News Nation Logo
Banner

4 चरणों के चुनाव के बाद कुछ लोग चारों खाने चित्त, बिहार के मुजफ्फरपुर में बोले पीएम नरेंद्र मोदी

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में धुआंधर प्रचार के रहे पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बिहार के मुजफ्फरपुर में लोगों को संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 30 Apr 2019, 12:04:51 PM
पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो संभार बीजेपी ट्वीटर)

पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो संभार बीजेपी ट्वीटर)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में धुआंधर प्रचार के रहे पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बिहार के मुजफ्फरपुर में लोगों को संबोधित किया. बता दें कि अब तक 4 चरणों की मतदान प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. अब पीएम नरेंद्र मोदी पांचवें चरण के चुनाव को लेकर प्रचार प्रसार कर रहे हैं. बिहार में उन्होंने कहा, 4 चरणों के चुनाव के बाद कुछ लोग चारों खाने चित्त हो चुके हैं. अब अगले चरणों में ये तय करना है कि इनकी हार कितनी बड़ी होगी और भाजपा NDA की जीत कितनी भव्य होगी.

यह भी पढ़ें ः ब्लैक गाउन में कहर ढा रही हैं शमा सिकंदर, फैंस बोले – जान लोगी क्या

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, आम और लीची जैसे मिठास घोलने वाले स्वीट सिटी में आज इतनी बड़ी संख्या में हमें आशीर्वाद देने आये हैं वो कई लोगों के मुंह में कड़वाहट पैदा करने वाला है. उन्होंने आगे कहा, जिन्होंने बिहार की पहचान बदली थी, वो इस चुनाव में केंद्र में अपनी सरकार बनाने के लिए नहीं लड़ रहे, वो किसी भी तरह से अपने सदस्य बढ़ाने के लिए छटपटा रहे हैं. उनकी ताकत बढ़ाने का मतलब है बिहार में लूट-पाट, अपहरण, भ्रष्टाचार के दिन वापस लाना. 

यह भी पढ़ें ः सुप्रीम कोर्ट का आम्रपाली ग्रुप को धोनी के साथ सभी लेन-देन का ब्यौरा देने का निर्देश

पीएम ने आगे कहा, उनकी ताकत बढ़ाने का मतलब है बेटियों का अपहरण, गुंडागर्दी, हत्याएं, हर योजना में भ्रष्टाचार. उनकी ताकत बढ़ाने का मतलब है, सूरज ढलने के बाद अपने ही घर मे कैद हो जाना, घुट-घुट के जीना, पलायन के लिए मजबूर होना. उन्होंने कहा, फिर से ये लोग बिहार में गिद्ध दृष्टि जमाए हैं. ये बिहार को जाति, समाज के आधार पर बांटकर अपना स्वार्थ सिद्ध करना चाहते हैं. अपने भ्रष्टाचार, काले कारनामों को छिपाना चाहते हैं. उनका लक्ष्य है कि दिल्ली में कमजोर सरकार बने ताकि ये फिर से मनमानी कर सके.

यह भी पढ़ें ः पीएम मोदी के खिलाफ तेज बहादुर हुए आक्रामक, कहा लड़ाई जवान, किसान, बेरोजगारी के मुद्दे पर

मोदी ने आगे कहा, जो जेल में हैं या जेल के दरवाजे पर हैं, जो बेल पर हैं या बेल के लिए कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं. वो सब केंद्र में एक मजबूत सरकार को एक मिनट भी बर्दाश्त नहीं करना चाहते हैं. ये चाहें कितनी भी कोशिश कर लें, कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ जो अभियान हमने चलाया हुआ है, उसकी रफ्तार धीमी नहीं पड़ेगी. उन्होंने आगे कहा, इनको गरीब का लूटा एक-एक पैसा लौटाना ही पड़ेगा. जैसे हम मिशेल मामा को उठाकर लाएं हैं, उसी तरह इनके बाकी चाचाओं को भी भारत आना ही पड़ेगा.

यह भी पढ़ें ः पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर आचार संहिता उल्लंघन मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, स्वार्थ और सिर्फ अपने हित के लिए समर्पित इन महामिलावटियों की मंशा को समझना बहुत जरूरी है. जितने भी महामिलावटी दल हैं उनमें ज्यादातर इतनी सीटों पर भी नहीं लड़ रहे कि लोकसभा में नेता विपक्ष का पद भी प्राप्त कर सकें, जिनके नसीब में नेता विपक्ष का पद नहीं है वो प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं. उन्होंने कहा, याद करिए, वो दिन जब देश के बड़े-बड़े शहरों में कभी ट्रेन में, बाजार में, बस में, मंदिर में, रेलवे स्टेशन पर बम धमाके हुआ करते थे. बम धमाकों के उस दौर में कांग्रेस और उसके साथी, कैसे कमजोरों की तरह बर्ताव करते थे. 

यह भी पढ़ें ः साध्वी प्रज्ञा के बाद सुमित्रा महाजन ने शहिद हेमंत करकरे पर दिया विवादित बयान, दिग्विजय सिंह ने कही ये बात

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, आतंकवाद जब फलता फूलता है तो कोई भी सुरक्षित नहीं रहता है, चाहे वह किसी भी जाति या पंथ का हो. चाहे देश के भीतर हो या फिर सीमा के पार, आतंक और हिंसा फैलाने वाली फैक्ट्री जहां भी होगी, इस चौकीदार के निशाने पर है. भारत को जहां से भी खतरा होगा, हम घर में घुसकर मारेंगे, ये तय है. उन्होंने आगे कहा, महामिलावट वालों का इतिहास ऐसा है कि ये आतंकवाद पर कुछ नहीं कह सकते, पाकिस्तान का नाम सुनकर इनके पैर कांपते हैं, इनकी सरकार डोलने लगती है. यही कारण है कि एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक से इनको एलर्जी है.

यह भी पढ़ें ः दिल्ली कोर्ट ने आप के 3 नेताओं के दी राहत, अरविंद केजरीवाल समेत इन पर है मानहानि का केस

मोदी ने कहा, इनकी ज़मीन खिसक रही है, क्योंकि 5 वर्ष में सबका साथ-सबका विकास की राजनीतिक संस्कृति हमने विकसित की है. सामान्य वर्ग के गरीब युवाओं को 10% आरक्षण, सामाजिक सद्भाव का एक बहुत बड़ा प्रयास है, क्योंकि यह किसी दूसरे वर्ग के हक को छेड़े बिना दिया गया है. उन्होंने आगे कहा, हमने महामिलावटियों के तमाम विरोध के बाद भी ओबीसी कमीशन को भी संवैधानिक दर्जा दे दिया है. उन्होंने कहा, हमने देश को लाल बत्ती की संस्कृति से बाहर निकाला है और गांव-गांव को एलईडी बल्ब की दूधिया बत्ती से रोशन कर दिया है. हम सबकी लाल बत्ती चली गई, लेकिन गरीब का घर बिजली से रोशन हो गया है.

यह भी पढ़ें ः Citizenship Case : हार के डर से बीजेपी कर रही राजनीति, जन्म से ही भारतीय हैं राहुल गांधी : कांग्रेस

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, हमने गांव-गांव में गरीब बहनों के घर में इज्जत घर यानि शौचालय देने का काम किया है. हमने उन गरीब बहनों तक मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाने का काम किया है जो गरीब मां और बहनें पूरी उम्र धुएं में जीने को मजबूर थीं. हमने उस गरीब को पक्का घर देने का बीड़ा उठाया है, जिसने सपने मे भी कभी अपने घर के बारे में नहीं सोचा था. उन्होंने आगे कहा, 23 मई को चुनाव के नतीजे आएंगे और फिर एक बार मोदी सरकार आएगी. तब हम बिहार के सभी किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ देने वाले हैं. फिलहाल इसके लिए 5 एकड़ की जो सीमा है वो हटा दी जाए.

First Published : 30 Apr 2019, 11:51:03 AM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो