logo-image
लोकसभा चुनाव

Lok Sabha Election: Amit Shah ने विपक्ष की सीटों को लेकर किया बड़ा दावा, कहा- मेरे पास हैं पांच चरणों के आंकड़े

Amit Shah Kushinagar Rally: अमित शाह ने कुशीनगर में जनसभा को करते हुए किया बड़ा दावा, बोले 4 जून को राहुल बाबा की पार्टी 40 भी पार नहीं कर सकेगी. सपा को लेकर ये कहा.

Updated on: 27 May 2024, 07:00 PM

नई दिल्ली:

Amit Shah Kushinagar Rally: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा चुनाव के लिए यूपी के कुशीनगर में एक जनसभा संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने दावा किया कि राहुल गांधी की पार्टी 40 भी पार नहीं कर सकेगी. इस दौरान अमित शाह ने कहा, अखिलेश यादव की सपा पार्टी यूपी में 4 सीट लेकर भी नहीं आ पाएगी. अमित शाह ने कहा, छह चरण का मतदान खत्म हो चुका है. उनके पास पांच चरणों के आंकड़े सामने आ गए हैं. 5 चरण में भाजपा 310 सीटें पार कर चुकी है. छठवां चरण हो चुका है. सातवां होने वाला है. उन्होंने जनता से अपील की अब आपको 400 पार कराना है.

हार के बाद EVM को ठहराया जाएगा जिम्मेदार- शाह

शाह का कहना है कि 4 जून को पीएम मोदी की जीत तय है. भाजपा और NDA की जीत तय है. शाह ने कहा, 4 जून की दोपहर को आप देख लेना कि राहुल बाबा के लोग प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इसके बाद वे कहने लगेंगे कि EVM के कारण हम हार गए हैं. वहीं हार का ​ठीकरा खड़गे साहब पर फूटने वाला है. 

ये भी पढ़ें: Explainer: मोदी के गढ़ में BJP ने झोंकी ताकत, प्रचार में दिग्गजों को उतारा, जानें- वाराणसी लोकसभा सीट का हाल

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि वह आज बहन मायावती और अखिलेश यादव से पूछना चाहते हैं. कुशीनगर 'चीनी का कटोरा' नाम से मशहूर था. मगर आपके समय में 5-6 चीनी मिलें बंद हो चुकी हैं. वहीं हमारी सरकार के वक्त 20 चीनी मिलों को चालू करने का काम किया है.  

आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष को घेरा

अमित शाह ने कहा, ये (घमंडिया गठबंधन) झूठ के आधार पर जीने वाले लोग हैं. शाह ने कहा, ये मुस्लिम आरक्षण की बात करते हैं. अगर गलती से भी ये जीत गए, तो पिछड़ा, अति पिछड़ा और दलित का आरक्षण छीनकर ये मुसलमानों को देने का काम करेंगे. 

सीधा खामियाजा पिछड़े वर्ग को भुगतना पड़ता है

उन्होंने कहा, इंडी गठबंधन ने कर्नाटक और हैदराबाद में जो किया है. बंगाल में भी वही किया था. वहां (बंगाल) हाईकोर्ट ने इस पर पाबंदी लगा दी. मुस्लिम आरक्षण को संविधान के अनुरूप नहीं माना गया है. अपने वोटबैंक को लेकर ये मुस्लिम आरक्षण की बात करते हैं. इसका सीधा खामियाजा पिछड़े वर्ग को भुगतना पड़ता है.