News Nation Logo
Banner

किसान आंदोलन: विलेन हॉलीवुड के खिलाफ खड़ा हुआ बॉलीवुड Live

कैलाश खेर ने लिखा, ''बढ़ते वर्चस्व को देख भारत विरोधी किसी भी हद तक गिर रहे हैं. महामारी के इस दुखद दौर में भी भारत मानवता की खातिर कई देशों में वैक्सीन की आपूर्ति कर मदद कर रहा है.''

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 03 Feb 2021, 06:46:04 PM
किसान आंदोलन: विलेन हॉलीवुड के खिलाफ खड़ा हुआ बॉलीवुड

किसान आंदोलन: विलेन हॉलीवुड के खिलाफ खड़ा हुआ बॉलीवुड (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों का मुद्दा अब अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनता जा रहा है. कृषि कानून के विरोध में दिल्ली के अलग-अलग सीमाओं पर किसानों के आंदोलन पर अंतरराष्ट्रीय सेलेब्रिटीज ने भी भारत के खिलाफ दुष्प्रचार शुरू कर दिया है. पॉप सिंगर रिहाना और पूर्व एडल्ट स्टार मियां खलीफा भी किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट कर मामला गरम कर दिया है.

किसान आंदोलन को लेकर भारत के खिलाफ हो रहे दुष्प्रचार पर अब बॉलीवुड भी आगे आता हुआ दिखाई दे रहा है. अक्षय कुमार, अजय देवगन, करण जौहर और कैलाश खेर ने ट्वीट कर भारत का समर्थन किया और देश के खिलाफ हो रहे दुष्प्रचार पर करारा जवाब दिया है.

अक्षय कुमार ने ट्विटर पर लिखा, ''किसान हमारे देश का एक अत्यंत महत्वपूर्ण हिस्सा हैं. किसानों के मुद्दों को हल करने के लिए किए जा रहे प्रयास जगजाहिर हैं. मतभेद पैदा करने वाले किसी व्यक्ति पर ध्यान देने के बजाय एक सौहार्दपूर्ण संकल्प का समर्थन करें.''

अजय देवगन ने ट्वीट कर लिखा, ''भारत या भारतीय नीतियों के खिलाफ किसी भी प्रकार के झूठे प्रचार की तरफ ध्यान न दें. ऐसे समय में जरूरी है कि हम सभी एकजुट रहें.''

कैलाश खेर ने लिखा, ''बढ़ते वर्चस्व को देख भारत विरोधी किसी भी हद तक गिर रहे हैं. महामारी के इस दुखद दौर में भी भारत मानवता की खातिर कई देशों में वैक्सीन की आपूर्ति कर मदद कर रहा है. चलिए हम सभी महसूस करें कि भारत एक है और हम अपने देश के खिलाफ टिप्पणियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे.''

करण जौहर ने ट्विटर पर लिखा, ''हम अशांत समय में रहते हैं और समय की आवश्यकता हर मोड़ पर विवेक और धैर्य है. आइए, हम मिलकर हर संभव प्रयास करें कि हम ऐसे समाधान निकालें जो सभी के लिए काम करें- हमारे किसान भारत की रीढ़ हैं. हमें किसी को भी विभाजित नहीं होने देना चाहिए.''

तीन सांसदों को मार्शल उठाकर बाहर ले जा रहे हैं और पूरी की पूरी कांग्रेस पार्टी खड़े होकर तमाशा देख रही है. किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी में गुपचुप समझौता हो चुका है. इसलिए मुखर तरीके कांग्रेस इसका विरोध नहीं कर रही है.

कांग्रेस के LOP गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हमने तो तय किया था हम उसके साथ खड़े हैं, मैं पूछना चाहता हूं कि कांग्रेस और बीजेपी ने आपस मे मिलकर क्या तय किया है.


 

आज सदन के अंदर जब मैं किसानों की आवाज़ को उठा रहा था तो एक ही मांग थी कि कम से कम किसानों के मुद्दे पर चर्चा तो के लें, काले कानूनों को वापस ले लें. कहते हैं राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा में उस मुद्दे पर भी बोल लेना, ऐसा क्यों? अकेले आम आदमी पार्टी ने इस मुद्दे को सदन में उठाया.


 

आज आम आदमी पार्टी ने अकेले देश के सर्वोच्च सदन में किसानों के मुद्दे को उठाया और कहा कि पहले किसानों के मुद्देपर चर्चा कीजिये और इस बिल को वापस लीजिये. 97 साल के किसान इलम सिंह गाज़ीपुर बॉर्डर पर बैठे हैं जिनके 2 बेटे फौज में हैं वो. 


 

सिंघू टीकरी गाज़ीपुर बॉर्डर बीजेपी के राज में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि चीन और पाकिस्तान की सीमा हो गई है वहाँ पर कील गाड़ी गई हैं, सीमेंट की दीवार खड़ी कर दी गई है. पिछले 75 दिन से किसान आंदोलन पर हैं... 80 साल के किसान को जेल में डाल दिया... इस सरकार में रहम नाम की चीज़ नहीं बची.


 

गिरफ्तार किसानों को रिहा किया जाए।इसके बाद ही वार्ता सम्भव.


First Published : 03 Feb 2021, 03:11:55 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.