News Nation Logo
Banner

मोदी लहर को कुंद करने वाला क्‍या तमिलनाडु दोहरा पाएगा 2014 का इतिहास

लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण में 11 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी की 95 सीटों 61.12% मतदान हुआ. बंगाल में सबसे ज्यादा 75.27% वोटिंग हुई. तमिलनाडु 74.02% मतदान हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 18 Apr 2019, 08:50:11 PM

नई दिल्‍ली:

लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण में 11 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी की 95 सीटों 61.12% मतदान हुआ. बंगाल में सबसे ज्यादा 75.27% वोटिंग हुई. तमिलनाडु 74.02% मतदान हुआ है. दूसरे चरण में 97 सीटों पर मतदान होना था, लेकिन तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर वोटरों में धन बांटे जाने के संदेह के कारण चुनाव रद्द कर दिया गया. वहीं, त्रिपुरा-पूर्व लोकसभा सीट पर कानून-व्यवस्था ठीक नहीं होने की वजह से 23 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. दूसरे चरण में पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा, फिल्‍म अभिनेत्री हेमा मालिनी, केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, कनिमोझी , सुशील कुमार शिंदे, राज बब्बर और फारूक अब्दुल्ला जैसे सियासत के बड़े दिग्‍गजों के भाग्‍य का फैसला वोटरों ने कर दिया है.

यह भी पढ़ेंः Lok Sabha Election Phase 2 polling : मतदान संपन्‍न, 62% वोटिंग, सबसे ज्‍यादा यहां हुआ मतदान

बता दें इस चरण में 1629 उम्मीदवार चुनाव में उतरे थे. इस चरण में 5 राज्यों की 68 सीटों पर एनडीए-यूपीए में सीधा मुकाबला था. 9 सीटों पर बीजेपी-कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला था. 2014 में पूरे देश में जब नरेंद्र मोदी की प्रचंड लहर चल रही थी तो दक्षिण में जयललिता का जादू सिर चढ़कर बोल रहा था. 2014 के लोकसभा चुनाव में AIADMK ने तमिलनाडु में राज्य की 38 में से 36 सीटें जीती थी. ठीक वैसे ही जैसे बीजेपी ने उत्‍तर प्रदेश में जीत हासिल की थी.

यह भी पढ़ेंः Lok sabha Election 2019: दूसरे चरण के चुनाव में बंगाल में छिटपुट हिंसा के बावजूद बंपर वोटिंग

वहीं कांग्रेस के लिए 2014 में दूसरा चरण बड़ा झटका देने वाला साबित हुआ. कांग्रेस केवल 12 सीटों पर ही जीत दर्ज कर पाई. तमिलनाडु में कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टी डीएमके एक भी सीट पर जीत नहीं दर्ज कर पाए थे. इस चरण की 95 सीटों में पिछले चुनाव में बीजेपी 27, कांग्रेस 12, बीजद 4, शिवसेना 4, अन्नाद्रमुक 36, द्रमुक 0 व अन्य 12 पर विजयी हुए थे.

दूसरे चरण के बड़े चेहरे

  • एचडी देवेगौड़ा : पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा कर्नाटक की तुमकुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके पोते- प्रज्ज्वल रेवेन्ना हासन से और निखिल गौड़ा मांड्या से उम्मीदवार हैं.
  • हेमा मालिनी : मथुरा सीट से हेमा का मुकाबला सपा-बसपा-रालोद के प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र सिंह से है. कांग्रेस ने भी यहां से महेश पाठक को टिकट दिया है.
  • जितेंद्र सिंह : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह जम्मू-कश्मीर की उधमपुर सीट से दूसरी बार मैदान में हैं. उनका मुकाबला कांग्रेस नेता कर्ण सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह से हैं जो हैं. 
  • फारूक अब्दुल्ला : श्रीनगर सीट से नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला का मुकाबला पीडीपी के आगा मोहसिन, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के इरफान अंसारी और बीजेपी के खालिद जहांगीर से है.
  • कनिमोझी : द्रमुक संस्थापक एमके करुणानिधि की बेटी कनिमोझी तमिलनाडु की तुतुकुडी सीट से मैदान में हैं. उनका मुकाबला बीजेपी के टी. सुंदरराजन से है. 
  • सुशील कुमार शिंदे : सोलापुर सीट से पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे का मुकाबला बीजेपी के जय सिद्धेश्वर शिवाचार्य महास्वामीजी से है. 
  • राज बब्बर : उत्तर प्रदेश की फतेहपुर सीकरी से राज बब्बर का मुकाबला बीजेपी के राजकुमार चाहर और सपा-बसपा-रालोद के संयुक्त उम्मीदवार गुड्डू पंडित से है. 
  • सदानंद गौड़ा : केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा बेंगलौर उतर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनका मुकाबला कांग्रेस के केबी गौड़ा से है.

First Published : 18 Apr 2019, 08:46:22 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो