News Nation Logo
Breaking
उत्तराखंड : बारिश के दौरान चारधाम यात्रा बड़ी चुनौती बनी, संवेदनशील क्षेत्रों में SDRF तैनात आंधी-बारिश को लेकर मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया राजस्थान : 11 जिलों में आज आंधी-बारिश का ऑरेंज अलर्ट, ओला गिरने की भी आशंका बिहार : पूर्णिया में त्रिपुरा से जम्मू जा रहा पाइप लदा ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, 8 घायल पर्यटन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार की नई पहल, आगरा मथुरा के बीच हेली टैक्सी सेवा जल्द महाराष्ट्र के पंढरपुर-मोहोल रोड पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत- 3 की हालत गंभीर बारिश के कारण रोकी गई केदारनाथ धाम की यात्रा, जिला प्रशासन के सख्त निर्देश आंधी-बारिश के कारण दिल्ली एयरपोर्ट से 19 फ्लाइट्स डाइवर्ट
Banner

अगर रोज करते है 2 घंटे ड्राइव तो दिमाग पर पड़ सकता है बुरा असर

अगर आप हर दिन लगातार 2 घंटे तक गाड़ी चलते है तो इससे आपकी दिमागी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है।

News Nation Bureau | Edited By : Ruchika Sharma | Updated on: 24 Jul 2017, 11:01:21 PM

नई दिल्ली:  

अगर आप हर दिन लगातार 2 घंटे तक गाड़ी चलते है तो इससे आपकी दिमागी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। एक अध्ययन के मुताबिक लगातार 2 घंटे या ज्यादा समय तक ड्राइव करने से दिमाग के कंडक्टिव होने के चलते आपकी इंटेलिजेंस कम हो जाती है। शोधकर्ताओं ने पाया कि मिडिल ऐज लोग जो हर दिन लम्बे समय तक ड्राइव करने के बाद एक ही जगह पर बैठे रहते है ऐसे में उनके दिमाग पर बुरा असर पड़ता हैं। ऐसा करने से उनके ब्रेनपावर पर असर पड़ता है इससे उनकी अक्लमंदी घट जाती है।

लंदन की यूनिवर्सिटी ऑफ लेस्टर के मेडिकल एपिडोमोलॉजिस्ट बकरानिया ने बताया, 'हर दिन 2-3 या लगातार लंबे समय तक ड्राइव करना न सिर्फ आपके दिल बल्कि दिमाग के लिए भी खतरनाक हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ड्राइव करने के दौरान आपका ब्रेन कम ऐक्टिव रहता है।'

शोधकर्ताओं ने 37 से 73 साल की उम्र के 5 लाख लोगों की जीवनशैली के बारे में करीब 5 साल तक रिसर्च किया और इस दौरान उन लोगों के इंटेलिजेंस और मेमरी का टेस्ट लिया। इनमें से 93 हजार लोग जो हर दिन लगातार 2-3 घंटे ड्राइव करते थे उनका ब्रेन पावर कम पाया गया।

न सिर्फ ड्राइविंग बल्कि टीवी देखने के शौकीनों में ऐसे ही लक्षण पाए गए शोध में पाया गया कि जो लोग 2-3 घंटे रोज टीवी देखते है उनके ब्रैंपोवेर पर भी असर पड़ा शोध में पाया गया कि टीवी देखते समय, आपका मस्तिष्क कम सक्रिय होता है, लेकिन कंप्यूटर पर काम करते वक़्त दिमाग  उत्तेजक होता है अल्जाइमर रिसर्च यूके में शोध के प्रमुख रोजा सांको ने कहा, 'मानसिक और शारीरिक रूप से सक्रिय रहना हमारे दिमाग को स्वस्थ रखने में मदद करता है।'

First Published : 24 Jul 2017, 10:39:01 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.