेले दिल्ली के हैं. पिछले सप्ताह दिल्ली में 6326 केस थे. 29 लोगों की मौत हई थी. 

जून में आएगी कोरोना की चौथी लहर?

कानपुर आईआईटी (Kanpur IIT) के विशेषज्ञ पहले ही इस बात की चेतावनी दे चुके हैं कि जून महीने में कोरोना की चौथी लहर पूरे देश को अपनी चपेट में ले सकती है. हर रोज लाखों लोग संक्रमित होंगे. कोरोना की चौथी लहर जून से शुरू होकर सितंबर-अक्टूबर तक रह सकती है. इसका पीक अगस्त महीने में आ सकता है. कोरोना की चौथी लहर में उन लोगों पर खतरा ज्यादा होगा, जिन्होंने अब तक वैक्सीनेशन (Covid Vaccination) से दूरी बनाए रखी है. खास बात ये है कि कोरोना की चौथी लहर ओमिक्रॉन (Omicron) और उसके सब-वैरिएंट BA.1, BA.2 ही लाएंगे. इसके अलावा कोरोना के बाकी स्ट्रेन भी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे. WHO ने भी कहा है कि अल्फा वेरिएंट अबतक गया नहीं है, ये गर्मी के साथ ही तेजी से बढ़ेगा. 

First Published : 06 May 2022, 11:08:59 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.