News Nation Logo

मैं राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के रूप में नहीं देखता, प्रख्‍यात संगीतकार जावेद अख्‍तर बोले

जावेद अख्तर ने ये बयान भोपाल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही

News Nation Bureau | Edited By : Vivek Kumar | Updated on: 02 May 2019, 01:28:41 PM

नई दिल्ली:  

प्रख्‍यात संगीतकार जोवद अख्‍तर (Jawed Akhtar) की बातों को हथियार बनाकर बीजेपी (BJP) पर अकसर हमला करने वाली कांग्रेस (Congress) को बड़ा झटका लगा है. वो भी जावेद अख्‍तर (Jawed Akhtar) ने ही दिया है. कांग्रेस शासित मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में आयोजित प्रेस वार्ता में जावेद अख्‍तर ने कहा, "मैं राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को प्रधानमंत्री के रूप में नहीं देखता. माना जा रहा है कि जावेद अख्‍तर के इस बयान से कांग्रेस के राहुल गांधी को पीएम पद के रूप में प्रोजेक्‍ट करने के प्रयासों को बड़ा धक्‍का लगा है.

प्रेस कांफ्रेंस में जावेद अख्‍तर ने साध्‍वी प्रज्ञा (Sadhwi Pragya) पर भी कटाक्ष किया. उन्‍होंने कहा- "जब उनके श्राप से एक देशभक्त ऑफिसर शहीद हो सकता है तो ऐसे श्राप को नेशनल वाइस के रूप में इस्तेमाल करना चाहिए. मैं मोदी जी को यह सुझाव दूंगा कि इनके श्राप को हाफिज सईद और दूसरे आतंकियों पर इस्तेमाल किया जाए.

श्रीलंका में आतंकी हमले (Sri Lanka Terror Attack) के बाद वहां की सरकार द्वारा बुर्के पर प्रतिबंध लगाने के बाद भारत में भी इस तरह की उठ रही मांग पर जावेद अख्‍तर बोले- सरकार बुर्के के साथ राजस्थान में घूंघट पर भी बैन लगाए, तब जाकर इसका उद्देश्‍य पूरा होगा.

इससे पहले पिछले दिनों बिहार के बछवाड़ा के लोहिया मैदान में बॉलीवुड के प्रख्यात गीतकार जावेद अख्तर ने कहा था- वैसे लोग जो आजादी की लड़ाई में अंग्रेजों के साथ थे, आज वही लोगों को देशप्रेम का पाठ पढ़ा रहे हैं. वे वैसे लोगों को वंदे मातरम बोलने के लिए कह रहे हैं, जिन्होंने आजादी के पूर्व से ही वंदे मातरम कहा है. देश को धर्म, कर्म और जाति के आधार पर टुकड़ों में बांटने वाले लोग आज दूसरों पर टुकड़े-टुकड़े का आरोप मढ़ रहे हैं. जिनके पास आजादी का एक भी हीरो नहीं, वे राष्ट्रवाद की बात कर रहे हैं. उनका इशारा बीजेपी और उसके नेताओं की तरफ था.

First Published : 02 May 2019, 12:27:16 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.