News Nation Logo

Corona Virus : कोरोना वायरस से बचने के लिए पिएं कछुए का सूप

कोरोना वायरस के कहर से चीन खून के आंसू रो रहा है. हर रोज चीन से वायरल होती तस्वीरें और वीडियो अपने आपमें बहुत कुछ बयां कर रही हैं. कोरोना वायरस यानी nCoV से अब तक 1 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है

News Nation Bureau | Edited By : Sahista Saifi | Updated on: 12 Feb 2020, 06:08:35 PM
Corona Virus : कोरोना वायरस से बचने के लिए पिएं कछुए का सूप

Corona Virus : कोरोना वायरस से बचने के लिए पिएं कछुए का सूप (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • 45,201 लोग अभी इस महामारी की चपेट में हैं
  • संक्रमण से पीड़ित मरीजों को डिनर में एक स्पेशल सूप पिलाया जा रहा है.
  • अस्पतालों में मरीजों को सॉफ्टशेल कछुए का मांस भी परोसा जा रहा है

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस के कहर से चीन खून के आंसू रो रहा है. हर रोज चीन से वायरल होती तस्वीरें और वीडियो अपने आपमें बहुत कुछ बयां कर रही हैं. कोरोना वायरस यानी nCoV से अब तक 1 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. वहीं 45,201 लोग अभी इस महामारी की चपेट में हैं.

आपको बता दें कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को स्वस्थ करने के लिए चीन अनोखे नुस्खे आजमा रहा है. अभी तक चीन में करीब 5000 लोगों को संक्रमण की चपेट में आने के बाद स्वस्थ किया गया है. हाल ही में आ रही मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक संक्रमण से पीड़ित मरीजों को डिनर में एक स्पेशल सूप पिलाया जा रहा है. आपको बता दें कि यह सूप कछुए से बना है. सूप के लिए सॉफ्टशेल कछुए का ही इस्तेमाल किया जा रहा है.

यहां पढ़ें: चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,110 हुई : सरकार

क्यों पिलाया जा रहा है यह सूप
पारंपारिक चीनी चिकित्या के अनुसार, सॉफ्टशेल कछुए बहुत ही पौष्टिक होते हैं. इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन मौजूद होता है. जिसकी वजह से कोरोना के मरीजों को यह जल्द ही ठीक होने में मदद कर रहा है. बता दें चीन के वुहान शहर के अस्पतालों में मरीजों को सॉफ्टशेल कछुए का मांस भी परोसा जा रहा है.

यहां पढ़ें: Corona Virus: मरीजों का इलाज करने 20 हजार से ज्यादा डॉक्टर पहुंचे चीन

कोरोना वायरस एक ऐसी बीमारी है, जिसमें लोगों को सर्दी, बुखार, सुखी खांसी और सांस लेने की समस्या होती है. यह बीमारी छूने और एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलती है. बता दें फिलहाल वायरल का ईलाज या कोई भी टीका बाजार में मौजूद नहीं है. इसकी शुरूआत चीन के वुहान शहर से हुई है.

First Published : 12 Feb 2020, 06:08:35 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.