News Nation Logo

सुशांत सिंह के दोस्त और नौकर ने CBI के सामने किए कई अहम खुलासे

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पठानी और नौकर दीपेश सावंत ने सीबीआई की पूछताछ में कई अहम खुलासे किए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Aug 2020, 10:50:36 PM
sushant singh case

सुशांत सिंह राजपूत केस (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पठानी और नौकर दीपेश सावंत ने सीबीआई की पूछताछ में कई अहम खुलासे किए हैं. सूत्रों के मुताबिक, दीपेश सावंत ने सीबीआई को बताया कि आखिरकार 13 जून की रात से लेकर 14 तारीख की दोपहर तक क्या हुआ. दीपेश सावंत उन 4 लोगों में से एक है, जोकि 13 जून की रात से लेकर 14 जून की दोपहर तक सुशांत के फ्लैट नंबर 601 में मौजूद था.

सूत्रों के मुताबिक, दीपेश सावंत ने सीबीआई को बताया कि 13 जून की रात वह सुशांत सिंह राजपूत के पास गया और डिनर के लिए पूछा, लेकिन सुशांत ने डिनर करने से मना कर दिया. सुशांत ने दीपेश को सिर्फ मैंगो शेक लाने के लिए कहा. सावंत को सुशांत सिंह राजपूत ने यह भी कहा तुम सब जाओ और खाना खा लो.

सावंत ने सीबीआई को बताया कि उसने अपना खाना खाया और फिर मोबाइल पर मूवी देखनी शुरू कर दी. रात करीब 10:30 बजे जब उसने सुशांत सिंह राजपूत को फोन किया तो उन्होंने उसका फोन नहीं उठाया. उसने सोचा की सुशांत सिंह राजपूत सो गए हैं. अगले दिन सुबह सावंत करीब 5:30 बजे उठा अपने रोजमारह के काम खत्म करने के बाद वह सीढ़ियों से ऊपर सुशांत सिंह राजपूत के कमरे की तरफ गया. जैसी ही उसने दरवाजा खटखटाया उसने देखा सुशांत सिंह राजपूत पहले से उठे हुए हैं और अपने बेड पर खड़े हुए हैं. सावंत ने सुशांत सिंह राजपूत को गुड मॉर्निंग कहा और पूछा कि क्या चाय ला दूं लेकिन सुशांत सिंह राजपूत ने मना कर दिया और साथ ही नाश्ता लाने के लिए भी मना कर दिया. सूत्रों के मुताबिक, यह बयान दीपेश सावंत ने सीबीआई के सामने दर्ज करवाए हैं. 

सीबीआई को दिए गए बयान के मुताबिक, सुबह तकरीबन 7:00 बजे केशव और नीरज उठे. सूत्रों के मुताबिक, नीरज ने जांच एजेंसी को बताया कि उसने सुशांत को 8:00 से 8:15 के बीच सीढ़ियों पर देखा. सुशांत ने नीरज से ठंडा पानी लाने के लिए कहा. करीब 1 घंटे बाद केशव ऊपर सुशांत के कमरे में गया और उसे अनार का जूस दिया. साथ में नारियल पानी भी दिया. उस वक्त घड़ी में करीब 9:15 बज रहे थे. यह वह वक्त था जब उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को आखिरी बार देखा था.

सूत्रों के मुताबिक, सिद्धार्थ पठानी ने अपने बयान जो सीबीआई को दर्ज कराए हैं. उसमें कहा कि सुबह करीब 10.30 बजे जब सुशांत ने अंदर से दरवाजा बंद किया हुआ था तो मैंने तुरंत इस बात की जानकारी सुशांत की बहन नीतू को दी कि सुशांत सिंह राजपूत दरवाजा नहीं खोल रहे हैं. इन सब में तकरीबन 1 घंटा बीत चुका था. इसी बीच इस बात की जानकारी उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के मैनेजर सैमुअल मिरांडा को भी दी.

सीबीआई को दिए बयान के मुताबिक, सिक्योरिटी गार्ड राजू से पूछा कि क्या वह किसी चाबी वाले को जानता है, कमरे का दरवाजा जाम हो गया है. इसके बाद गूगल पर एक चाबी बनाने वाले का नाम सर्च कर उसे बुलाया गया. चाबी बनाने वाले ने ₹2000 मांगे, लेकिन उन्होंने चाबी वाले को यह नहीं बताया था कि जो घर है वह सुशांत सिंह राजपूत का है. चाबी बनाने वाला आया उसने कमरे का लॉक ब्रेक किया. 

सूत्रों के मुताबिक, दिए गए बयान में सबसे पहले सावंत और पठानी कमरे के अंदर गए नीरज कमरे के बाहर खड़ा था कमरे की लाइट बंद थी और पर्दे ढके हुए थे जैसे उन्होंने लाइट जलाई सभी अचंभित रह गए. सुशांत सिंह राजपूत पंखे से लटका हुआ था. पठान ने सीबीआई को बताया कि उसने तुरंत इस बात की जानकारी नीतू को फोन कर दी.

पीठनी ने बयान में बताया कि उसे सुशांत की बड़ी बहन और उसके पति ने फोन कर सुशान्त को तुरंत नीचे उतारने के लिए कहा था, इसीलिए 5 मिनट में पीठनी और अन्य ने सुशांत के कुर्ते को काट कर उसे नीचे उतार लिया था. इन सभी के बयानों में सीबीआई को विरोधाभास लगा था, इसीलिए इनके बयान न कैमरा कई बार दर्ज हुए. अब सीबीआई इनके बयानों की सच्चाई जांचने में जुटी है. यही वजह है कि सभी से कई मर्तबा पूछताछ की जा रही है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 Aug 2020, 10:50:36 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.