logo-image
लोकसभा चुनाव

राजेश खन्ना को फरीदा जलाल ने बताया घमंडी, बोलीं- एक्टर को था इस चीज का गुमान

Actress Farida Jalal On Rajesh Khanna: बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री फरीदा जलाल ने अपने एक इंटरव्यू में राजेश खन्ना को घमंडी व्यक्ति बताया था। फरीदा जलाल हाल ही में वेब सीरीज हीरामंडी में नजर आई थीं.

Updated on: 12 Jun 2024, 03:34 PM

नई दिल्ली:

फरीदा जलाल बॉलीवुड की एक लीजेंड एक्ट्रेस हैं. उन्होंने इंडस्ट्री की कई बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम किया है, हाल ही में एक्ट्रेस ने अपने अतीत के बारे में कुछ यादें ताजा कीं, उनमें से एक एक्ट्रेस की फिल्म "आराधना" थी, जिसमें उन्होंने राजेश खन्ना की प्रेमिका रेणु की भूमिका निभाई थी. फरीदा के अनुसार, राजेश खन्ना फिल्म की रिलीज के बाद थोड़े अहंकारी हो गए थे, जिसमें उन्हें डबल रोल में देखा गया था. यह फिल्म ब्लॉकबस्टर हिट रही. जिसके बाद राजेश खन्ना थोड़े घमंडी हो गए थे. फरीदा जलाल ने अपने शुरुआती करियर और 1969 की फिल्म "आराधना" से की थी.

फरीदा जलाल ने राजेश खन्ना को कहा घमंडी 

फिल्म "कभी खुशी कभी गम" और "दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे" में अपनी भूमिकाओं के लिए फेमस एक्ट्रेस फरीदा जलाल ने अपने शुरुआती करियर और 1969 की फिल्म "आराधना" में दिग्गज राजेश खन्ना के साथ काम करने के अपने अनुभव को याद किया. "आराधना" में फरीदा ने राजेश खन्ना के किरदार की प्रेमिका रेणु की भूमिका निभाई थी. यह फिल्म खास तौर पर महिला ऑडियंस के बीच काफी सफल रही. एक इंटरव्यू में, "शरारत" एक्ट्रेस ने राजेश खन्ना के साथ काम करने के अपने एक्सपीरियंस किए.

"आराधना" की सफलता के बाद एक्टर में आया बदलाव

उन्होंने इसे एक सुखद एक्सपीरियंस बताते हुए कहा कि "आराधना" की सफलता के बाद एक्टर के व्यवहार में बदलाव देखा. फरीदा के अनुसार, राजेश खन्ना, जिन्हें मूल रूप से जतिन के नाम से जाना जाता था, फिल्म की रिलीज के बाद थोड़ा अहंकारी हो गए थे, जिसमें उन्हें डबल रोल में देखा गया और यह ब्लॉकबस्टर हिट रही. फरीदा ने बताया, 'आराधना' की सफलता के बाद जतिन राजेश खन्ना बन गए और उस समय तक, वे थोड़े अहंकारी भी हो गए थे. फिल्म की सफलता ने उनकी प्रसिद्धि को बढ़ाया और वे इसके हकदार थे क्योंकि उन्होंने 'आराधना' में बहुत अच्छा अभिनय किया था.

फरीदा जलाल नाराज रहते थे राजेश खन्ना

उन्होंने आगे कहा, ईमानदारी से कहूं तो, मैं उन्हें कभी इतना पसंद नहीं करती थी और इस वजह से वे थोड़े नाराज थे. रिलीज के बाद, फिल्म कई हफ्तों तक चली और 25 हफ्तों में सिल्वर जुबली, 50 हफ्तों में गोल्ड जुबली और 75 हफ्तों में डायमंड जुबली बन गई. इसे वास्तव में हिट फिल्म कहा गया. डायमंड जुबली अवार्ड के लिए शहर के दौरे के दौरान, हमने बेहतर समझ विकसित की. राजेश खन्ना के साथ अपनी बातचीत को याद करते हुए फरीदा ने कहा, उन दिनों काका राजेश खन्ना और मैं दोस्त बन गए थे.