News Nation Logo
Banner

Election 2019: बीजेपी, कांग्रेस से मुकाबले के लिए आप ने बनाई यह बड़ी रणनीति

इस बार के चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने 7 वॉर रूम बनाएं हैं और एक केंद्रीय वार रूम पार्टी मुख्यालय में बनाया गया है. इस वॉर रूम में 7 टीम बनाई गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 03 Apr 2019, 04:30:02 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

चुनाव की तैयारियों में जहां राष्ट्रीय दलों ने अपनी ताकत झोंकनी शुरू कर दी है. तो वहीं दूसरी ओर क्षेत्रीय पार्टियां भी अपना दम दिखाने को तैयार हैं. बीजेपी-कांग्रेस आलीशान वार रूम के ज़रिए हाई-टेक चुनाव में जुटी हैं तो आम आदमी पार्टी (आप) ने अपने दफ्तर के एक कमरे को ही वॉर रूम बना दिया है. आप के मुताबिक ये कमरा बेशक छोटा है लेकिन आम आदमी पार्टी के पूरे चुनाव का संचालन इसी कमरे से होगा.

यह भी पढ़ें: आप से गठबंधन न होने पर अजय माकन ने लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार : सूत्र

इस बार के चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने 7 वॉर रूम बनाएं हैं और एक केंद्रीय वार रूम पार्टी मुख्यालय में बनाया गया है. इस वॉर रूम में 7 टीम बनाई गई है. ये चुनाव सोशल मीडिया के लिहाज से बड़ा चुनाव होगा इसलिए पहली टीम सोशल नेटवर्किंग का काम देखेगी. दूसरी टीम मीडिया मैनेजमेंट के काम को संभालेगी. वहीं तीसरी टीम लीगल की बनाई गई है जो कि आचार सहिंता के उल्लंघन के मामलों पर नज़र रखेगी. चौथी टीम चुनाव के प्रबंधन के लिहाज से बनाई गई है जो शहरभर में होने वाली रैलियों, सभाओं और कार्यक्रमों का प्रबंधन करेगी. 5वीं टीम नुक्कड़ सभाओं को लेकर बनाई गई है. छठी टीम बूथ मैनेजमेंट के लिए काम करेगी और एक टीम पूरे वॉर रूम में चल रहे काम की निगरानी के लिए बनाई गई है.

यह भी पढ़ें: चुनावी हलचल LIVE: जहां हुए बलिदान मुखर्जी, वह कश्मीर हमारा है: अमित शाह

आम आदमी पार्टी के वॉर रूम में 20 लोगों की एक टीम होगी, जिनमें 3 महिलाएं और 6 इंजीनियर होंगे. इसके साथ ही 5 पोस्टग्रेजुएट और एक पीएचडी भी होगा. इस वॉर रूम का नजारा किसी कॉर्पोरेट दफ्तर जैसा रहता है. लैपटॉप पर जुटे कई लोग लगातार लैंडलाइन फोन से भी कनेक्ट रहते हैं. महत्वपूर्ण फोन नंबर और पूर्ण राज्य के लिए पंचलाइन पर काम करना इनकी रणनीति का हिस्सा हैं.

यह भी पढ़ें: मनोज तिवारी का बयान, कहा आम आदमी पार्टी और कांग्रेस एक हैं

2019 के लोकसभा चुनावों में सबसे बड़ी चुनौती चुनाव से पहले सोशल मीडिया वॉर जीतना भी है. फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल साइट्स के ज़रिए फेक वीडियो और संदेशों को फैला कर दूसरी पार्टियों को चुनाव में कमजोर करने का काम जोरों पर है. आम आदमी पार्टी इससे निपटने के लिए पूरे चुनाव के दौरान "सावधान" नाम से एक अभियान सोशल मीडिया पर चलाएगी. साथ ही अपनी उपलब्धियों को गिनाने के लिए और पूर्ण राज्य के मुद्दे को भी सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों तक पहुंचाने के लिए कैंपेन बनाया जा रहा है. इस वॉर रूम से ही 70 विधानसभाओं से कॉर्डिनेशन करने का काम भी किया जाएगा.

First Published : 03 Apr 2019, 04:29:54 PM

For all the Latest Elections News, General Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो