News Nation Logo
Banner

गाय का दूध नहीं रोजाना एक बीयर रखेगी आपको स्वस्थ, दूर करे आहारों से जुड़े ये मिथ

संतुलित आहार स्वस्थ जीवन की कुंजी कहा जाता है। पर संतुलित आहार को लेकर लोगों में तरह-तरह के मिथ है, जिन्हें दूर किया जाना जरूरी है।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 24 Jul 2017, 01:43:44 PM

नई दिल्ली:  

संतुलित आहार स्वस्थ जीवन की कुंजी कहा जाता है। पर संतुलित आहार को लेकर लोगों में तरह-तरह के मिथ है, जिन्हें दूर किया जाना जरूरी है। दूध का सेवन सेहत के लिए जरुरी होता है, पर वो हमेशा स्वास्थयवर्धक ही हो ऐसा जरूरी नहीं होता।

यूएस के यूसीएलए पब्लिक फील्डिंग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के न्यूट्रीशियनल एपिडेमियोलॉजिस्ट कारिन मिशेल ने संतुलित आहार से जुड़े मिथ को जानने के लिए कई साथ स्टडी की है। मिशेल का मानना है कि बहुत से लोग आहार के संबंध में आवश्यक सलाह नहीं लेते हैं, जो भविष्य में उनकी सेहत के लिए नुकसान पहुंचा सकता है। मिशेल ने खाने से जुड़े कुछ मिथ के बारे में बताया है।

मिथ: रेड मीड आयरन का अच्छा स्रोत होता है

मिशेल कहती है कि बहुत से लोगों को लगता है कि आयरन की कमी को दूर करने के लिए रेड मीट अच्छा स्रोत होता है। हालांकि उनको ये पता नहीं होता है कि रेड मीट से मिलने वाला आयरन, सब्जी, दाल और साबुत अनाज से मिलने वाले अनाज से अलग होता है।

मिशेल बताती है, रेड मीट से मिलने वाला आयरन वास्तव में हृदय रोग को बढ़ावा देता है।' उन्होंने आगे कहा,' पत्तेदार सब्जियों, बींस आदि में पाया जाने वाला आयरन ज्यादा स्वास्थ्यकारी होता है।' हालांकि ये आयरन ऑब्जर्ब होने में समय लेता है। इसलिए हमें विटामिन सी से भरपूर आहारों का सेवन करना चाहिए। विटामिन सी आयरन को ऑब्जर्ब करने में मदद करते है।

मिथ: शराब नहीं पीनी चाहिए

ऐसा माना जाता है कि शराब पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है, हालांकि इसके नतीजे मिश्रित होते है। मिशेल ने कहा, 'शराब शराब आपकी कोरोनरी धमनियों को साफ करता है, इसलिए यदि परिवार का कोरोनरी धमनी रोग का पुराना इतिहास है तो शराब आपके लिए फायदेमंद हो सकती है।'
उन्होंने आगे कहा,' हालांकि शराब का सेवन कई तरह के कैंसर को बढ़ावा देता है। ऐसे में आपको इसकी मात्रा का सतुंलन बनाना जरूरी होता है। हम ज्यादातर लोगों को शराब की संतुलित मात्रा लेने के लिए ही सलाह देते हैं।' एक बोतल बीयर रोज पीने से सेहत को नुकसान नहीं पहुंचता है।

इसे भी पढ़ें: डार्क चॉकलेट से यूं निखारें अपनी त्वचा की खूबसूरती

मिथ: कैल्शियम के स्तर को बढ़ाना
हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम के स्तर को संतुलित करना जरूरी होता है। हालांकि मिशेल का कहना है कि कई लोग संतुलित आहार तो लेते हैं मगर उन्हें कैल्शियम पूरी तरह से नहीं मिलता है।

मिशेल का कहना है कि केवलबच्चों और पोस्टमेनोपॉज़ल महिलाओं को कैल्शियम की ज्यादा मात्रा की आवश्यकता होती है। लेकिन अगर ये कैल्शियम से भरपूर आहार या सप्लीमेंट का सेवन कर रहें तो उनके लिए पर्याप्त है। ज्यादा कैल्शियम का सेवन कोरोनरी धमनी के रोग को बढ़ावा दे सकता है।

मिथ: दालों से मिलता है पूरा प्रोटीन

माना जाता है कि संपूर्ण प्रोटीन के लिए अनाज के साथ दालों का सेवन करना चाहिए। जबकि संपूर्ण प्रोटीन के लिए अमीनो एसिड की आवश्यक मात्रा जरूरी होती है। हालांकि बींस और दालें लो फैट होने के सात-साथ प्रोटीन, फाइबर, बी विटामिन, लोहा, पोटेशियम आदि का पावर हाउस होती है।

इसे भी पढ़ें: स्किनकेयर प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल में महिलाओं से पीछे नहीं है पुरूष

 

First Published : 24 Jul 2017, 12:08:13 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Food Myths