News Nation Logo
Banner

जाति से नहीं अपने कर्मों से जाना जाता है कोई महापुरुष, बांदा में बोले पीएम नरेंद्र मोदी

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी के बांदा में लोगों को संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 25 Apr 2019, 03:16:28 PM
पीएम नरेंद्र मोदी (बीजेपी ट्वीटर)

पीएम नरेंद्र मोदी (बीजेपी ट्वीटर)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी के बांदा में लोगों को संबोधित किया. उन्होंने कहा, जमीन से पूरी तरह कट चुके लोग इस बार अपने ही खेल में फंस गए हैं. इनको पता ही नहीं चला कि 21वीं सदी का वोटर, ये नौजवान जिसकी जिंदगी के सारे सपने अधूरे हैं और वो इन्हें पूरा करने के लिए खपने के लिए तैयार है वो क्या चाहता है? वो इन नेताओं की समझ से बाहर है.

यह भी पढ़ें ः कहीं इस डर से तो पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से प्रियंका गांधी ने कदम वापस नहीं खींचे

पीएम मोदी ने कहा, इस लोकसभा चुनाव में पहली बार वोट डालने जा रहा नौजवान, नए भारत के नए संस्कारों का निर्माण कर रहा है. इसकी वजह है कि उस पर अतीत का बोझ नहीं है, उसके पास सिर्फ भविष्य के सपने हैं. उन्होंने कहा, आप मुझे बताइये हमारे देश के महान बलिदानी भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, झांसी की रानी और सुभाष चंद्र बोस किस जाति के थे? एक भी महापुरुष अपनी जाति से नहीं जाना जाता बल्कि अपने कार्यों से जाना जाता हैं. हर कोई भारतवासी था.

पीएम ने कहा, हमने संकल्प लिया है कि पानी के लिए अलग से जलशक्ति मंत्रालय बनाया जाएगा, जिसका अलग से बजट होगा. नदियां हों, समंदर हों, वर्षा का पानी हो, जितने भी संसाधन हैं सब जगह से तकनीक का उपयोग करके जरूरतमंद क्षेत्रों में जल पहुंचाया जाएगा. उन्होंने आगे कहा, आजादी के इतने वर्षों तक जाति-बिरादरी के नाम पर वोट मांगे गए, लेकिन फिर क्या हुआ? सत्ता में आते ही बदले की कार्रवाई शुरु हो जाती थी. राजनीति के इस मॉडल ने सिर्फ व्यक्ति-व्यक्ति में ही भेद नहीं किया बल्कि क्षेत्रों के आधार पर भी भेदभाव किया गया.

यह भी पढ़ें ः जैकलीन फर्नांडिज ने शुरू की नई पारी, 'मिसेज सीरियल किलर' से करेंगी डिजीटल डेब्यू

मोदी ने कहा, आज जो गांव-गांव में सड़कें बन रही हैं, वहां हर जाति, हर पंथ के लोग चलते हैं. हर गांव और हर घर तक बिजली पहुंच रही है, वो हर जाति, हर पंथ को मिल रही है. उन्होंने कहा, यहां की बहनों का पानी को लेकर संघर्ष में अनुभव करता हूं, मैंने ये दर्द करीबी से देखा है. इस चुनौती को भी इस चौकीदार ने स्वीकार किया है. जैसे पहले चुल्हे के धूंए से मुक्ति दी, उसी तरह अब बारी पानी की समस्या से निपटा जाएगा.

पीएम नरेंद्र मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए आगे कहा, 23 मई को जब आप 'फिर एक बार मोदी सरकार' बनाएंगे तो पानी की समस्या दूर करने के लिए मिशन मोड पर काम किया जाएगा. जनहित के लिए बड़े काम तभी होते हैं जब समर्पण भाव से काम किया जाता है। जब सत्ताभोग के बजाय सेवा भाव से काम होता है तब ऐसे काम होते हैं. आजादी के बाद किसानों के लिए पहली बार सीधी मदद की स्कीम मोदी सरकार ने बनाई है. पीएम किसान सम्मान निधि के तहत देश के करीब 12 करोड़ किसानों के बैंक खाते में पैसे आ रहे हैं. यूपी के 1 करोड़ से अधिक किसानों को पहली किस्त पहुंच चुकी है.

यह भी पढ़ें ः Exclusive: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी ने अमित शाह पर लगाया ये आरोप

पीएम ने कहा, चुनाव के बाद जब फिर एक बार मोदी सरकार आएगी, तो हम पीएम किसान सम्मान निधि योजना से 5 एकड़ की शर्त हटाकर इस योजना का लाभ देश के सभी किसानों को पहुंचाएंगे, चाहे उनके पास कितनी भी जमीन हो. उन्होंने कहा, बुंदेलखंड में खेती के साथ-साथ औद्योगिक विकास हो, इसके लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं. बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे जैसी महत्वपूर्ण परियोजना से इस पूरे क्षेत्र का भाग्य बदलने वाला है. अब बुंदेलखंड को देश की सुरक्षा और विकास का कॉरिडोर बनाने की तरफ हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

पीएम ने आगे कहा, झांसी से आगरा तक बन रहा डिफेंस कॉरिडोर देश में ही सेना के लिए अस्त्र शस्त्र बनाने के अभियान को मजबूत करेगा. बुंदेलखंड ने मां भारती के गौरव गान की पुरानी परम्परा है. आज जब मैं यहां पहुंचा तो एक वीर जवान को नमन करने का मौका मिला. वो कतार में मेरे स्वागत के लिए खड़े थे. जब संसद में हमला हुआ था तो इसी धरती के उस वीर जवान ने 6 गोलियां झेली थीं. मोदी दल के लिए नहीं बल्कि देश के लिए पैदा हुआ है. मोदी अपने लिए नहीं बल्कि अपनों के लिए, आपके लिए पैदा हुआ है.

First Published : 25 Apr 2019, 03:14:52 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो