News Nation Logo
Banner

पीएम मोदी ने माना 5 साल वादों को पूरा करने के लिए था कम, बिहार में कही ये बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार में अपने चुनावी अभियान की शुरुआत करते हुए कांग्रेस सहित महागठबंधन में शामिल अन्य दलों पर जमकर निशाना साधा

IANS | Updated on: 02 Apr 2019, 11:33:36 PM
पीएम मोदी ने बिहार में रैली को किया संबोधित

पीएम मोदी ने बिहार में रैली को किया संबोधित

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार में अपने चुनावी अभियान की शुरुआत करते हुए कांग्रेस सहित महागठबंधन में शामिल अन्य दलों पर जमकर निशाना साधा. प्रधानमंत्री ने खुद को 'चौकीदार' बताते हुए कहा कि आज इस चौकीदार से महामिलावट और उनके पैरोकार तथा आतंकवाद और उसके मददगार परेशान हैं. यही कारण है कि वे लोग चौकीदार को गाली दे रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आतंकवाद, भ्रष्टाचार, नक्सलवाद से नेकनियत वाली सरकार ही मुकाबला कर सकती है. उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए जीने वाले राष्ट्रहित में काम नहीं कर सकते. उन्होंने आरक्षण के मुद्दे पर स्पष्ट कहा कि कई लोग डराने का काम कर रहे हैं, परंतु कोई भी इसे समाप्त नहीं कर सकता. गया के गांधी मैदान में और जमुई के नरियाना पुल के निकट स्थित मैदान में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि अभी बहुत कुछ करना बाकी है.

उन्होंने कहा, 'जो लोग 70 सालों में सत्ता में रहकर सबकुछ कर लेने का दावा नहीं कर सकते, तो मैं तो पांच साल में सबकुछ करने का दावा कैसे कर सकता हूं. परंतु मुझे निरंतर प्रयास करना है, जिसके लिए आपके समर्थन की जरूरत है.

और पढ़ें: नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की पहली पसंद, राहुल गांधी गृहणियों के बीच लोकप्रिय:सर्वे

उन्होंने लोगों से कहा, 'देश में जो भी विकास का कार्य सरकार कर पाई है, वह आप सभी के सहयोग के कारण हो सकी है. साल 2014 के पहले देश में आतंकवादियों द्वारा बम विस्फोट किए जाते थे, परंतु 2014 के बाद ये कहां चले गए। पहले भी यही खुफिया विभाग और पुलिस थी.'

प्रधानमंत्री ने उमर अब्दुल्ला के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि इस देश में दो प्रधानमंत्री नहीं हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि कुर्सी तंत्र के लिए मिलावटी लोग ऐसे आतंकवादियों को छोड़ देते थे. उन्होंने 'हिंदू आतंकवाद' को लेकर भी कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा, 'कांग्रेस समेत महामिलावटी नेताओं ने, सही ढंग से जांच नहीं हो, इसके लिए हिंदू आतंकवाद का फर्जी खेल खेला. विरोधियों को हमारी चौकीदारी से दिक्कत हुई तो महामिलावटी लोग चौकीदार को तरह-तरह की गाली दे रहे हैं. लेकिन पूरी दुनिया चौकीदार के कामों को सराह रही है.

उन्होंने 'महागठबंधन' को 'महामिलावटी' बताते हुए कहा, 'ये लोग देश में आतंकियों, नक्सलियों को भी बढ़ावा देते हैं. जब ऐसे महामिलावटी लोगों की साजिशों पर हमने चौकीदारी की तो इन्हें दिक्कत होने लगी. चौकीदार अच्छे नहीं लगने लगे. काम करनेवालों से महाविलावट वाले लोग नफरत करते हैं."

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस जब-जब सत्ता में आती है महंगाई और आतंकवाद बढ़ने लगता है. उन्होंने कहा, 'सरकार की नीति साफ है. आतंकवाद हो या फिर नक्सलवाद, भारत को आंख दिखाने का काम जो कोई करेगा, उससे सख्ती से निपटा जाएगा.

उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार में पहले की तुलना में ज्यादा संख्या में नक्सली विचारधारा अपना चुके युवाओं ने मुख्यधारा में आने के लिए समर्पण किया है.'

और पढ़ें: अरुणाचल प्रदेश में 3 जिलों से AFSPA आंशिक रूप से हटाया गया

मोदी ने आरक्षण की चर्चा करते हुए कहा, 'मोदी क्या, कोई भी आपके आरक्षण को नहीं हटा सकता. सामान्य वर्ग का आरक्षण अलग से बनाई व्यवस्था है, उससे पिछड़ों के आरक्षण पर कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है.'

इससे पहले प्रधानमंत्री के यहां पहुंचने पर एनडीए के नेताओं ने उनका स्वागत किया. बिहार के गया और जमुई में पहले चरण के चुनाव में 11 अप्रैल को मतदान होना है.

First Published : 02 Apr 2019, 11:33:33 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो