News Nation Logo
ओमिक्रॉन पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी 66 और 46 साल के दो मरीज आइसोलेशन में रखे गए भारत में ओमीक्रॉन वायरस की पुष्टि कर्नाटक में मिले ओमीक्रॉन के 2 मरीज सीएम योगी आदित्यनाथ ने प. यूपी को गुंडे-माफियाओं से मुक्त कराकर उसका सम्मान लौटाया है: अमित शाह जहां जातिवाद, वंशवाद और परिवारवाद हावी होगा, वहां विकास के लिए जगह नहीं होगी: योगी आदित्यनाथ पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में देश में चक्रवात से संबंधित स्थिति पर हुई समीक्षा बैठक प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों का एयरपोर्ट पर RT-PCR टेस्ट किया जा रहा है: सत्येंद्र जैन दिल्ली में पिछले कुछ महीनों से कोविड मामले और पॉजिटिविटी रेट काफी कम है: सत्येंद्र जैन आंदोलनकारी किसानों की मौत और बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में नारेबाजी की दिल्ली में आज भी प्रदूषण का स्तर काफी खराब, AQI 342 पर पहुंचा बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बैठकर गाया राष्ट्रगान, मुंबई BJP के एक नेता ने दर्ज कराई FIR यूपी सरकार ने भी ओमीक्रॉन को लेकर कसी कमर, बस स्टेशन- रेलवे स्टेशन पर होगी RT-PCR जांच

अमोल पराशर की फिल्म कैश नोटबंदी की दिला रही याद

आपको 9 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन तो याद ही होगा. पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा कर देशवासियों को नींद उड़ा दी थी.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 19 Nov 2021, 09:23:09 PM
case

अमोल पराशर की फिल्म कैश नोटबंदी की दिला रही याद (Photo Credit: फाइल फोटो)

  • Rating
  • Star Cast
  • अमोल पराशर
  • Director
  • ऋषभ सेठ
  • Producer
  • ऋषभ सेठ
  • Genre
  • कॉमेडी
  • Duration
  • 1.5

नई दिल्ली:

आपको 9 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन तो याद ही होगा. पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा कर देशवासियों को नींद उड़ा दी थी. नोटबंदी के 5 साल बाद ऋषभ सेठ की ओर से निर्देशित फिल्म कैश नोटबंदी की एक बार फिर याद दिला रही है. फिल्म कैश को देखकर आप हंस-हंसकर लोटपोट हो जाएंगे. इस फिल्म में अमोल पराशर ने लीड रोल निभाया है, जो अपना स्टार्टअप खड़ा करना चाहता है. लेकिन किस्मत की मार उन्हें बार बार निराश कर देती है। 

हॉटस्टार पर फिल्म कैश रिलीज की गई है. फिल्म का प्लॉट कुछ ऐसा है कि आपको लगेगा कि आप खुद ये फिल्म देख नहीं रहे हैं, बल्कि छह साल पहले के उस वक्त को जी रहे हैं. फिल्म में अमोल पाराशर एक ऐसे युवक की भूमिका में हैं जो अलग-अलग व्यापार करता है, लेकिन उसे सफलता नहीं मिलती. इस बीच नोटबंदी से उसकी जिंदगी में अचानक भूचाल आ जाता है. जैसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि आपदा को अवसर में बदलो वैसे ही अमोल आपदा को अवसर में बदल देता है. फिल्म में गुलशन ग्रोवर समेत कई बड़े एक्टर्स ने काम किया है.

ऐसा बिजनेस अमोल पाराशर स्टार्टअप करते हैं, जिसमें वो करोड़ों रुपये कमीशन लेकर लोगों की ब्लैकमनी को व्हाइट करने का ऑफर देने लगते हैं. उन्हें पांच करोड़ ब्लैकमनी से व्हाइट करने का काम मिलता है और फिर शुरू होता है चूहे बिल्ली का खेल जो फिल्म को अलग-अलग मोड़ से लेकर जाता है.

First Published : 19 Nov 2021, 09:17:43 PM

For all the Latest Entertainment News, Movie Review News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.