News Nation Logo

शिवराज के भाई और रिश्तेदार का भी कर्ज माफ : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसान कर्जमाफी पर उठाए जा रहे सवालों के जवाब में बुधवार को यहां कहा कि कर्ज तो शिवराज के भाई और चाचा के लड़के का भी माफ हुआ है

IANS | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 08 May 2019, 11:53:04 PM
राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसान कर्जमाफी पर उठाए जा रहे सवालों के जवाब में बुधवार को यहां कहा कि कर्ज तो शिवराज के भाई और चाचा के लड़के का भी माफ हुआ है. गांधी ने बुधवार को भिंड, मुरैना और ग्वालियर में जनसभाओं को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमत्री चौहान को आड़े हाथों लिया और कहा, "मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया है कि राज्य में किसानों का कर्ज माफ हुआ है. उनमें चौहान के भाई राहित सिंह और चाचा के लड़के भी शामिल हैं."

ज्ञात हो कि राज्य में कांग्रेस की सरकार दावा कर रही है कि 21 लाख किसानों का दो लाख रुपये तक का कर्ज माफ हो चुका है, जबकि भाजपा राज्य सरकार के दावे को झूठा बता रही है. इसी को लेकर गांधी ने जवाब दिया.

गांधी ने कर्जमाफी का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहा, "वह सूची बताइए जो आप मुझे अपने सेल फोन पर दिखा रहे थे, उसमें किसके नाम हैं." इस पर कमलनाथ ने कहा कि चौहान के भाई रोहित सिंह चौहान और चाचा के लड़के का भी कर्ज माफ हुआ है.

राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी के सत्ता में न लौटने का दावा किया, "नरेंद्र मोदी लौट कर नहीं आ रहे, फ्लाप शो, खत्म, वह घड़ी गई, उनके चेहरे को देख लो, उनकी ऊर्जा को देख लो. उदास से हैं, वह हार रहे हैं चुनाव. इसलिए कांग्रेस को मध्य प्रदेश में पूरी ताकत लगानी है."

गांधी ने एक बार फिर 'चौकीदार चोर है' का नारा दोहराया. उन्होंने राफेल सौदे का जिक्र किया और कहा, "मेरे पास सबूत है कि चौकीदार चोर है. जब भी बोलता हूं सबूत लेकर बोलता हूं. फ्रांस के राष्ट्रपति ने बोला था कि हिदुस्तान के चौकीदार प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे कहा था कि हवाई जहाज भारत में नहीं फ्रांस में बनेगा और 526 करोड़ रुपये का हवाई जहाज नहीं खरीदा जाएगा, 1600 करोड़ रुपये का हवाई जहाज खरीदा जाएगा."

नोटबंदी और जीएसटी से हुई परेशानियों का जिक्र करते हुए गांधी ने कहा, "नोटबंदी और गब्बर सिह टैक्स (जीएसटी) के कारण व्यापार बंद हुए. ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी ने माताओं-बहनों से लेकर हर किसी की जेब से पैसा निकाला. इससे देश की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा गई."

गांधी ने आरोप लगाया, "मोदी ने पांच साल अन्याय की सरकार चलाई और कांग्रेस न्याय की सरकार चलाना चाहती है. इसीलिए न्याय योजना तैयार की गई है. इस योजना के तहत हिदुस्तान के सबसे गरीब लोगों के बैंक खातों में सीधे पैसा डाला जाएगा. 72 हजार रुपये साल के और तीन लाख 60 हजार रुपये पांच सालों में डाले जाएंगे. इस योजना से देश के पांच करोड़ परिवारों के 25 करोड़ लोगों को लाभ होगा."

उन्होंने आगे कहा, "72 हजार रुपये का नंबर उनका नहीं, बल्कि देश की जनता के दिल का नंबर है. कांग्रेस मन की बात नहीं करेगी, बल्कि देश की जनता के मन की बात सुनेगी."

उन्होंने आगे कहा, "न्याय योजना से लाखों करोड़ रुपये जैसे ही सबसे गरीब परिवारों के खातों में जाएंगे, वैसे ही खरीददारी शुरू होगी. यह खरीदी दुकानों से होगी, जैसे ही माल बिकना शुरू होगा, फैक्टरी चालू होगी. उसके बाद युवाओं को रोजगार मिलेगा. इस योजना का मकसद गरीबों की मदद तो है ही, साथ में देश की अर्थव्यवस्था को सुधारना भी है."

न्याय योजना का ब्यौरा देते हुए गाध्ांी ने कहा, "जिस भी व्यक्ति की आमदनी 12 हजार रुपये माह से कम है, उसके खाते में इस योजना की राशि तब तक जाएगी, जब तक उसकी आमदनी 12 हजार रुपये प्रति माह नहीं हो जाती."

गांधी ने कांग्रेस के सत्ता में आते ही 22 लाख नौकरियों की भर्ती का वादा भी किया और कहा, "कांग्रेस सरकार झूठे वादे नहीं करेगी. 22 लाख नौकरियां हैं, तो उतना ही कहा जाएगा. खातों में 15 लाख रुपये आने, हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने जैसे झूठे वादे नहीं किए जाएंगे."

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 May 2019, 11:53:04 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो