News Nation Logo

लखनऊ कैंट उपचुनावः बीजेपी ने अपने पुराने सिपाही तो विपक्ष ने नए चेहरों पर लगाया दांव

समाजवादी पार्टी ने यहां से मेजर आशीष चतुर्वेदी, कांग्रेस ने दिलप्रीत सिंह और बहुजन समाज पार्टी ने अरुण द्विवेदी को टिकट दिया है.

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 03 Oct 2019, 05:44:21 PM
प्रतीकात्‍मक चित्र

नई दिल्‍ली:  

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के 11 विधानसभा सीटों (Assembly Seats) पर होने वाले उपचुनाव (Bypoll) में इस बार योगी सरकार की अग्‍नि परीक्षा है तो वहीं पीएम मोदी के 5 महीने के काम का भी आंकलन वोट के जरिए जनता करेगी. उपचुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होगा और 24 अक्टूबर को नतीजे घोषित होंगे. इन 11 विधानसभा सीटों में से रामपुर की सीट सपा और जलालपुर की सीट बसपा के पास थी और बाकी सीटों पर बीजेपी का कब्जा था.

बीजेपी का गढ़ मानी जाने वाली लखनऊ की कैंट (Lucknow Cantt assembly) विधानसभा पर बीजेपी ने इस बार अपने तीन बार के विधायक सुरेश चंद्र तिवारी को चुनाव मैदान में उतारा है. वहीं, विपक्षी दलों ने इस बार नए चेहरों पर दांव लगाया है. समाजवादी पार्टी ने यहां से मेजर आशीष चतुर्वेदी, कांग्रेस ने दिलप्रीत सिंह और बहुजन समाज पार्टी ने अरुण द्विवेदी को टिकट दिया है.

2017 के विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनाव का हाल

पिछले विधानसभा चुनाव में कैंट (Lucknow Cantt assembly) विधानसभा सीट से बीजेपी की टिकट पर रीता बहुगुणा जोशी ने जीत हासिल की थी. प्रयागराज से उनके सांसद चुने जाने के बाद यह सीट खाली हुई है. 2017 में रीता जोशी ने इस सीट पर मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव को हराया था.

यह भी पढ़ेंः उत्‍तर प्रदेश उपचुनावः यहां पीएम मोदी की सुनामी भी नहीं कर पाई असर

2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी को कुल 95402 वोट मिले थे, जबकि समाजवादी पार्टी की अपर्णा यादव को 61606 वोट मिले थे. लखनऊ कैंट (Lucknow Cantt assembly) विधानसभा क्षेत्र में कुल 3,85,341 मतदाता हैं. इनमें से 2,09,870 पुरुष और 1,75,447 महिलाएं शामिल हैं.

विधानसभा चुनाव 2017 उम्‍मीदवार वोट Votes % दल
2014 लोकसभा में मिले वोट
लखनऊ कैंट डॉ रीता जोशी 95,402 50.90% बीजेपी 118004
अपर्णा यादव 61,606 32.90% एसपी 46042
योगेश दीक्षित 26,036 13.90% बीएसपी ----
वीरेंद्र कुमार 720 0.40% रालोद ----

जहां तक 2019 के लोकसभा चुनाव की बात करें तो बीजेपी के उम्‍मीदवार राजनाथ सिंह को इस क्षेत्र से 118004 वोट मिले थे. सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के उम्‍मीदवार को महज 46042 वोटों से संतोष करना पड़ा. अब इस उपचुनाव में जहां मोदी 2.0 सरकार के पिछले 5 महीने में किए गए कार्यों की जहां जनता वोटों की कसौटी पर कसेगी तो वहीं विपक्ष प्रदेश में कानून व्‍यवस्था का मुद्दा उठा सकता है.

यह भी पढ़ेंः Exclusive: 6 प्रांतों में बंटा है बीजेपी (BJP) और आरएसएस ( RSS) का 'उत्‍तर प्रदेश' 

बता दें यूपी में 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं. इनमें रामपुर, सहारनपुर की गंगोह, घोसी, अलीगढ़ की इगलास, लखनऊ कैंट (Lucknow Cantt assembly) , बाराबंकी की जैदपुर, चित्रकूट की मानिकपुर, बहराइच की बलहा, प्रतापगढ़, गोविंद नगर और अंबेडकरनगर की जलालपुर सीट शामिल है. इन 11 विधानसभा सीटों में से रामपुर की सीट सपा और जलालपुर की सीट बसपा के पास थी और बाकी सीटों पर बीजेपी का कब्जा था.

First Published : 03 Oct 2019, 05:44:21 PM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.