News Nation Logo

Fact Check:क्या है क़ाबुल एयरपोर्ट के बाहर फटते 'सुसाइड बॉम्बर' का सच ?

काबुल एयरपोर्ट के बाहर इसका बैलेंस बिगड़ गया और सड़क पर गिरते ही इसमें धमाका हो गया। वीडियो को शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा

Written By : विनोद कुमार | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 02 Sep 2021, 07:38:20 PM
fake

सोशल मीडिया में वायरल वीडियो (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

सोशल मीडिया में 5 सेकंड का एक वीडियो वायरल हो रहा है, वीडियो में एक शख़्स धमाके के साथ उड़ता दिखाई दे रहा है, दावा किया जा रहा है वीडियो में दिखाई दे रहा शख़्स सुसाइड बॉम्बर है और इसने विस्फोटक से भरी जैकेट पहन रखी थी, लेकिन काबुल एयरपोर्ट के बाहर इसका बैलेंस बिगड़ गया और सड़क पर गिरते ही इसमें धमाका हो गया. इस वीडियो को शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा "काबुल में आईएस आतंकियों के नाकाम हमले का वीडियो लीक" लेकिन क्या यह दावा सही है.

वीडियो को देखें तो पहली नज़र में दावा सही लगता हैं....क्योंकि 26 अगस्त को क़ाबुल  एयरपोर्ट के बाहर आत्मघाती हमला हो चुका है, जिसमें 100 से ज़्यादा बेगुनाह लोगों की मौत हो गई थी...हमले की ज़िम्मेदारी तालिबान विरोधी संगठन ISIS-K ने ली थी...वायरल मैसेज में भी आईएस का जिक्र किया जा रहा है. बावजूद इसके वायरल वीडियो पर आंखें मूंदकर यकीन इसलिए नहीं किया जा सकता...क्योंकि इसमें शक की कई वजह दिखाई देती हैं.

शक की पहली वजह

'आत्मघाती हमलावर' का पहनवा...ऐसा पहनावा आमतौर पर अरब मुल्कों में पहना जाता है.

शक की दूसरी वजह

वीडियो में दिखाई दे रही लोकेशन : दावा वीडियो के काबुल एयरपोर्ट का किया जा रहा है, जहां लोगों की अच्छी खासी भीड़ है..जबकि वीडियो में दिख रही सड़क खाली पड़ी है।

शक की तीसरी वजह

कैमरे का लगातार फॉलो करना:  वीडियो में दिखाई दे रहे शख़्स को कैमरा लगातार फोलो कर रहा है, देखने में लगता है कि कैमरामैन को पहले से पता है कि कुछ होने वाला है.

हमने इंटरनेट की परतें खंगाली तो अंग्रेजी अखबार मेल टुडे में छपी एक रिपोर्ट मिली, रिपोर्ट के एक ये वीडियो भी शेयर किया गया था.

लेकिन इस रिपोर्ट में जो जानकारी दी गई, उसके मुताबिक वीडियो दुबई में एक अपार्टमेंट की खिड़की से बनाया गया, ये शख़्स होवरबोर्ड पर सवार होकर जा रहा था...इन होवरबोर्ड पर ब्रिटेन में पूरी तरह पाबंदी है, जिज्ञासावश दुबई के होटल में ठहरा फिल्ममेकर इसका वीडियो बनाने लगा, इसी दौरान हादसा हो गया और पूरा वीडियो कैमरे में कैद हो गया. लेकिन भ्रम फैलाने के मकसद से किसी ने एडिट करके वीडियो में धमाका दिखा दिया...जबकि हकीकत में इस जगह कोई धमाका नहीं हुआ था.

VFX एक्सपर्ट शैलेंद पुंडाले ने भी इस बात की पुष्टि की, कि वायरल वीडियो एडिट करके बनाया गया है। इस तरह हमारी पड़ताल में साबित हुआ कि वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है. वीडियो काबुल में सुसाइड बॉम्बर का नहीं...बल्कि दुबई में होवरबोर्ड की सवारी कर रहे शख़्स का है...जिसे एडिट करके भ्रम फैलाने की कोशिश की गई.

First Published : 02 Sep 2021, 07:30:15 PM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो