News Nation Logo
Banner

रोचक तथ्‍य: यहां केवल एक वोटर के लिए बनाया गया है पोलिंग स्‍टेशन और भी हैं Interesting Facts

देश की 543 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में इस बार वोट डाले जाएंगे. पहला चरण 11 अप्रैल को है और अंतिम चरण 19 मई को. मतगणना 23 मई को होगी

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 11 Apr 2019, 06:47:00 AM
प्रतिकात्‍मक चित्र

प्रतिकात्‍मक चित्र

नई दिल्‍ली:

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में गुरुवार यानी 11 अप्रैल को वोटिंग होगी. पहले चरण में जिन 20 राज्यों में वोटिंग होगी, उसमें दो केंद्र शासित प्रदेश भी शामिल हैं. पहले चरण की 91 सीटों पर कुल 1279 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इन उम्मीदवारों में महिलाओं का आंकड़ा सिर्फ 89 है.बता दें पहले चरण में साल 2014 के लोकसभा चुनाव में 72.12 फीसदी वोटिंग हुई थी. 9 अप्रैल 2019 तक इन 91 सीटों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 रैलियां और कांग्रेसअध्यक्ष राहुल गांधी ने 29 रैलियां की हैं. एक 

लोकसभा चुनाव 2019 के महत्‍वपूर्ण तथ्‍य

देश की 543 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में इस बार वोट डाले जाएंगे. पहला चरण 11 अप्रैल को है और अंतिम चरण 19 मई को. मतगणना 23 मई को होगी

इस बार करीब 90 करोड़ वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. यह लगभग पूरे यूरोप और ब्राजील की कुल जनसंख्‍या के बराबर है. पिछली बार से इस बार 10 फीसद वोटर अधिक हैं.

करीब 43.2 0 महिला वोटर हैं और करीब डेढ़ करोड़ वोटर 18-19 वर्ष के बीच के हैं. पहले फेज में 1275 उम्‍मीदवार 91 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. इनमें 7 फीसद महिलाएं हैं

पिछले लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस बार 10 फीसद ज्‍यादा पोलिंग स्‍टेशन बनाए गए हैं. इस बार करीब 10 लाख पोलिंग स्‍टेशन हैं.कोई भी वोटर इस बार वोट देने के लिए 2 किलोमीटर से ज्‍यादा दूरी तय नहीं करेगा. यानी पोलिंग स्‍टेशन दो किलोमीटर के दायरे में है. गुजरात के गिर जंगल में केवल एक वोटर के लिए पोलिंग स्‍टेशन बनाया गया है.

यह भी पढ़ेंः पहले चरण के लोकसभा चुनाव के बारे में जानें सबकुछ यहां, बस एक Click पर

करीब एक करोड़ 10 लाख चुनाव अधिकारी और चुनावकर्मी पैदल, सड़क, रेल, विशेष ट्रेनों, हेलीकॉप्‍टर आदि से चुनाव कराने जाएंगे.करीब 80000 पोलिंग स्‍टेशन दुर्गम इलाकों में हैं जहां मोबाइल नेटवर्क भी ठीक नहीं है. घोर जंगली इलाकों में स्‍थित 20000 ऐसे पोलिंग स्‍टेशनों का पिछले साल आयोग ने सर्वे कराया था.

कुल 39 दिन चलने वाले इस लोकतंत्र के महा उत्‍सव में लाखों सुरक्षा जवान लगाए गए हैं. 2014 के चुनाव करीब 3870 करोड़ रुपये खर्च हुए थे और इसबार यह आंकड़ा 5000 करोड़ तक पहुंच सकता है.चुनाव आयोग अब तक 5.1 बिलियन रुपये कैश, 7.2 billon मूल्‍य के 21,500 kg ड्रग्‍स और करीब 9 लाख लीटर शराब जब्‍त कर चुका है. पिछली बार 18 लाख electronic voting machines (EVM)का प्रयोग हुआ था. (Source: reuters)

कुछ और तथ्‍य

  • पूर्वी सिक्किम के नाथंग वैली में महज 180 वोटरों के लिए 13,500 फीट की ऊंचाई पर दो पोलिंग बूथ तैयार किये जाएंगे.
  • नाथंग के माचोंग में वोटर्स सिक्किम विधानसभा और लोकसभा के लिए 11 अप्रैल को वोट डालने वाले हैं.
  • भारत-चीन सीमा के करीब स्थित नाथंग वैली वर्तमान में करीब एक इंच मोटी बर्फ की चादर से ढंकी हुई है
  • देश में हो रहे आम चुनाव के लिए जम्मू-कश्मीर के लेह में एक ऐसा मतदान केंद्र है जहां सबसे कम मतदाता हैं.
  • लद्दाख संसदीय क्षेत्र के लेह विधानसभा में गाइक गांव में एक मतदान केंद्र बनाया गया है, जहां सबसे कम केवल 12 मतदाता हैं.

First Published : 10 Apr 2019, 06:44:12 PM

For all the Latest Elections News, Interesting facts News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो