News Nation Logo
Banner

राजस्थान के CM पर सुधांशु त्रिवेदी का हमला, 4 महीने के बाद भी आयुष्मान योजना लागू नहीं

सुधांशु त्रिवेदी बोले हमारी पार्टी विकास और राष्ट्रवाद पर फोकस कर रही है, लेकिन कांग्रेस पार्टी सिर्फ अपना वैभव बचाने में जुटी है

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 19 Apr 2019, 06:49:17 PM
सुधांशु त्रिवेदी (फाइल फोटो)

सुधांशु त्रिवेदी (फाइल फोटो)

जयपुर:

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने हमला बोलते हुए कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को आए हुए लगभग 4 महीने हो गए हैं, लेकिन अभी भी वहां की जनता को आयुष्मान योजना का लाभ नहीं मिल रहा है. बेरोजगारी भत्ता भी नहीं शुरू किया गया. पूर्व सरकार द्वारा बड़े प्रोजेक्ट के काम भी रोक दिए गये हैं. ऐसा लगता है कि मुख्यमंत्री जी का पूरा ध्यान जोधपुर में ही लगा है. उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि हमारी पार्टी विकास और राष्ट्रवाद पर फोकस कर रही है, लेकिन कांग्रेस पार्टी सिर्फ अपना वैभव बचाने में जुटी है. कांग्रेस ने इस देश को आजादी के बाद से दो चीजें ही दी हैं. पहला परिवारवाद और दूसरा जातिवाद. अब तो कांग्रेस के नेता भी कहते फिर रहे हैं कि पीएम पद के लिए राहुल गांधी की बजाय अखिलेश और मायावती कहीं ज्यादा उपयुक्त हैं.

यह भी पढ़ें - स्मृति ईरानी को लेकर जब प्रियंका चतुर्वेदी से पूछा गया सवाल तो कहा- गाना तो मैं गाती रहूंगी

सुधांशु त्रिवेदी ने गहलोत के उस बयान की भी निंदा की जो उन्होंने बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए बोली थी. बता दें कि बुधवार को एक चुनावी रैली के दौरान राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लेकर ये बयान दिया. गहलोत ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि दलित होने के चलते रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति के पद पर बैठाया गया है.

यह भी पढ़ें - इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कांग्रेस पार्टी को दिया नोटिस, पूछा 72 हजार रुपये सालाना देने का वादा रिश्वत की श्रेणी में क्यों नहीं

साध्वी प्रज्ञा और हेमंत करकरे को लेकर कहा कि मुझे इस बयान की जानकारी नही है. पूरे देश में कोई भी जवान या पुलिस शहीद होता है तो वह गर्व के करुणा का विषय है. मैं पूछना चाहता हूं जब संसद पर हमला हुआ तब कांग्रेस का कोई नेता शहीद के घर क्यों नही गया. जबकि आजमगढ़ में आतंकवादी के घर चले गए. भाजपा नेताओं के कांग्रेस में जाने पर कहा यह नेताओं का अधिकार है कि किस पार्टी में जाये. मगर जनता ने अपना मन बना लिया है. पीएम को फर्जी ओबीसी बताने पर कहा विपक्षी नेता यह बताए उन्होंने पिछडों के लिए क्या किया है. कौन फर्जी है और कौन समर्पित है.

First Published : 19 Apr 2019, 05:45:09 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो