News Nation Logo

पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ कांग्रेस की ये हैं शिकायतें

कांग्रेस की ओर से दोनों नेताओं के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के 9 शिकायतें दर्ज कराई हैं. आइए देखें वो कौन सी शिकायतें हैं....

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 02 May 2019, 04:01:39 PM

नई दिल्‍ली:

सात चरणों में हो रहे लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के चार चरण समाप्‍त हो चुके हैं. दो-तिहाई सीटों पर मतदाता प्रत्‍याशियों की किस्‍मत EVM में लॉक कर चुके हैं. 6 मई को पांचवें चरण (Lok Sabha Election 5th phase) के तहत 51 सीटों पर वोटिंग होगी. चुनावी रैलियों में अब तक मुद्दों पर बात कम जुबानी जंग ज्‍यादा हुई. शब्‍दों की मर्यादाएं टूटीं और चुनाव आयोग का हंटर भी चला.

यह भी पढ़ेंः सबसे पुरानी कांग्रेस पार्टी ऐसे बन गई वोट कटवा, चुनाव दर चुनाव खिसकती गई जमीन

कुछ नेताओं की जुबान पर 72 घंटे तो कुछ पर 48 घंटे की पाबंदी भी लगाई गई. लेकिन कांग्रेस चुनाव आयोग की इन कार्रवाइयों से संतुष्‍ट नहीं है. कांग्रेस का आरोप है कि चुनाव आयोग पीएम मोदी और अमित शाह पर कार्रवाई नहीं कर रहा है. कांग्रेस की ओर से दोनों नेताओं के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के 9 शिकायतें दर्ज कराई हैं. आइए देखें वो कौन सी शिकायतें हैं....

  • 5 अप्रैल को चुनाव आयोग में कांग्रेस की ओर से मोदी के खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्‍लंघन की शिकायत दर्ज की कराई गई थी. शिकायत के अनुसार पीएम मोदी ने अपने भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के केरल का वायनाड से चुनाव लड़ने के फ़ैसले को निशाना बनाते हुए वर्धा में कहा था कि "अब कांग्रेस भी समझ रही है कि देश ने उसे सज़ा देने का मन बना लिया है. उनके नेता अब मैदान छोड़ कर भागने लगे हैं. 'आतंकवादी हिंदू' की सज़ा उनको मिल चुकी है और इसलिए भाग कर के जहां देश का बहुसंख्यक अल्पसंख्यक में है, वहां शरण लेने के लिए मजबूर हो गए हैं."
  • 6 अप्रैल को महाराष्ट्र के नांदेड़ में दिये उनके भाषण को लेकर भी एक शिकायत की गई है. यहां भी उन्होंने वायनाड सीट का ज़िक्र करते हुए उन्हीं शब्दों को दोहराया जो उन्होंने वर्धा में कहे थे.
  • 9 अप्रैल को पीएम नरेंद्र मोदी ने पहली बार वोट डालने वाले वोटरों से बालाकोट एयर स्ट्राइक में शामिल सैनिकों और पुलवामा में मारे गए जवानों के नाम पर वोट देने की अपील की. लातूर में मोदी ने कहा, "मेरे फर्स्ट टाइम वोटर्स को कहना चाहता हूं कि क्या आपके जीवन का पहला वोट पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक करने वाले वीर जवानों को समर्पित हो सकता है. मैं फर्स्ट टाइम वोटर्स से कहना चाहता हूं कि आपका पहला वोट पुलवामा में जो वीर शहीद हुए हैं उन वीर शहीदों के नाम समर्पित हो सकता है क्या."
  • 21 अप्रैल को गुजरात के पाटन में मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा, "ख़बरदार पाकिस्तान, हमारे पायलट को एक खरोंच नहीं पड़ना चाहिए. अमेरिका के प्रवक्ता ने तब कहा था कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो भारत कोई बड़ी कार्रवाई करेगा. मोदी एक साथ 12 मिसाइलों से हमले कर देगा. अच्छा हुआ कि उन्होंने वापस कर दिया वरना यह कत्ल की रात होती." इस दौरान उन्होंने एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक का भी ज़िक्र किया. एक बार फिर सेना के नाम पर वोट मांगने की शिकायत की गई.
  • इसी दिन राजस्थान के बाड़मेर में मोदी ने पाकिस्तान को चेतावनी दिया कि भारत के परमाणु हथियार दिवाली के लिए नहीं हैं. उन्होंने कहा, "पाकिस्तान कहता था कि हमारे पास न्यूक्लियर बटन है... तो हमारे पास क्या है... ये दिवाली के लिए रखा है क्या?"

यह भी पढ़ेंः मोदी-शाह के खिलाफ शिकायतों पर चुनाव आयोग को सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये निर्देश

कांग्रेस ने चुनाव आयोग को अपनी शिकायत में लिखा कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह 'घृणा फ़ैलाने वाले द्वेषपूर्ण भाषण' दे रहे हैं और अपने 'राजनीतिक उद्देश्यों' के लिए सेना के शौर्य का इस्तेमाल कर रहे हैं. जबकि ऐसा करने को लेकर आचार संहिता में मनाही है. चुनाव आयोग इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के ख़िलाफ़ शिकायत की सुनवाई भी कर रहा है. अमित शाह के ख़िलाफ़ 'मोदी की सेना' बोलने की शिकायत की गई है.

First Published : 02 May 2019, 04:01:31 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.