News Nation Logo
Banner

गजेंद्र सिंह शेखावत ने 2019 चुनाव को बताया कलयुग का 'धर्मयुद्ध', भगवान कृष्ण से की PM मोदी की तुलना

शेखावत ने बीजेपी और उसके मित्र दलों को पांडव, जबकि कांग्रेस (Congress) और अन्य गठबंधन को कौरव बताया.

Written By : प्रदीप जोशी | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 06 Apr 2019, 09:18:22 AM
गजेंद्र सिंह शेखावत (फाइल फोटो)

गजेंद्र सिंह शेखावत (फाइल फोटो)

जोधपुर:

राजस्थान (Rajasthan) के जोधपुर से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) ने इस बार के लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) को कलयुग का धर्मयुद्ध की संज्ञा देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को कृष्ण तक बताया है. इतना ही नहीं उन्होंने बीजेपी और उसके मित्र दलों को पांडव, जबकि कांग्रेस (Congress) और अन्य गठबंधन को कौरव बताया.

यह भी पढ़ें- वाराणसी उत्तर प्रदेश का एकमात्र जिला जो तीन सांसदों को चुनता है, जानिए कैसे

अपने प्रधान कार्यालय के उद्धाटन के मौके पर जनसभा को संबोधित करते हुए शेखावत ने कहा कि उस महाभारत के युद्ध में एक तरफ सत्य था तो दूसरी तरफ असत्य और अनीति की राह पर चलने वाले लोग थे, आज भी यही हाल है. शेखावत ने कहा कि जिस तरह से पांडव कृष्ण के नेतृत्व में लड़े थे, हमें भी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़ाई लड़नी है.

उन्होंने कहा कि एक तरफ जो दल हैं वो हमेशा भारत माता के वैभव को अमर रखने की बात करता हैं, जबिक दूसरी ओर वो लोग हैं जो द्रोपदी का चीर हरण कर भी सत्ता प्राप्त करना चाहते हैं. जो जेएनयू में देशविरोधी नारों का समर्थन कर रहे हैं. यह वो कुनबा है जो जमानत पर छूटा हुआ है.

यह भी पढ़ें- राजस्थान : निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराना EC के लिए बड़ी चुनौती, ये है कारण

जनसभा को संबोधित करते हुए शेखावत ने एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे निर्णय की बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी की सराहना की. शेखावत ने कहा कि वो नरेंद्र मोदी हैं जिन्होंने हिम्मत दिखाते हुए आंतकवाद को कड़ा जवाब दिया. उन्होंने कहा कि हम अगले पांच साल देश को आगे ले जाने के लिए काम कर रहे हैं, यह बिल्कुल वैसा ही काम जैसे शहीदों ने देश को आजादी दिलाने के समय किया था.

इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस प्रत्याशी वैभव गहलोत और प्रदेश सरकार पर जोरदार हमला बोला. शेखावत ने कहा कि झूठे वादे कर यह जो सरकार सत्ता में आई है, उसे जवाब देने का समय आ गया है, हम चुनाव की यह लड़ाई जीत चुके हैं. कार्यकर्ताओं का उत्साह वर्धन करते हुए शेखावत ने कहा कि मेरे सामने जो प्रत्याशी है, उन्होंने अपने बाप के नाम पर चुनाव लड़ना तय किया है, लेकिन मैंने आपके नाम पर चुनाव लड़ना तय किया.

यह भी पढ़ें- जानिए...RLP-BJP के गठबंधन से कैसे बदलेंगे राजस्थान के सियासी समीकरण, कांग्रेस को कितना नुकसान ?

उल्लेखनीय है कि गजेंद्र सिंह शेखावत ने वैभव गहलोत के नाम की घोषणा के बाद से ही उन पर वंशवाद को बढ़ावा देने और प्रवासी बताकर लगातार हमले शुरू कर दिए थे. लेकिन आज उन्होंने बेहद तल्ख तरीके से वैभव पर अपने बाप के नाम पर चुनाव लड़ना तय करने की बात कही.

First Published : 06 Apr 2019, 09:17:51 AM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो