News Nation Logo
Banner

बाटला हाउस एनकाउंटर में मारे गए आतंकवादी पर सोनिया को रोना आया था, लेकिन जवानों की शहादत पर क्यों नहीं : शाह

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के कोलकत्ता में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 22 Apr 2019, 10:37:30 AM
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (बीजेपी ट्विटर)

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (बीजेपी ट्विटर)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) को लेकर राजनीतिक दलों के दिग्गज नेता एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं. इसी क्रम में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के कोलकत्ता में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, 2019 के आम चुनाव के पहले दो चरण का मतदान पूरा हो गया है. तीसरे चरण का मतदान कल होगा. देशभर से जो सूचनाएं प्राप्त हो रही उसके अनुसार देश की जनता पूरे उत्साह से मोदी जी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए उत्सुक है.

यह भी पढ़ें ः Sri Lanka Blast: होटल मैनेजर ने बताया धमाके से पहले हमलावर कर रहा था ये काम

अमित शाह ने कहा, बंगाल में भी भाजपा के पक्ष में प्रचंड बहुमत की सूचना मिल रही है. मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ पिछले पांच साल में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाया है. हमारे संकल्प पत्र में हमने इस नीति को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है, लेकिन विपक्षी पार्टियां देश की सुरक्षा के अहम मुद्दे पर चुप दिखाई देती हैं. उन्होंने आगे कहा, देश की सुरक्षा के लिए, देश के अर्थतंत्र की गाड़ी को पटरी पर लाने के लिए कठोर नेतृत्व देना का काम भाजपा ने किया है. विपक्ष के पास कोई नेतृत्व नहीं है. विपक्ष अपना न कोई नेता, न नीति देश के सामने रख पाया है.

बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा, गरीब कल्याण के लिए भाजपा की सरकार ने जो पांच साल के अंदर काम किए हैं उससे देश के 50 करोड़ लोगों को एक स्पष्ट मैसेज गया है कि बनने वाली भाजपा की सरकार गरीब कल्याण के लिए अपनी गति और अधिक तेजी से बढ़ाएगी. उन्होंने कहा, देश की आजादी के 75 साल जब होंगे यानी 2022 तक देश में एक भी व्यक्ति, एक भी परिवार ऐसा नहीं होगा जिसके पास घर, बिजली, गैस, पीने का पानी, शौचालय न हो और एक भी परिवार ऐसा नहीं होगा जिसके पास स्वास्थ्य की सुरक्षा न हो. बंगाल के वोटरों से कहा चाहूंगा की डरने की जरूरत नहीं है. पूरा गांव एक साथ वोट डालने जाए, आपकी सुरक्षा के लिए सीआपीएफ और भाजपा के कार्यकर्ता लोकतंत्र के प्रहरी बनकर खड़े हैं.

यह भी पढ़ें ः आजम खान के बाद अब उनके बेटे ने जया प्रदा पर दिया आपत्तिनजक बयान, कही ये बात

अमित शाह ने कहा, राष्ट्र की सुरक्षा के लिए भाजपा स्पष्ट नीति लाई है. चाहे आतंकवाद हो, एनआरसी हो, सिटिजन अमेंडमेंट बिल हो, चाहे धारा 370 और 35ए को हटाने की बात हो. इस सभी बातों पर हमने अपने संकल्प पत्र में स्पष्ट नीति अपनाई है. उन्होंने कहा, गरीब कल्याण के लिए भाजपा की सरकार ने जो पांच साल के अंदर काम किए हैं उससे देश के 50 करोड़ लोगों को एक स्पष्ट मैसेज गया है कि बनने वाली भाजपा की सरकार गरीब कल्याण के लिए अपनी गति और अधिक तेजी से बढ़ाएगी.

उन्होंने कहा, हम एनआरसी को देशभर में इंप्लीमेंट करेंगे. सिटिजन अमेंडमेंट बिल के माध्यम से दूसरे देशों से धार्मिक वजहों से हमारे देश में जो लोग शरणार्थी बनकर आए हैं, उन्हें नागरिकता देने की बात संकल्प पत्र में कही है. बंगाल में दो चरण के चुनाव के बाद ममता बनर्जी की बौखलाहट स्पष्ट दिख रही है. उन्हें अपनी हार दिख रही है और उसी हताशा से वो अब विपक्ष और चुनाव आयोग पर सवाल उठा रही हैं.

यह भी पढ़ें ः प्रकाश झा के इस बयान पर मच सकता है हंगामा, कहा- चुनाव के दौरान शिक्षा पर..

शाह ने कहा, बंगाल में वोटबैंक की तुष्टिकरण की राजनीति ने यहां की संस्कृति को नष्ट करने का काम किया है. पुलिस और ब्यूरोक्रेसी ने अपना रोल छोड़कर राजनेताओं का रोल ले लिया है. राजनेता मौन है, बाबू शाही बंगाल के लोकतंत्र को हड़प कर गई. उन्होंने कहा, नारदा, शारदा और सिंडिकेट राज ने बंगाल के अंदर भष्टाचार का माहौल खड़ा किया है, जिससे बंगाल की जनता त्रस्त है. हमारी रैली को बंगाल में अनुमति न देने वाली ममता दीदी की रैलियों को आज जनता अनुमति नहीं दे रही. उनकी रैलियों में भीड़ नहीं उमड़ रही है.

शाह ने कहा, जिस योजना से देश के 50 करोड़ गरीबों के इलाज के लिए 5 लाख रुपये तक का खर्चा नरेंद्र मोदी सरकार उठा रही है. उस आयुष्मान भारत योजना से बंगाल की जनता को ममता दीदी ने दूर रखा है. उन्होंने कहा, जहां तक साध्वी प्रज्ञा का सवाल है तो कहना चाहूंगा कि हिंदू टेरर के नाम से एक फर्जी केस बनाना गया था, दुनिया में देश की संस्कृति को बदनाम किया गया, कोर्ट में केस चला तो इसे फर्जी पाया गया. सवाल ये है कि स्वामी असीमानंद जी और बाकी लोगों को आरोपी बनाकर फर्जी केस बनाया तो, समझौता एक्सप्रेस में ब्लास्ट करने वाले लोग कहां है, जो लोग पहले पकड़े गए थे, उन्हें क्यों छोड़ा.

अमित शाह ने आगे कहा, चिटफंड घोटाले के सभी प्रमाण स्थानीय प्रशासन ने नष्ट कर दिये। ये लोग नहीं चाहते दोषियों को सजा मिले. भाजपा सरकार बनने के बाद चिटफंड घोटाले के जो भी दोषी हैं, उन सबको सजा दी जाएगी. उन्होंने आगे कहा, बंगाल के अंदर लोकतंत्र स्वतंत्र नहीं है. लोगों के मत का गला घोटने का काम किया जा रहा है. मैं बंगाल की जनता से अपील करने आया हूं कि जरा भी मन में भय रखे बगैर बेखौफ होकर मतदान करिए. हिंसा की एक सीमा होती है, लेकिन जब जनता तय करती है परिवर्तन करना है तो इसे कोई बदल नहीं सकता. इस बार जनता ने तय किया है कि टीएमसी को हटाना है और भाजपा को लाना है.

उन्होंने आगे कहा, चुनाव आयोग ने बंगाल में केंद्रीय सुरक्षा बलों को तैनात किया है. बंगाल फ्री एंड फेयर चुनाव की दिशा में आगे बढ़ रहा है. जब बाटला हाउस का एनकाउंटर हुआ, तब सोनिया जी को रोना आ रहा था. बाटला हाउस के आतंकवादी के मरने पर, जबकि अपना एक बहादुर पुलिस इंस्पेक्टर वाला शहीद हो गया, उनके मृत्यु पर उन्हें रोना नहीं आया. इस पर कांग्रेस को जवाब देना चाहिए.

First Published : 22 Apr 2019, 10:17:06 AM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो