News Nation Logo
Banner

'हवाई' जंग के लिए बीजेपी ने कब्जाए निजी जेट और हेलीकॉप्टर, कांग्रेस ने मढ़ा यह आरोप

चुनावी प्रचार के लिए बीजेपी ने 20 प्राइवेट जेट और 30 हेलीकॉप्टर बुक किए हैं, तो कांग्रेस को इसके पांचवें हिस्से से संतोष करना पड़ा है. यही नहीं, इस चुनाव में डिजिटल प्लेटफॉर्म् पर 500 करोड़ रुपए से अधिक विज्ञापन पर ही खर्च किए जाएंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 18 Apr 2019, 06:40:39 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

नई दिल्ली.:

17वीं लोकसभा के लिए हो रहा आम चुनाव 'हवाई' जंग और उसमें भी सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के वर्चस्व के लिए याद रखा जाएगा. इस चुनाव में सोशल मीडिया पर राजनीतिक दल 2014 की तुलना में दोगुनी रकम खर्च कर रहे हैं. वहीं एक ही दिन में कई-कई चुनावी रैलियों और सभाओं को संबोधित करने के लिए स्टार प्रचारकों ने निजी चार्टर प्लेन और हेलीकॉप्टरों को पहले से ही बुक करा रखा है. चुनावी जंग के इन अपेक्षाकृत नए 'हथियारों' के प्रयोग में बीजेपी अपने प्रतिद्वंद्विंयों से कहीं आगे खड़ी है. नौबत यह है कि कांग्रेस तो बीजेपी पर इसके लिए सत्ता के दुरुपयोग तक का आरोप तक लगा रही है.

यह भी पढ़ेंः मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रोचक हुआ मुकाबला, क्‍या दिग्‍विजय सिंह के लिए चुनौती बन पाएंगी प्रज्ञा

जिस तरह से जिओ के आने से गांव-गांव तक मोबाइल खासकर इंटरनेट सेवाओं की पहुंच बढ़ी है, उसी तरह इस माध्यम को भुनाने की चलन या यूं कहें कि जरूरत भी बढ़ गई है. अधिकतर लोगों की डेटा तक पहुंच बढ़ने से राजनीतिक दलों को उन तक पहुंच बनाने का एक औऱ जरिया मिल गया है. ऐसे में इस बार सोशल मीडिया पर राजनीतिक विज्ञापन भी बढ़ गए हैं.

यह भी पढ़ेंः लोकसभा चुनाव के समय अचानक 'बागी' हो गईं प्रियंका चतुर्वेदी, जानें क्‍यों

एक अनुमान के मुताबिक 2014 के मुकाबले इस बार राजनीतिक दल सिर्फ सोशल मीडिया पर ही 500 करोड़ से ऊपर की धनराशि खर्च करेंगे. इसमें भी बीजेपी धन खर्चने के मामले में सबसे आगे है. गौरतलब है कि पिछले पांच सालों से स्मार्टफोन की बिक्री में जबर्दस्त उछाल आया है. उस पर टेलीकॉम ऑपरेटरों के बीच बढ़ी प्रतिस्पर्धा से डेटा की दर दुनिया में सबसे कम स्तर पर पहुंच चुकी है.

यह भी पढ़ेंः चुनाव ड्यूटी पर जा रहे एसडीएम को सड़क पर घसीट कर पीटा गया, आखिर क्यों आई ये नौबत

गूगल की पॉलिटिकल एडवर्टाइजिंग ट्रांसपैरेंसी रिपोर्ट के मुताबिक इसी साल फरवरी से अब तक 86,311,600 रुपए के विज्ञापन सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म्स पर खर्च किए जा चुके हैं. फेसबुक पर 61 हजार 248 विज्ञापनों के रूप में 121,845,456 रुपए इस साल अब तक खर्च किए जा चुके हैं.

यह भी पढ़ेंः जानिए भोपाल से साध्‍वी प्रज्ञा को टिकट मिलने के बाद दिग्‍विजय सिंह ने क्‍या कहा

अगर विभिन्न राजनीतिक दल हवा में तैरती 'मोबाइल तरंगों' पर इतना खर्च कर रहे हैं, तो हवा में सफर करने के लिए वे कुछ भी खर्च करने को तैयार हैं. हालांकि सत्तारूढ़ दल बीजेपी ने उनके लिए विकल्प कम छोड़े हैं. बीजेपी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के चुनावी प्रचार को गति देने के लिए 20 प्राइवेट जेट और 30 हेलीकॉप्टर बुक किए हैं. बीजेपी ने पहले से ही इसकी तैयारी कर ली थी, तो कांग्रेस को इसके पांचवें भाग से ही संतोष करना पड़ा है. संभवतः इसीलिए कांग्रेस बीजेपी पर सत्ता के दुरुपयोग का आरोप भी मढ़ चुकी है.

खैर, आरोपों-प्रत्यारोपों के बीच में हर गुजरते दिन के साथ सोशल मीडिया पर तीखी विज्ञापनबाजी और तेज हो रही है. साथ ही दूर-दराज के गांवों में धूल उड़ाते हेलीकॉप्टर 'हवा-हवाई' प्रचार को नए मायने बख्श रहे हैं.

First Published : 17 Apr 2019, 06:59:12 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो