News Nation Logo
Banner

ट्विस्ट से भरपूर है 'Ye Kaali Kaali Ankhein' सीरीज, आम आदमी पावर में बैठे इंसान को दे रहा टक्कर

'ये काली काली आंखे' पर एक वेब सीरीज हाल ही में नेटफ्लिक्स पर रिलीज की गई है. जो क्राइम, रोमांस, थ्रिल, ड्रामा, एक्शन से भरपूर है. इस सीरीज में आपको कई बार ट्विस्ट देखने को मिलेगा, जो दर्शकों में सीरीज देखने की दिलचस्पी और बढ़ाता है.

News Nation Bureau | Edited By : Pallavi Tripathi | Updated on: 18 Jan 2022, 04:00:09 PM
web series

कट्टे वालों से हवाई चप्पल का मुकाबला (Photo Credit: @tahirrajbhasin Instagram)

नई दिल्ली:  

आपको शाहरुख खान (Shahrukh Khan) की फिल्म 'बाजीगर' (Baazigar) का गाना 'ये काली काली आंखे' (Ye Kaali Kaali Ankhein) याद तो जरूर होगा. जो उस दौरान हर कोई गुनगुनाते हुए दिख ही जाता था. इस गाने के नाम पर अब एक वेब सीरीज रिलीज की गई है. लेकिन यहां थोड़ा ट्विस्ट है, क्योंकि इस सीरीज में कोई रोमांटिक ड्रामा नहीं दिखाया गया है. बल्कि लव ट्राइएंगल है. जो क्राइम, रोमांस, थ्रिल, ड्रामा, एक्शन से भरपूर है. जिसे देखकर आप कहेंगे कि ये बिल्कुल पैसा वसूल सीरीज है. 

 
 
 
 
 
Instagram पर यह पोस्ट देखें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Tahir Raj Bhasin (@tahirrajbhasin) द्वारा साझा की गई पोस्ट

बता दें कि इस सीरीज का ट्रेलर बीते 4 जनवरी को नेटफ्लिक्स (Netflix) के युट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया था. जिसके बाद 14 जनवरी को इसका पहला एपिसोड रिलीज किया गया. ऐसे में सबसे पहले अगर बात करें कहानी की तो यहां विक्रांत चौहान (Tahir Raj Bhasin) के प्यार में एक बड़े बाप की लड़की पड़ जाती है. जबकि विक्रांत अपना दिल किसी और को दे बैठता है. लेकिन वो एक तरफा प्यार करने वाली लड़की के लिए विक्रांत को हासिल करना एक जुनून बन जाता है. जिसके लिए वो कुछ भी कर गुजरने को तैयार होती है. वहीं, इस बीच पिस रहा होता है विक्रांत. जिसे अपना प्यार भी बचाना है और बड़े पावरफुल लोगों से भिड़ना भी नहीं है. ऐसे में विक्रांत क्या करता है, वहीं दिखाया गया है.

दरअसल, विक्रांत (Tahir Raj Bhasin) एक मध्यमवर्गीय परिवार से आता है. उसके पिता श्रीकांत किसी अखेराज नाम के शख्स के यहां अकाउंटेंट का काम करते हैं. जिनकी मदद से विक्रांत का दाखिला एक बड़े स्कूल में हो जाता है. वहां जाने पर शहर के बड़े नेता और विक्रांत के पिता के मालिक अखेराज की बेटी पूर्वा (Anchal Singh) की नज़र उस पर पड़ती है. इस एक नज़र में ही विक्रांत (Tahir Raj Bhasin) उसे पसंद आ जाता है. ऐसे में वो उसकी तरफ दोस्ती के लिए हाथ आगे बढ़ाती है. लेकिन विक्रांत ये समझते हुए कि दोनों की दोस्ती उसके भविष्य के लिए सही नहीं होने वाली, वो पूर्वा को मना कर देता है. ये बात तो यही खत्म हो जाती है और पूर्वा (Anchal Singh) वो शहर छोड़कर कही और चली जाती है. लेकिन पूर्वा के दिल में अब भी विक्रांत के लिए प्यार मौजूद होता है. जो समय के साथ-साथ एक जुनून में तब्दील हो जाता है. 

 
 
 
 
 
Instagram पर यह पोस्ट देखें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Tahir Raj Bhasin (@tahirrajbhasin) द्वारा साझा की गई पोस्ट

फिर कहानी में आगे सभी बड़े हो जाते हैं. विक्रांत अब कॉलेज में होता है, जहां उसे अपना सच्चा प्यार भी मिल जाता है. वो शिखा (Shweta Tripathi Sharma) नाम की लड़की के साथ शादी कर अपने सुख-दुख बांटना चाहता है. लेकिन यही आता है विक्रांत (Tahir Raj Bhasin) की जिंदगी का टर्निंग प्वॉइंट. क्योंकि वो बचपन की पूर्वा (Anchal Singh) अब बड़ी होकर एक बार फिर विक्रांत की जिंदगी में दाखिल होती है. जहां से उसकी जिंदगी बिल्कुल बदल जाती है. पूर्वा अब शहर से लौट आई है और विक्रांत को पाने की भरपूर कोशिश करती है. साथ ही विक्रांत को शिखा से अलग भी होने के लिए मजबूर करती है. जिसके बाद कहते हैं न कि किसी को उतना नहीं डराना चाहिए कि उसके दिल से डर ही निकल जाए. कुछ ऐसा ही हुआ, विक्रांत के साथ. उसने भी एक समय पर आकर इन सबका बदला लेने की ठानी. जिसके बाद शुरू हुई खूनी जंग

सीरीज में सभी किरदारों ने अपनी-अपनी जगह बेहतरीन एक्टिंग की है. हालांकि, सीरीज के लीड एक्टर ताहिर राज भसीन की एक्टिंग सबसे दमदार रही. एक बार को देखकर आपको ऐसा लगेगा कि विक्रांत (Tahir Raj Bhasin) ही इस कहानी को आगे बढ़ा रहे हों. जबकि अन्य किरदार केवल सपोर्टिव रोल अदा कर रहे हों.

First Published : 18 Jan 2022, 04:00:09 PM

For all the Latest Entertainment News, Web Series News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.