News Nation Logo
Banner

सुशांत सिंह को CAA का विरोध करना पड़ा महंगा, इस शो से हुए बाहर

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर पूरे देशभर में विरोध प्रदर्शन जारी है

By : Akanksha Tiwari | Updated on: 18 Dec 2019, 10:05:23 AM
सुशांत सिंह

नई दिल्ली:

लोकप्रिय टीवी शो 'सावधान इंडिया' के होस्ट सुशांत सिंह (Sushant Singh) को शो से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है, वजह नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन है. दरअसल सुशांत सिंह ने कल नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन में हिस्सा लिया था, जिसके कारण उन्हें शो से आउट कर दिया गया है.

इस बारे में सुशांत सिंह (Sushant Singh) ने न्यूज़ स्टेट से बात की और बताया की उन्हें इस बात का दुख है कि वह सावधान इंडिया का हिस्सा नहीं है लेकिन सुशांत (Sushant Singh) ने कहा इस दुनिया में कुछ भी अमर नहीं है शो आएंगे जाएंगे लेकिन शो चैनल का है और मैनेजमेंट जो चाहे वह डिसाइड कर सकता है लेकिन वह इस शो का हिस्सा नहीं है. 

यह भी पढ़ें: पायल रोहतगी को मिली जमानत, नेहरू परिवार पर की थी टिप्पणी

इस बारे में सुशांत सिंह ने कहा कि अब वह इस बारे में कोई बात नहीं करने वाले मैनेजमेंट से उन्हें जो ठीक लगे वह फ़ैसला लिया उन्होंने फिलहाल सुशांत जैसे है वैसे रहेंगे और अपने बाकी काम पर ध्यान दे रहे है.

मालूम हो कि नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ देश के कई हिस्‍सो में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, दिल्‍ली में जामिया नगर और जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (Jamia Millia Islamia) में छात्रों के विरोध प्रदर्शन और पुलिस की कार्रवाई के बाद से ही नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ ये प्रदर्शन और भी तेज हो गए हैं. इस घटना के बाद से सोमवार को हैदराबाद, लखनऊ (Lucknow), मुम्बई और कोलकाता सहित देश के कई विश्वविद्यालय परिसरों में इसका विरोध हुआ.

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर पूरे देशभर में विरोध प्रदर्शन जारी है. कहीं तो ये प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से हो रहा है, तो कहीं इसने हिंसक रूप ले लिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन प्रदर्शनों को दुखद एवं निराशाजनक बताते हुए शांति की अपील की है.

यह भी पढ़ें: वेटरन बॉलीवुड एक्टर डॉक्टर श्रीराम लागू का 92 वर्ष की आयु में निधन

गौरतलब है कि रविवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्रों ने सीएए (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन किया था. इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों ने बसों और दोपहिया वाहनों को आग के हवाले कर दिया. बता दें कि मंगलवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद-सीलमपुर (Jafrabad-Seelampur) इलाके में हिंसक प्रदर्शन हुए थे. इस दौरान गाड़ियों के शीशे भी तोड़े गए. इस प्रदर्शन में कुल 18 लोग जख्मी हुए थे, घायलों में 11 दिल्ली पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी और 7 आम नागरिक हैं. इस मामले में पुलिस ने दो अलग-अलग मामले दर्ज कर फिलहाल 5 लोगों को हिरासत में ले लिया है. सूत्रों के अनुसार, भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को बल प्रदर्शन करना पड़ा था, पुलिस ने कई जगहों पर आंसू गैस के गोले दागे हैं.

First Published : 18 Dec 2019, 10:05:23 AM

For all the Latest Entertainment News, TV News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.