News Nation Logo
Banner

पांचवां चरण: गांधी परिवार की साख बचेगी या जाएगी, अमेठी और रायबरेली में नाक की लड़ाई

2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली को छोड़कर बीजेपी ने 14 में से 12 सीटें जीती थीं. जबकि 2009 के चुनाव में कांग्रेस ने इनमें से 7 सीटों पर जमाया था कब्जा.

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 01 May 2019, 01:46:48 PM

नई दिल्‍ली:

पांचवें चरण (Lok Sabha Election 5th Phase) में उत्‍तर प्रदेश की जिन 14 लोकसभा सीटों पर 6 मई को मतदान होगा उसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) , उनकी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Soniya Gandhi) , जितिन प्रसाद (Jitin Prasad) की साख जहां दांव पर होगी वहीं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) की भी अग्‍नि परीक्षा होगी. 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली को छोड़कर बीजेपी ने 14 में से 12 सीटें जीती थीं. जबकि 2009 के चुनाव में कांग्रेस ने इनमें से 7 सीटों पर जमाया था कब्जा. इस बार कांग्रेस को धौरहरा, बाराबंकी, फैजाबाद, सीतापुर से काफी उम्मीद है.

यह भी पढ़ेंः पांचवें चरण के लोकसभा चुनाव में पूनम सिन्हा सबसे अमीर उम्मीदवार : ADR

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में वैसे तो देशभर में केवल 51 सीटों पर 6 मई को वोट डाले जाएंगे लेकिन उत्‍तर प्रदेश की बात करें तो यह चरण पिछले 4 फेजों से बड़ा होगा. धौरहरा, सीतापुर, मोहनलाल गंज, लखनऊ, राय बरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी, बाराबंकी, फैजाबाद, बहराइच, कैसरगंज, गोंडा सीट पर मतदान होगा. इस फेज में कांग्रेस के दिग्गजों की प्रतिष्‍ठा दांव पर है. इनमें पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, उनकी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, जितिन प्रसाद, निर्मल खत्री और तनुज पूनिया प्रमुख हैं. कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने पांचवें चरण पर खास तौर से जोर लगाया है और उन्होंने उन सभी सीटों पर प्रचार किया जहां पार्टी को 2014 के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है.

यह भी पढ़ेंः Loksabha Election 2019 : नमो नमो की होगी छुट्टी, जय भीम आने वाले : मायावती

लखनऊ भी इन चुनावों में पूनम सिन्हा के शामिल होने के बाद से हॉट सीट बन गई है. जहां वर्तमान गृहमंत्री राजनाथ सिंह बीजेपी के टिकट पर मैदान में हैं वहीं महागठबंधन से शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को उम्मीदवार बनाया गया है. कांग्रेस से आचार्य प्रमोद ताल ठोक रहे हें. 

यह भी पढ़ेंः Lok Sabha Election 2019: 5वें चरण के चुनाव में BJP का ये नेता है तीसरा सबसे धनी प्रत्‍याशी

कांग्रेस के लिए यह चरण भी मुश्‍किलों भरा है. अमेठी में जहां राहुल गांधी को बीजेपी की स्‍मृति ईरानी कड़ी टक्‍कर दे रही हैं तो वहीं अन्‍य सीटों पर एसपी-बीएसपी-आरएलडी का गठबंधन राह में कांटा बन रहा है. 2014 के लोकसभा चुनाव में इन 14 में से 10 सीटों पर एसपी या बीएसपी के कैंडिडेट दूसरे नंबर पर रहे थे. कई सीटों पर एसपी-बीएसपी का सम्मिलित वोट शेयर बीजेपी उम्मीदवारों से ज्यादा था.

First Published : 01 May 2019, 01:35:54 PM

For all the Latest Elections News, Election Analysis News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो