News Nation Logo

शैतानी करने पर बच्चे को थर्ड डिग्री टॉर्चर, न्यूज़ नेशन की पड़ताल में सामने आया सच

दावा किया जा रहा है कि बच्चे को पीटने वाला उसका पिता है, जो नशे में धुत है.

Vinod Kumar | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 30 Nov 2021, 12:16:26 PM
child

फैक्ट चेक (Photo Credit: twitter)

highlights

  • ढाई मिनट का यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है
  • वीडियो में एक आठ साल के बच्चे को बुरी तरह पिटते हुए दिखाया जा रहा है
  • वीडियो को तेलंगाना के हैदराबाद का बताया जा रहा था 

नई दिल्ली:

सोशल मीडिया में ढाई मिनट का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक आठ साल के बच्चे को बुरी तरह पिटते हुए दिखाया जा रहा है. वीडियो में एक आवाज़ लगातार सुनाई दे रही है. जो किसी बच्ची की मालूम पड़ती है. ये बच्ची इस लड़के को छोड़ने की गुहार लगा रही रही है. दावा किया जा रहा है कि बच्चे को पीटने वाला उसका पिता है, जो नशे में धुत होकर बच्चे को अधमरा कर देता है. दावे के मुताबिक वीडियो को बच्चे के एक पड़ोसी ने चोरी-छिपे बनाया है और इस बच्चे को एक रिश्तेदार के घर शैतानी करने की सज़ा दी जा रही है. वीडियो को शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा-"ये है कहा का पता नहीं है आप सभी इसको वायरल करो ताकी ये वीडियो प्रशासन तक पहुंच सके और इस राक्षस पर तुरन्त प्रभाव से कारवाई हो सके. मुझसे यह सब देखा नहीं गया बहन भाई को बचाने के लिए बाप के सामने गिड़गिड़ा रही है."

पड़ताल में सामन आया सच 

कुछ की-वर्ड्स की मदद से हमने वीडियो को इंटरनेट पर सर्च किया, तो एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर मिली, जिसमें इस वीडियो को तेलंगाना के हैदराबाद का बताया जा रहा था. ये अहम क्लू मिलते ही हमने अपने स्थानीय संवाददाता की मदद ली. जिन्होंने वीडियो के बारे में पूरी जानकारी जुटाई तो पता चला कि वायरल वीडियो हैदराबाद के चतुरनाका का है. इस शख़्स के एक रिश्तेदार ने बच्चे की शिकायत की थी, जिसके मुताबिक बच्चे ने उसके पर हुड़दंग किया था, जिससे नाराज होकर नशे में धुत पिता ने उसे थर्ड डिग्री टॉर्चर दिया.

चौंकाने वाली बात ये कि पिता ने ही बेटी से इस पिटाई का वीडियो बनाया ताकि बच्चे के भविष्य में ये वीडियो दिखाकर डराया जा सके. हालांकि जब बच्चे की पिटाई की जानकारी उसकी मां को मिली तो उसने चतुरनाका पुलिस को ख़बर दी, जिसके बाद आरोपी पिता को हिरासत में लिया गया. पिता पर धारा 324 और किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस तरह हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो और उसके साथ किया जा रहा दावा काफी हद तक सही पाया गया है. हालांकि इस वीडियो को बच्चे के पड़ोसी ने नहीं बल्कि खुद पिटाई करने वाले पिता ने बनाया था.

First Published : 30 Nov 2021, 12:13:29 PM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो