News Nation Logo
Agnipath Scheme: आज से Air Force में भर्ती के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होंगे 2002 Gujarat Riots: जाकिया जाफरी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज Agnipath Scheme: एयरफोर्स के लिए अग्निवीरों का रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ऐसे करें आवेदनRead More » राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा 27 जून को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना नामा Coronavirus: भारत में 17000 से ज्यादा केस, 5 माह में सबसे ज्यादा मामलेRead More » यशवंत सिन्हा को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का 'जेड (Z)' श्रेणी का सशस्त्र सुरक्षा कवच प्रदान किया NCP प्रमुख शरद पवार से मिलने मुंबई के लिए शिवसेना नेता संजय राउत वाई.बी. चव्हाण सेंटर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी जांच के खिलाफ जाकिया जाफरी की याचिका की खारिजRead More » महाराष्ट्र सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को करेगा सुनवाई

Lok Sabha Election 2019: उत्तर प्रदेश के मोहनलालगंज में आसान नहीं होगी बीजेपी की राह

एक आधुनिक महानगरी सीट जबकि दूसरी खालिस ग्रामीण सीट है.

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 06 May 2019, 07:05:15 AM
लखनऊ से राजनाथ सिंह और  मोहनलालगंज कौशल किशोर (फाइल फोटो)

लखनऊ:  

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में उत्तर प्रदेश के लखनऊ (Lucknow) में लोकसभा की दो सीटें हैं, लखनऊ और मोहनलालगंज (Mohanlalganj). 2014 में दोनों सीट पर BJP का ही कब्ज़ा हुआ था. राजनाथ सिंह लखनऊ (Lucknow) से और कौशल किशोर मोहनलालगंज सुरक्षित सीट से सांसद हुए, दोनों सीटों पर कुल 35 लाख वोटर्स हैं. आपको बता दें कि एक जिले की 2 लोकसभा सीट, लेकिन दोनों की शक्ल और सूरत बिल्कुल अलग है. एक आधुनिक महानगरी सीट जबकि दूसरी खालिस ग्रामीण सीट है.

यह भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव: अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह को फिर दिया झटका

लखनऊ में राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) की जीत आसान दिखती है, जबकि मोहनलालगंज में मौजूदा सांसद कौशल किशोर का संसद पहुंचने का सपना गठबंधन के उम्मीदवार के आगे लगभग नामुमकिन दिख रहा है. पेयजल, प्रदूषण, ट्रैफिक जाम और बढ़ती आबादी लखनऊ की बड़ी समस्या है तो कम होते रोजगार के मौके, विकास से दूरी और नेताओं की अनदेखी मोहनलाल गंज की बड़ी समस्याओं में शामिल हैं.

यह भी पढ़ें- आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर रोडवेज की AC बस में लगी आग, 4 की मौत

लोग हर बार की तरह इस बार भी वोट डालेंगे लेकिन नेताओं से बहुत उम्मीद भी नहीं रखते हैं, हालांकि लखनऊ में मोदी मैजिक का असर अब भी है. लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने गृह मंत्री के पद का फायदा उठाते हुए लखनऊ में विकास के कई बड़े काम किये हैं. कानपुर, फैज़ाबाद, सीतापुर और लखनऊ को जोड़ता 101 km का आउटर रिंग रोड राजनाथ की सबसे बड़ी उपलब्धि है, लेकिन विकास लखनऊ में कोई बड़ा मुद्दा नहीं है.

यह भी पढ़ें- गाजियाबादः मॉर्निंग वॉक पर निकले सब इंस्‍पेक्‍टर को गोलियों से किया छलनी

अगर ऐसा होता तो लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे और मेट्रो, गोमती रिवर फ्रंट बनाने वाले और पुराने लखनऊ में सैकड़ों करोड़ की परियोजना देने वाले अखिलेश यादव 2012 में 9 में से 7 सीट की जगह 2019 में विधानसभा की 9 में से सिर्फ 1 सीट पर ना सिमट जाते.

यूपी में किसको मिलेगा टिकट, उम्मीदवारों पर होगा मंथन, देखें VIDEO

First Published : 06 May 2019, 07:05:15 AM

For all the Latest Elections News, VIP Candidates News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.