logo-image
लोकसभा चुनाव

जानें कौन हैं सिक्किम के इकलौते विपक्षी विधायक, SKM की आंधी में भी डटकर खड़े रहे तेनजिंग नोरबू लाम्था

Sikkim Assembly Election Results 2024: सिक्किम में एक बार फिर से एसकेएम ने सत्ता में वापसी कर ली है. सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने राज्य की 32 में से 31 सीटें जीत ली हैं. इस बीच सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (SDF) के एक मात्र विजयी प्रत्याशी तेनजिंग नोरबू लाम्था की चर्चा हो रही है.

Updated on: 02 Jun 2024, 02:45 PM

New Delhi:

Sikkim Assembly Election Results 2024: सिक्किम विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं. राज्य में एक बार फिर से सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (SKM) ने वापसी कर ली है. अब तक के चुनावी नजीतों के मुताबिक, राज्य की 32 विधानसभा सीटों में से सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने 29 सीटें जीत ली हैं जबकि एक सीट पर अब भी बढ़त बनाए हुए हैं. वहीं एक सीट पर सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (SDF) ने जीत दर्ज की है. ऐसे में ये जानना बेहद जरूरी हो जाता है कि सिक्किम में एसकेएम की आंधी के बीच एसडीएफ का ऐसा कौन सा उम्मीदवार है जो डलकर खड़ा रहा और 32 सदस्यी विधानसभा में वह विपक्ष का इकलौता नेता होगा.

ये भी पढ़ें: दिल्ली से मेरठ का सफर होगा महंगा, एक्सप्रेसवे पर बढ़ गया टोल चार्ज, अब खर्च करनी होगी इतनी रकम

जानें कौन हैं तेनजिंग नोरबू लाम्था

सिक्किम विधानसभा चुनाव में विपक्ष के जिस एक मात्र विधायक ने जीत दर्ज की है उनका नाम तेनजिंग नोरबू लाम्था है. तेनजिंग नोरबू लाम्था राज्य की श्यारी विधानसभा सीट से सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के टिकट पर चुनावी मैदान में थे. तेनजिंग ने अपने नजदीकी प्रतिद्वंद्वी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा के कुंगा नीमा लेप्चा को 1314 वोटों से मात दी है. बता दें कि लाम्था एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं. अपने सामाजिक काम के चलते ही उन्होंने राज्य सरकार की नौकरी से इस्तीफा दे दिया था.

ये भी पढ़ें: Janadesh 2024: दक्षिण भारत में चला मोदी का जादू, कर्नाटक को छोड़ बाकी प्रांतों में बढ़ीं सीटें, चौंकाने वाले हैं ये आंकड़ें!

लाम्था ने दिल्ली से की है पढ़ाई

49 साल के तेनजिंग नोरबू लम्था ने दिल्ली से पढ़ाई की है. उनके पिता का नाम कुन्जांग नामग्याल लम्था और मां का नाम देन लामु लम्था है. उनका परिवार गांव से जुड़ा है. उनके पिता काबी लुंगचोक गांव के रहने वाले थे, जबकि उनकी मां भुसुक गांव से थीं. तेनजिंग ने स्कूली शिक्षा के बाद दिल्ली स्थित पूसा इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में एडमिशन लिया. जहां से उन्होंने इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया. साल 1992 में वह सिक्किम के रोड एंड ब्रिज डिपार्टमेंट में बतौर जूनियर इंजीनियर नियुक्त हुए थे.

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी बोले- सिद्धू मूसेवाला के इस गाने में छिपा है INDIA गठबंधन की सीटों की संख्या का राज

साल 2018 में छोड़ दी सरकारी नौकरी

सरकारी नौकरी के बीच तेनजिंग नोरबू लाम्था सामाज सेवा से जुड़ गए. उसके बाद साल 2018 में उन्होंने सरकारी नौकरी से इस्तीफा दे दिया. इसके साथ ही वह सक्रिय राजनीति में आ गए. उन्होंने राजनीति की शुरुआत सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के साथ की. पार्टी ने उन्हें साल 2024 के विधानसभा चुनाव में राज्य की श्यारी विधानसभा सीट से टिकट दिया. इस सीट से उन्होंने एसकेएम की प्रचंड आंधी के बाद भी जीत दर्ज की है. निर्वाचन आयोग में दायर चुनावी हलफनामे के अनुसार, तेनजिंग नोरबू लम्था की कुल घोषित संपत्ति 58.3 करोड़ रुपये है.

जिसमें 1.2 करोड़ रुपये चल संपत्ति और 57.1 करोड़ रुपये अचल संपत्ति भी शामिल है. चुनावी हलफनामे के मुताबिक, उनकी कुल घोषित आय 1.3 करोड़ रुपये है, जिसमें 1.3 करोड़ रुपये उनके खुद की है. वहीं उनपर कुल 23.2 करोड़ रुपये की देनदारी है. वहीं उनके ऊपर कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है. तेनजिंग की पत्नी डोमा लाडिंग्पा का निधन हो चुका है. उनका सिर्फ एक बेटा है जिसका नाम रिग्पीया वानचंक लाम्था है.