News Nation Logo
Banner

BSF से बर्खास्‍त जवान तेज बहादुर को सपा ने दिया टिकट, नरेंद्र मोदी के खिलाफ भरा पर्चा

हरियाणा के रहने वाले तेज बहादुर ने सोमवार को बनारस से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है. वह पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ ताल ठोकेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 29 Apr 2019, 03:52:53 PM
तेज बहादुर यादव का फाइल फोटो

तेज बहादुर यादव का फाइल फोटो

नई दिल्‍ली:

बीएसएफ से बर्खास्‍त जवान तेज बहादुर यादव बनारस से अब सपा के उम्‍मीदवर होंगे. हरियाणा के रहने वाले तेज बहादुर ने सोमवार को बनारस से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है. वह पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ ताल ठोकेंगे. मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर तेज बहादुर यादव ने BBC कों बताया , ''हम काशी विश्वनाथ के आशीर्वाद से नकली चौकीदार को हराना चाहते हैं, जो लोग फ़ौज पर राजनीति करते हैं हम उन्हें मात देना चाहते हैं. उन्होंने हमारी फ़ौज का नाम बदनाम कर दिया. जिससे जवानों के हौसले कमज़ोर पड़ गए हैं.'' बता दें सपा से शालिनी यादव मोदी के खिलाफ पार्टी के सिंबल पर नामांकन दाखिल कर चुकी हैं. सोमवार को सपा ने तेज बहादुर यादव को अपना अधिकृत उम्‍मीदवार तब घोषित किया जब वह निर्दल के रूप में पर्चा दाखिल कर चुके थे.

यह भी पढ़ेंः चौथा चरणः प्रचंड गर्मी में कहीं Voting चुस्‍त तो कहीं सुस्‍त, EVM में लॉक हो रहा इन VIPs का Luck

बता दें तेज बहादुर सैनिकों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करते हुए ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करने के मामले में 2017 में बर्खास्त किया गया था. कुछ दिन पहले तेज बहादुर ने हरियाणा के रेवाड़ी में पत्रकारों से कहा था कि वह वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे. तेज बहादुर यादव कहते हैं, ''आज तक हमने सीमाओं की रक्षा की थी, लेकिन जब तक देश का जवान संसद में नहीं पहुंचेगा तब तक यह देश नहीं बच पाएगा.'

यह भी पढ़ेंः बात चाहे पाक के आतंकियों की हो या फिर घर में छुपे गद्दारों हो ये चौकीदार नहीं छोड़ेगा : PM

उन्होंने बताया कि मैं प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं कि आपने पिछले लोकसभा चुनाव में इतने वादे किए थे, उसका अब तक क्या हुआ. ये लड़ाई बराबरी की है. एक तरफ आपके पास असली चौकीदार है वहीं दूसरी तरफ आपके पास नकली चौकीदार है.

यह भी पढ़ेंः पीएम नरेंद्र मोदी के बनारस में दांव पर है कांग्रेस के 25 हज़ार, जानें कैसे

बता दें कि बीएसएफ कांस्टेबल तेज बहादुर को 2017 में उसकी नौकरी से निकाल दिया है. उन्होंने एक वीडियो रिलीज किया था. जिसमें बीएसएफ के जवानों को दिए जाने वाले खाने को दिखाया था. उन्होंने बताया कि जवानों को अच्छा खाना नहीं दिया जा रहा है.

First Published : 29 Apr 2019, 02:39:44 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो