News Nation Logo
Banner

देश में Omicron के 145 केस, Christmas और New Year को लेकर बढ़ी चिंता

देश में ओमीक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने लोगों से क्रिसमस और नए साल के जश्न के दौरान भीड़ से बचने की अपील की और कोविड -19 दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है.

Written By : विजय शंकर | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 19 Dec 2021, 10:35:57 AM
Omicron crowd

145 cases of Omicron in the country (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • 11 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में मिल चुके हैं ओमीक्रॉन के केस
  • सिर्फ दो दिनों के अंदर देश में ओमीक्रॉन के कुल 56 केस पाए गए हैं
  • बृहन्मुंबई नगर निगम ने क्रिसमस और नयू ईयर को लेकर आगाह किया

नई दिल्ली:  

कर्नाटक में 6 और केरल में चार नए मामले दर्ज किए जाने के बाद देश में ओमीक्रॉन की संख्या बढ़कर 145 हो गई है जबकि महाराष्ट्र में तीन और व्यक्तियों में पॉजिटिव रिपोर्ट सामने आए हैं. फिलहाल 12 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में ओमीक्रॉन के केस मिल चुके हैं. इनमें महाराष्ट्र में 48, दिल्ली में 22, तेलंगाना में 20, राजस्थान में 17 और कर्नाटक में 14, गुजरात में 7, केरल में 11, यूपी में 2 जबकि आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में क्रमश: एक-एक केस अब तक सामने आ चुके हैं. सिर्फ दो दिनों के अंदर देश में ओमीक्रॉन के कुल 56 केस पाए गए हैं. वहीं एक सप्ताह बाद क्रिसमस और फिर न्यू ईयर सेलेब्रेशन को लेकर अभी से चिंताएं बढ़ गई है. थोड़ी सी लापरवाही करने पर ओमीक्रॉ़न के केस बढ़ सकते हैं. डब्ल्यूएचओ (WHO) ने भी कहा कि ओमीक्रॉन उच्च स्तर की जनसंख्या वाले देशों में तेजी से फैल रहा है, इस बीच बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने क्रिसमस और नयू ईयर को लेकर भीड़ से बचने की सलाह दी है और एक साथ इकट्ठा होने से दूर रहने को कहा है.

यह भी पढ़ें : दुनिया में बढ़ा Omicron का खौफ, नीदरलैंड में लॉकडाउन, 89 देशों में दस्तक

बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने भीड़ से बचने की सलाह दी

देश में ओमीक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने लोगों से क्रिसमस और नए साल के जश्न के दौरान भीड़ से बचने की अपील की और कोविड -19 दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है. महाराष्ट्र में कुल 48 ओमीक्रॉन मामले सामने आए हैं, जो देश में अब तक का सबसे अधिक मामला है. मुंबई नागरिक निकाय ने कहा है कि उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए वार्ड स्तर पर दस्तों को तैनात किया जाएगा. इसके तहत शादियों और अन्य समारोहों के दौरान नियमों का पालन करने को भी दोहराया गया.  बीएमसी ने अपनी गाइडलाइंस में कहा है कि सीमित या बंद जगहों में क्षमता के केवल 50 फीसदी हिस्से को ही अनुमति दी जाएगी. वहीं 1000 से अधिक लोगों के साथ सभा की योजना है, तो स्थानीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की पूर्व अनुमति अनिवार्य है. साथ ही सभी लोगों को ठीक से मास्क लगाने और पूरी तरह से टीका लगवाने की भी अपील की है.

कर्नाटक में दो दिसंबर को देश में ओमीक्रॉन वेरिएंट के पहले दो मामलों का पता चला था, लेकिन कोरोना वायरस के इस नए वेरिएंट का सबसे पहले 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में केस मिले थे. देश में तेजी से बढ़ रहे ओमीक्रॉन मामलों की संख्या के साथ भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने गैर-जरूरी यात्रा और सामूहिक समारोहों से बचने और कम तीव्रता वाले उत्सवों का पालन करने का आह्वान किया है.

तमिलनाडु ने परीक्षण को लेकर केंद्र से किया अनुरोध

तमिलनाडु ने शनिवार को केंद्र से अनुरोध किया कि वह राज्य में आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के परीक्षण पर दिशा-निर्देश जारी करे. तमिलनाडु ने यह निर्देश तब जारी किया है जब एक गैर-जोखिम वाले देश से आए व्यक्ति का हाल ही में कोविड-19 के ओमीक्रॉन वेरिएंट का टेस्ट कराया गया जिसमें उस व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव निकले. यह राज्य का पहला केस था. 

नवी मुंबई स्कूल के 16 छात्रों को कोविड पॉजिटिव

नवी मुंबई के घनसोली के एक स्कूल के 16 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए. इन सभी को एक स्थानीय सीओवीआईडी ​​केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है. नवी मुंबई नगर निगम (NMMC) के एक अधिकारी ने कहा कि वे कक्षा 8 से 11 के छात्र हैं. छात्रों में से एक का पिता 9 दिसंबर को कतर से लौटा था.

ओडिशा में 169 नए कोविड

ओडिशा में 169 नए कोविड-19 मामले दर्ज किए है. इसके साथ ही कोविड-19 आंकड़ा बढ़कर 10,52,641 हो गया. वहीं कोरोना के एक और मृत्यु होने से इसकी संख्या 8,442 पहुंच गई है.

दिल्ली में अब तक 22  ओमीक्रॉन के मामलों की पुष्टि

दिल्ली में ओमीक्रॉन के अब तक 22 केस सामने आ चुके हैं. हालांकि इन 22 में से कुल 10 लोगों को छुट्टी दे दी गई है. दिल्ली सरकार को अंदेशा है कि ओमीक्रॉन के केस बढ़ सकते हैं. वहीं दिल्ली सरकार ने ओमीक्रॉन के खतरे के चलते 4 प्राइवेट अस्पतालों को डेडिकेटेड सेंटर बना दिया है. इससे पहले सिर्फ लोकनायाक अस्पताल ओमीक्रोन का डेडिकेटेड सेंटर था.

ये हैं चार डेडिकेटेड सेंटर

गंगाराम अस्पताल
सैक्स साकेत
फोर्टिस वसंत कुंज
बत्रा अस्पताल, तुगलकाबाद 

First Published : 19 Dec 2021, 10:04:54 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.