News Nation Logo
Banner

उत्तरी-पूर्व दिल्ली में मनोज तिवारी को कड़ी चुनौती देंगी शीला दीक्षित, नई दिल्ली सीट की जंग होगी हाई प्रोफाइल

अभी तक तो बीजेपी ने अपने पुराने धुरंधरों पर ही भरोसा जताया है, लेकिन नई दिल्ली से पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर को उतार कर बीजेपी एक तीर से कई निशाने साधना चाहती है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 22 Apr 2019, 12:02:32 PM
मनोज तिवारी और शीला दीक्षित आमने-सामने

मनोज तिवारी और शीला दीक्षित आमने-सामने

नई दिल्ली.:

आप से गठबंधन की संभावनाओं को आखिरकार पूरी तरह से विराम लगाते हुए दिल्ली कांग्रेस (Congress List) ने सोमवार को संसदीय सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए. कांग्रेस की इस लिस्ट में पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का नाम भी है. खास बात यह है कि अभी तक बीजेपी ने चार सीटों पर ही अपने प्रत्याशी घोषित किए हैं. अभी तक तो बीजेपी ने अपने पुराने धुरंधरों पर ही भरोसा जताया है, लेकिन नई दिल्ली से पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर को उतार कर बीजेपी एक तीर से कई निशाने साधना चाहती है.

उत्तरी-पूर्व दिल्ली
सोमवार को कांग्रेस की जारी लिस्ट में शीला दीक्षित को उत्तरी-पूर्व दिल्ली (North-East Delhi) से टिकट दिया गया है. वहां उनका मुकाबला बीजेपी के मनोज तिवारी से होगी. शीला दीक्षित की छवि बेदाग रही है. हालांकि अंदरखाने की राजनीति उन पर भारी पड़ सकती है. खासकर यह देखते हुए कि आप से गठबंधन के मसले पर वह एक तरफ थी, जबकि पीसी चाको और अजय माकन जैसे दिग्गज नेता दूसरी तरफ थे. अब देखना होगा कि आप के दिलीप पांडे यहां क्या गुल खिला पाते हैं.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस ने दिल्ली में अपने 6 उम्मीदवार उतारे, जानें शीला दीक्षित और जेपी अग्रवाल कहां से लड़ेंगे चुनाव

चांदनी चौक
बीजेपी ने चांदनी चौक (Chandni Chowk) से डॉ हर्ष वर्धन को उतारा है, तो कांग्रेस ने जेपी अग्रवाल को टिकट दिया है. हर्ष वर्धन की अपनी साख है, तो बीजेपी नेतृत्व भी उन पर भरोसा करता है. हालांकि जेपी अग्रवाल को भी कम आंकना भूल होगी. ऐसी स्थिति में आप के पंकज गुप्ता मुकाबला त्रिकोणीय बना पाते हैं या नहीं, यह देखने वाली बात होगी.

दक्षिण दिल्ली
रमेश बिधूड़ी को बीजेपी ने टिकट दिया है, तो कांग्रेस ने यहां से अभी अपना पत्ता नहीं खोला है. आप ने युवा नेता और पार्टी प्रवक्ता राघव चड्ढा को टिकट दिया है. राघव की छवि सौम्य कितुं तेज तर्रार नेता की है, तो बीजेपी के रमेश बिधूड़ी राजनीति के मंझे हुए खिलाड़ी हैं. देखना होगा कि कांग्रेस यहां से क्या काट खोज कर लाती है.

यह भी पढ़ेंः आजम खान के बाद अब उनके बेटे ने जया प्रदा पर दिया आपत्तिनजक बयान, कही ये बात

पश्चिम दिल्ली
कांग्रेस ने अंततः कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन और दबाव के आगे झुकते हुए महाबल मिश्रा को ही टिकट दे दिया है. बीजेपी ने यहां से प्रवेश वर्मा को उतारा है, तो आप ने बलबीर सिंह जाखड़ पर दांव खेला है.

पूर्वी दिल्ली
यहां बीजेपी में मंथन चल रहा है. मीनाक्षी लेखी महेश गिरी का नाम चर्चा में है. हालांकि कांग्रेस ने यहां से अरविंद सिंह लवली को टिकट दे दिया है. आप ने आतिषी पर दांव खेला है. आतिषी युवा हैं, लेकिन अरविंद सिंह लवली और बीजेपी के किसी खांटी नेता का सामना करना आप के लिए कहीं चुनौतीपूर्ण होगा.

यह भी पढ़ेंः गंभीरता से नहीं ली आतंकी हमलों की सूचना, खतरे में डाला भारतीय दूतावास को भी

उत्तर-पश्चिमी दिल्ली
इस सुरक्षित सीट पर कांग्रेस ने राजेश लिलोथिया को उतारा है, तो आप के गुगन सिंह ताल ठोक रहे हैं. बीजेपी ने फिलहाल यहां से किसी का नाम घोषित नहीं किया है, हालांकि पूर्व सांसद अनीता आर्या और अशोक प्रधान के नाम टिकट की दौड़ में आगे है. यहां भी मुकाबला दो पक्षीय ही रहने वाला है.

नई दिल्ली
दिग्गजों की लड़ाई की गवाह बनेगी दिल्ली संसदीय सीट. कांग्रेस ने यहां से प्रभारी अजय माकन को कमान सौंपी है, तो आप के ब्रजेश गोयल माकन के सामने हैं. हालांकि इस सीट पर बीजेपी की पर्देदारी कायम है, लेकिन माना जा रहा है कि पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर को यहां से उतार बीजेपी एक तीर से कई निशाने साध सकती है.

First Published : 22 Apr 2019, 12:02:25 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो