News Nation Logo

Kadvi Hawa Trailer: क्लाइमेट चेंज पर रुला देगी संजय मिश्रा-रणवीर शौरी की फिल्म

फिल्म में संजय मिश्रा एक अंधे वृद्ध की भूमिका निभा रहे हैं, जो सूखाग्रस्त बुन्देलखण्ड में रह रहा है। उनके बेटे ने खेती के लिए कर्ज लिया है, लेकिन सूखे के कारण फसल अच्छी नहीं हो सकी और अब उसे कर्ज चुकाने की चिंता सता रही है।

News Nation Bureau | Edited By : Sunita Mishra | Updated on: 31 Oct 2017, 12:46:09 PM
Kadvi Hawa trailer: क्लाइमेट चेंज पर रुला देगी संजय-रणवीर की फिल्म

नई दिल्ली:

बॉलीवुड में मसाला और कर्मिशल फिल्में हमेशा से चर्चा का विषय बनती रही हैं। लेकिन इसी चकाचौंक में कई गंभीर फिल्में भी अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रही हैं। इन फिल्मों ने समाज में अपनी जड़ें मजबूत कर रही समस्याओं को दिखाकर दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खीचा है।

'आई एम कलाम' और 'जलपरी' जैसी फिल्मों का निर्माण करने वाले नील माधव पांडा एक और सेंसिबल फिल्म के साथ हाजिर हैं। पांडा की फिल्म 'कड़वी हवा' का ट्रेलर रिलीज हो गया है। जल संकट पर आधारित यह फिल्म सूखाग्रस्त बुंदेलखंड की है और ये सच्ची कहानी पर है।

मौजूदा समय में दुनिया के सामने सबसे बड़ी समस्या जलवायु परिवर्तन की सामने आ रही है। इससे होने वाले बदलावों के बाद आने वाली तबाहियों पर सारी दुनिया चिंतित है। इसी कड़ी में एक ओर गंभीर फिल्म आई है, जिसमें बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार संजय मिश्रा और रणवीर शौरी अहम भूमिका निभा रहे हैं।

और पढ़ें: इरफान खान बोले- दीपिका खूबसूरत होने के साथ बहुत अच्छी इंसान हैं

फिल्म में संजय मिश्रा एक अंधे वृद्ध की भूमिका निभा रहे हैं, जो सूखाग्रस्त बुन्देलखण्ड में रह रहा है। उनके बेटे ने खेती के लिए कर्ज लिया है, लेकिन सूखे के कारण फसल अच्छी नहीं हो सकी और अब उसे कर्ज चुकाने की चिंता सता रही है।

ट्रेलर में संजय मिश्रा का एक डायलॉग है, 'हमारे यहां जब बच्चा जन्म लेता है तो हाथ में तकदीर की जगह कर्जे की रकम लिख के लाता है, जो आपको काफी भावुक कर देगा।'

दूसरा में रणवीर शौरी फिल्म में रिकवरी एजेंट का किरदार निभा रहे हैं। वह ओडिशा से विस्थापित होकर आया है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण समुद्र का जलस्तर बढ़ रहा है और उसे डर है कि उसका घर भी कहीं ना डूब जाए। रिकवरी एजेंट लोन वसूलना चाहता है, ताकि वह अपने परिवार को सुरक्षित स्थान पर ले जा कर सके।

फिल्म के ट्रेलर में विरोधाभास स्थितियों का जिक्र किया गया है। एक तरफ एक तरफ ओडिशा में पानी का होना तबाही की वजह बन रहा है, तो दूसरी तरफ बुंदेलखंड में पानी का न होना।

और पढ़ें: देवउठनी एकादशी 2017: जानें तुलसी विवाह का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 31 Oct 2017, 10:06:13 AM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.