News Nation Logo
Banner

तृणमूल कांग्रेस अपने 10 साल के रिपोर्ट कार्ड से घबराई हुई है : कैलाश चौधरी

कैलाश चौधरी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता भारतीय जनता पार्टी को इस चुनाव में ऐतिहासिक विजय दिलाने का मन बना चुकी है. इससे बंगाल की जनता के लिए केंद्र सरकार की सभी योजनाओं से लाभान्वित होने का मार्ग प्रशस्त होगा.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 06 Apr 2021, 04:39:00 AM
tcm

तृणमूल कांग्रेस अपने 10 साल के रिपोर्ट कार्ड से घबराई हुई है (Photo Credit: @Wikipedia)

highlights

  • बंगाल में तीसरे चरण के लिए मतदान मंगलवार को
  • 'बंगाल की जनता बीजेपी को विजय दिलाने का मन बना चुकी है'
  • 31 विधानसभा क्षेत्रों के 78,52,425 मतदाता 6 अप्रैल को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे

कोलकाता:

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने सोमवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस अपने 10 साल के रिपोर्ट कार्ड को लेकर घबराई हुई है क्योंकि इससे उसकी हार सुनिश्चित है. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में पुराने उद्योग बंद हो चुके हैं और नए उद्योग, नये निवेश, नये बिजनेस और व्यापार की संभावनाएं भी बंद हो गई हैं, इसलिए प्रदेश के लोग तृणमूल कांग्रेस सरकार से नाराज हैं. कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी बीते करीब एक महीने से पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. वह सोमवार को पश्चिम बंगाल के बसंती विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रमेश मांझी के समर्थन में आयोजित एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस मौके पर बंगाल में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राजस्थान विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ एवं अन्य भी मौजूद थे.

कैलाश चौधरी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता भारतीय जनता पार्टी को इस चुनाव में ऐतिहासिक विजय दिलाने का मन बना चुकी है. इससे बंगाल की जनता के लिए केंद्र सरकार की सभी योजनाओं से लाभान्वित होने का मार्ग प्रशस्त होगा.

बंगाल में तीसरे चरण के लिए मतदान मंगलवार को

बता दें कि पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण के दौरान तीन जिलों में फैले 31 विधानसभा क्षेत्रों के 78,52,425 मतदाता 6 अप्रैल को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. उस वक्त सबकी नजरें तीन महिलाओं पर होंगी - अंतरा आचार्य, मुक्ता आर्य और दीपा प्रिया पी. तीनों महिलाएं क्रमश: दक्षिण 24 परगना, हावड़ा और हुगली की जिलाधिकारी हैं, जो राज्य में सबसे महत्वपूर्ण चुनावों में से एक का संचालन करेंगी.

राज्य के एक वरिष्ठ चुनाव अधिकारी ने बताया कि "जब चुनाव आयोग महिला मतदाताओं को आगे आने और लोकतंत्र के सबसे बड़े त्योहार में भाग लेने के लिए प्रेरित कर रहा है तो यह अद्वितीय है कि मतदान के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी (डीईओ) के रूप में काम करने वाले तीनों जिलाधिकारी महिलाएं हैं. इससे महिलाओं का आत्मविश्वास बढ़ेगा और उन्हें मतदान प्रक्रिया में भाग लेने के लिए उत्साहित करेगा."

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Apr 2021, 04:39:00 AM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो