News Nation Logo
नीरज चोपड़ा, रवि दहिया समेत 11 खिलाड़ियों को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्ड संसद में हमने पेगासस का मुद्दा उठाया था: राहुल गांधी पेगासस देश पर, देश के संस्थानों पर एक हमला है: राहुल गांधी पेगासस को कोई प्राइवेट पार्टी नहीं खरीद सकती: राहुल गांधी आर्यन की जमानत पर सुनवाई जारी हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ अग्निकांड अत्यंत दुखद है: पीएम मोदी मलाणा गांव में त्रासदी के सभी पीड़ित परिवारों के प्रति पीएम मोदी ने संवेदना व्यक्त की राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे NCB के DDG ज्ञानेश्वर सिंह समेत NCB की 5 सदस्यीय टीम दिल्ली से मुंबई पहुंची प्रभाकर मुंबई के क्रूज़ ड्रग्स मामले में एक गवाह है दिल्ली में 1 नवंबर से खुल सकेंगे सभी स्कूल: मनीष सिसोदिया भारत सभी देशों के अधिकारों का सम्मान करता है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हम अपने समुद्रों और विशेष आर्थिक क्षेत्र की रक्षा हर कीमत पर करेंगे: राजनाथ सिंह लालू ने सोनिया से समान विचारधारा वाले लोगों और पार्टियों को एक मंच पर लाने की बात कही सोनिया जी एक मजबूत विकल्प (सत्तारूढ़ पार्टी का) देने की दिशा में काम करें: लालू प्रसाद यादव मैंने सोनिया गांधी से बात की, उन्होंने मुझसे मेरी कुशलक्षेम पूछी: राजद नेता लालू प्रसाद यादव कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने दिल्ली में बुलाई हाई लेवल बैठक पटना के गांधी मैदान बम ब्लास्ट मामले का एक आरोपी फखरुद्दीन को रिहा पटना के गांधी मैदान बम ब्लास्ट मामले में सजा 1 नवंबर को सुनाई जाएगी NIA की स्पेशल कोर्ट ने 10 आरोपियों में से नौ को दोषी करार दिया सीएम तीर्थयात्रा योजना में अयोध्या शामिल: अरविंद केजरीवाल, सीएम दिल्ली दिल्ली के लोग रामलला के दर्शन कर सकेंगे: अरविंद केजरीवाल, सीएम दिल्ली कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान, कहा- सभी 117 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

विधानसभा चुनाव से पहले यूपी के होंगे तीन हिस्से, पूर्वांचल अलग राज्य बनेगा, जानें सच

यूपी को 2 से 3 हिस्सों में बांटने को लेकर सोशल मीडिया पर एक खबर वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश को 2-3 हिस्सों में विभाजित करने और पूर्वांचल को अलग राज्य बनाने पर विचार कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 13 Jun 2021, 09:31:17 PM
Purvanchal will become a separate state

विधानसभा चुनाव से पहले यूपी के होंगे तीन हिस्से! (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • विधानसभा चुनाव से पहले यूपी में बढ़ी सियासी हलचल
  • यूपी 2 से 3 हिस्सों में बंटेगा, पूर्वांचल अलग राज्य बनेगा!
  • सोशल मीडिया पर एक खबर वायरल हो रही है

नई दिल्ली :

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले सियासी सरगर्मी तेज हो गई. दरअसल, यूपी को 2 से 3 हिस्सों में बांटने को लेकर सोशल मीडिया पर एक खबर वायरल हो रही है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश को 2-3 हिस्सों में विभाजित करने और पूर्वांचल को अलग राज्य बनाने पर विचार कर रही है. बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल उत्तर प्रदेश के विभाजन की खबर को उस बात और बल मिल गया क्योंकि बीतें दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिल्ली दौरे पर थे और उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद,  पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं से मुलाकात की थी.

आपको बता दें कि साल 2022 में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. उत्तर प्रदेश जनसंख्या के हिसाब से देश का सबसे बड़ा राज्य है. उत्तर प्रदेश को साल 2000 में दो भागों में विभाजित किया गया था, जिसके बाद 9 नवंबर 2000 को उत्तराखंड (पूर्व में उत्तरांचल) एक अलग राज्य बनाया गया था.  वहीं,  उत्तर प्रदेश को पूर्वांचल सहित तीन हिस्सों में बांटने की खबर को केंद्र सरकार ने फर्जी बताया है. इस संबंध में प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) ने  एक ट्वीट करके यूपी को तीन हिस्सों में बांटे जाने की खबर को गलत बताया है. पीआईबी ने कहा है कि एक खबर में दावा किया गया है कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश को 2-3 हिस्सों में विभाजित करने और पूर्वांचल को अलग राज्य बनाने पर विचार कर रही है. यह दावा फ़र्ज़ी है. केंद्र सरकार, उत्तर प्रदेश के अलग हिस्से करने से संबंधित कोई विचार नहीं कर रही है.

 

दरअसल, वायरल मैसेज में दावा किया गया है कि इससे पहले तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने नवंबर 2011 में प्रपोजल तैयार किया था और यूपी को चार हिस्सों में बांटने का प्रस्ताव भेजा था, तब यूपी को चार राज्यों पूर्वांचल, बुंदेलखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश आदि में बांटे जाने का प्रस्ताव था, लेकिन सपा सरकार बनने के बाद यह प्रस्ताव ठंडे बस्ते में चला गया. अब एक बार फिर केंद्र सरकार गंभीरता से इस मामले में विचार कर रही है. यूपी विधानसभा में सीएम योगी के पास पूर्ण बहुमत है, जबकि लोकसभा और राज्यसभा में एनडीए के पास बहुमत है, ऐसे में प्रस्ताव को पास करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी.

First Published : 13 Jun 2021, 09:31:17 PM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो