News Nation Logo
Banner

राजस्थान : मतदान केंद्रों पर लगेंगे 18 साल से कम उम्र के वॉलिंटियर्स, चुनाव आयोग ने इसलिए उठाया ये कदम

लोकसभा चुनाव के लिए इस बार किसी भी मतदान केंद्र पर वोटर को वॉलंटियर के रूप में नहीं लगाया जाएगा.

Written By : लालसिंह फौजदार | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 13 Apr 2019, 07:20:18 AM

जयपुर:

राजस्थान (Rajasthan) में लोकसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग की सुगम निर्वाचन थीम के तहत प्रत्येक मतदान केंद्र पर दो-दो वॉलंटियर लगाए जाएंगे. अबकी बार मतदान केंद्रों पर लगने वाले वॉलंटियर की उम्र 18 साल से ज्यादा नहीं होगी. प्रदेशभर में एक लाख से ज्यादा इन नाबालिग वॉलंटियर को दिव्यांग और आम मतदाताओं की सहायता के लिए लगाया जाएगा. इस बार किसी भी मतदान केंद्र पर वोटर को वॉलंटियर के रूप में नहीं लगाया जाएगा. इसके पीछे आयोग का मकसद निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न हों.

यह भी पढ़ें- राजस्थान : कर्नल किरोड़ी बैंसला और उनके बेटे ने थामा बीजेपी का दामन, बताई पार्टी ज्वॉइन की वजह

राज्य के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगाराम पटेल ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए कुल 51965 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. उन्होंने बताया कि इन मतदान केंद्रों पर करीब 1 लाख 4 हजार वॉलंटियर लगाए जाएंगे, जबकि हर मतदान केंद्र पर 2-2 वॉलंटियर होंगे. उन्होंने कहा कि ये वॉलिंटियर्स दिव्यांगों और विशेष योग्यजन को वोटिंग में सहायता करेंगे.

चुनाव आयोग (Election Commission) के मुताबिक, जिस मतदान केंद्र में 10 से ज्यादा दिव्यांग वोटर्स होंगे, उस मतदान केंद्र में व्हीलचेयर भी उपलब्ध रहेगी. चुनाव के दौरान वॉलंटियर दिव्यांग मतदाताओं को घर से लाएंगे और मतदान केंद्र पर वोट डलवाकर वापस भी छोड़ेंगे. आयोग की तरफ से मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए यह कवायद की जा रही है.

यह भी पढ़ें- राजस्थान : अजमेर में बीजेपी के अंदर मचा घमासान, प्रदेश नेतृत्व तक पहुंचा मामला

चुनाव आयोग का मकसद है निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सम्पन्न करना. सुगम मतदान के तहत दिव्यांग, वृद्धों और महिलाओं को मतदान में कोई दिक्कत नहीं आये, ऐसे में मतदान प्रभावित करने वाले आरोपों को ध्यान में रख चुनाव आयोग ने ऐसे वॉलिंटियर्स लगाए हैं जो 18 साल से कम हों.

गौरतलब है कि हाल ही में कांग्रेस पार्टी (Congress) की ओर से वॉलंटियर लगाने पर भी सवाल खड़े किए थे. कांग्रेस ने वॉलंटियर के रूप में आरएसएस कार्यकर्ताओं के काम करने का आरोप लगाया था. हालांकि निर्वाचन आयोग ने कांग्रेस की शिकायत पर रिपोर्ट मांगी हैं, लेकिन आयोग का मानना है कि वॉलंटियर बूथ केंद्रों पर मतदान में सहायता करते हैं.

वहीं दूसरी ओर बीजेपी (BJP) का कहना है चुनाव कैसे सम्पन्न कराने हैं, यह काम चुनाव आयोग का है. बीजेपी की प्रवक्ता अर्चना शर्मा ने कहा कि कांग्रेस का कार्य आरोप लगाने का है, लेकिन उसके आरोप में कोई दम नहीं है.

यह वीडियो देखें-

First Published : 13 Apr 2019, 07:20:14 AM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो