News Nation Logo

अभिनेत्री सुधा चंद्रन का छलका दर्द, चेकिंग के समय कृत्रिम पैर की जांच पर मोदी से की अपील

अभिनेत्री सुधा चंद्रन ने खुलासा किया है कि जब भी वह उड़ान भरने के लिए हवाईअड्डे पर पहुंचती हैं, तो उन्हें हर बार उनका कृत्रिम अंग हटाने के लिए कहा जाता है. अपनी परेशानियों को लेकर उन्होंने एक वीडियो शेयर किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 22 Oct 2021, 03:49:39 PM
sudha chandran

sudha chandran (Photo Credit: instagram)

highlights

  • सुधा चंद्रन ने एक वीडियो शेयर कर अपना दर्द बयां किया
  • कहा, हवाईअड्डे पर बार-बार कृत्रिम अंग हटाने से हैं परेशान
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस व्यवस्था को ठीक करने की अपील की

नई दिल्ली:

अभिनेत्री सुधा चंद्रन ने खुलासा किया है कि जब भी वह उड़ान भरने के लिए हवाईअड्डे पर पहुंचती हैं, तो उन्हें हर बार उनका कृत्रिम अंग हटाने के लिए कहा जाता है. अपनी परेशानियों को लेकर उन्होंने एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो के जरिए सुधा चंद्रन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक कार्ड जारी करने की अपील की है. हालांकि बाद में इसे लेकर सीआईएसएप ने ट्वीट करते हुए खेद जताया है. सीआईएसएप ने ट्विटर हैंडल पर लिखते हुए कहा कि सुधा चंद्रन को हुई असुविधा के लिए हमें अत्यंत खेद है. प्रोटोकॉल के अनुसार विशेष परिस्थितियों में ही सुरक्षा जांच के लिए प्रोस्थेटिक्स को हटाया जाता है. 

यह भी पढ़ें : अनन्या पांडे अपनी ही हरकतों से होती हैं ट्रोल , इस बार लेकिन वजह है कुछ और

56 वर्षीय अभिनेत्री सुधा चंद्रन ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो में अपनी आपबीती साझा की है. वह वीडियो में कहती हैं, "गुड इवनिंग, यह एक बहुत ही निजी विचार है जो मैं अपने प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को बताना चाहती हूं, यह केंद्र सरकार से एक अपील है, मैं सुधा चंद्रन, एक अभिनेत्री और पेशे से डांसर हूं जिन्होंने कृत्रिम अंग के साथ नृत्य किया है और इतिहास रचा है और मेरे देश को मुझ पर बहुत गर्व है. एक अभिनेता और नर्तक के रूप में कृत्रिम अंगों के साथ प्रदर्शन करके भारत को गौरवान्वित किया है.

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Sudhaa Chandran (@sudhaachandran)

सुधा चंद्रन ने वीडियो में कहा कि हर बार जब वह यात्रा करती हैं तो वह सीआईएसएफ से अधिकारियों से हवाईअड्डे पर ईटीडी (एक्सप्लोसिव ट्रेस डिटेक्टर) चालू करने का अनुरोध करती हैं, लेकिन वे लोग उन्हें कृत्रिम अंग हटाने की गुजारिश करते हैं. सीआईएसएप ने ट्विटर हैंडल पर लिखते हुए कहा कि सुधा चंद्रन को हुई असुविधा के लिए हमें अत्यंत खेद है. प्रोटोकॉल के अनुसार विशेष परिस्थितियों में ही सुरक्षा जांच के लिए प्रोस्थेटिक्स को हटाया जाता है. 

First Published : 22 Oct 2021, 03:38:54 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.