News Nation Logo

शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ से पूछा- बिना आवेदन के ही मेरे भाई का कर्ज माफ हुआ, क्यों ?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को ग्वालियर की सभा में शिवराज सिंह चौहान के भाई रोहित सिंह और रिश्तेदार का कर्ज माफ किए जाने की बात कही थी.

IANS | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 09 May 2019, 02:33:40 PM
शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बार फिर किसान कर्ज माफी पर सवाल उठाते हुए कहा कि उनके भाई रोहित सिंह ने कर्ज माफी का आवेदन ही नहीं किया था, फिर भी कर्ज माफ कर दिया गया, यह साजिश है. उन्होंने तंज कसते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) से पूछा कि वो बताएं कि उनके (चौहान) परिवार पर इतनी मेहरबानी क्यों ?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को ग्वालियर की सभा में शिवराज सिंह चौहान के भाई रोहित सिंह और रिश्तेदार का कर्ज माफ किए जाने की बात कही थी. इसका जवाब देते हुए चौहान ने गुरुवार को कांग्रेस व मुख्यमंत्री कमलनाथ से सवाल करते हुए कहा, 'मेरे परिवार पर इतनी मेहरबानी क्यों हो रही. मेरे भाई रोहित सिंह चौहान ने कर्जमाफी का आवेदन ही नहीं किया. इसके साथ ही वे आयकर दाता हैं, फिर भी कर्ज माफी का दावा किया जा रहा है. यह साजिश का हिस्सा है.'

यह भी पढ़ें- दिग्गी राजा के लिए धूनी रमाने पर फंसे कंप्यूटर बाबा, देनी होंगी ये जानकारियां

गौरतलब है कि शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानों की कर्जमाफी पर कई दिनों से सवाल उठाए जा रहे हैं. इसका जवाब देते हुए कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को ग्वालियर की सभा में कहा था, 'मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया है कि राज्य में जिन किसानों का कर्ज माफ हुआ है, उनमें शिवराज चौहान के भाई रोहित सिंह और चाचा के लड़के भी शामिल हैं.'

राहुल गांधी की बात का शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने गुरुवार को जवाब दिया. शिवराज ने अपने गांव जैत के किसानों की सूची के आधार पर बताया कि, 'पंचायत की सूची में इस बात का साफ उल्लेख है कि रोहित सिंह चौहान ने कर्ज माफी के लिए आवेदन ही नहीं किया, साथ ही वे आयकरदाता हैं. सरकार की नीति के अनुसार, आयकरदाता किसान का कर्ज माफ ही नहीं किया जा सकता.'

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश में तापमान के तेवर चढ़े, खजुराहो में तापमान 44 पार

शिवराज चौहान ने कांग्रेस पर आरोप लगाया, 'वचन पत्र में किसानों का दो लाख रुपये तक का कर्ज माफ किए जाने की बात कही थी. अब कांग्रेस अपने वादे से मुकर गई है और सिर्फ फसल कर्ज माफी की बात करने लगी है.'

बता दें कि राज्य सरकार ने किसान कर्जमाफी के लिए तीन रंग के अलग-अलग आवेदन किसानों से मांगे थे. किसानों ने पंचायतों में अपने आवेदन जमा किए थे. उसी के आधार पर सरकार ने दावा किया था कि राज्य में 55 लाख किसानों पर कर्ज है. इनमें से 21 लाख किसानों का दो लाख रुपये तक का कर्ज माफ किया जा चुका हैं. लोकसभा चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू होने के कारण कर्ज माफी की प्रक्रिया रुकी है। चुनाव होते ही शेष किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा.

यह वीडियो देखें- 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 May 2019, 02:33:40 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.