News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

दुर्गा पंडाल हटाने की धमकी देने वाले का यूपी पुलिस ने किया एनकाउंटर, न्यूज़ नेशन की पड़ताल में सामने आया सच

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में बुरी तरह जख़्मी एक युवक नज़र आ रहा है. जिसे दो लोग कंधे पर लादकर जंगल से बाहर निकलते दिखाई दे रहे हैं. सामने पिस्टल निकाले एक पुलिसवाला भी दिखाई देता है.

Vinod Kumar | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 01 Nov 2021, 07:31:13 PM
f09

factcheck (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा दावा करता हुआ वीडियो 
  • वीडियो में दो लोग एक शख्स को कंधे लादे भी दिख रहे हैं
  • न्यूज नेशन की पड़ताल में फेक निकला, वीडियो दिखा कर किया जा रहा दावा 

नई दिल्ली :

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में बुरी तरह जख़्मी एक युवक नज़र आ रहा है. जिसे दो लोग कंधे पर लादकर जंगल से बाहर निकलते दिखाई दे रहे हैं. सामने पिस्टल निकाले एक पुलिसवाला भी दिखाई देता है. दावा किया जा रहा है कि जिस युवक को कंधे पर लादकर लाया जा रहा है वो दुर्गा पंडाल हटाने की धमकी दे रहा था, लेकिन आदिल नाम के इस युवक का यूपी पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया. घायल होने के बाद इसे गिरफ़्तार कर लिया गया. वीडियो को शेयर करते हुए यूजर ने लिखा-"आजमगढ़ में तमंचे के दम पर दुर्गा पूजा पंडाल हटाने की धमकी देने वाले आदिल उर्फ अंसार अहमद का  स्वागत सत्कार करती UP पुलिस, ये बंगाल नही उत्तरप्रदेश हैं, जहां ममता नही बाबा का राज चलता है.

पड़ताल
चूंकि वायरल वीडियो में आज़मगढ़ का जिक्र है, इलसिए हमने आज़मगढ़ में ऐसी किसी घटना की जानकारी जुटाई, जिसमें दुर्गा पंडाल के अंदर तमंचा लहराया गया हो. तो पता चला कि करीब 2 हफ्ते पहले एक युवक ने तमंचा लहराकर लोगों को दुर्गा पंडाल हटाने की धमकी दी थी. लेकिन क्या वीडियो में तमंचा लहरा रहा युवक वही है जिसका पुलिस ने एनकाउंटर किया, हमने इसकी पड़ताल की.

कैसे सामने आया सच ?
गूगल रिवर्स इमेज टूल पर वीडियो की की-फ्रेमिंग कर हमने सर्च किया तो गौतमबुद्धनगर पुलिस का एक ट्वीट मिला. ट्वीट में इसी शख़्स की तस्वीर का इस्तेमाल किया गया था...जिसे कंधे पर लादकर बाहर लाया जा रहा है. हालांकि ट्वीट में पुलिस ने जो जानकारी दी उसके मुताबिक वायरल वीडियो आज़मगढ़ में तमंचा लहराकर धमकी देने वाले युवक का नहीं बल्कि एक अंतरराज्यीय गैंग है. जो लिफ्ट देने के बहाने लोगों को अपनी गाड़ी में बैठा था. फिर सुनसान इलाके में पेचकस से घायल करके लूट लेता था. पड़ताल में हमें पता चला कि वायरल वीडियो 17 अक्टूबर का है, जब थाना बीटा-2 क्षेत्र में चेकिंग के दौरान पुलिस ने एक बिना नंबर प्लेट वाली गाड़ी को रोका था. पुलिस को देखते ही बदमाशों ने भागने की कोशिश की. पुलिस ने पीछा किया तो बदमाशों ने फायरिंग कर दी. इसी दौरान जवाबी फायरिंग में 4 बदमाश घायल हो गए. जिन्हें पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया.

इस तरह हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत साबित हुआ है...ये बात सही है कि यूपी के आजमगढ़ में एक शख़्स ने दुर्गा पंडाल में तमंचा लहराया और लोगों को पंडाल हटाने की धमकी भी दी थी. लेकिन अंसार अहमद नाम के युवक को 14 अक्टूबर को ही गिरफ़्तार कर लिया गया था. जबकि वायरल वीडियो 17 अक्टूबर का है और वीडियो में गिरफ़्तार किए गए लोग लूटपाट करने वाले एक गैंग के हैं. थाना तरवा क्षेत्र में धार्मिक धार्मिक स्थल (दुर्गा पूजा पंडाल) पर अवैध तमंचा लहराने वाले व्यक्ति पर अभियोग पंजीकृत कर अभियुक्त को पुलिस ने किया गिरफ्तार .

 

First Published : 01 Nov 2021, 07:12:48 PM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.